महत्वाच्या घडामोडी
मुंबई मेट्रो रेल्वे मार्ग २ए आणि ७ वर डायनॅमिक आणि धावण्याच्या चाचणीला प्रत्यक्ष सुरुवात            १० वर्षांखालच्या मुलांना कोविड-१९ चा फारसा धोका नाही -डॉ. प्रिया अब्राहम            देशात कोरोनाचे निर्बंध शिथिल केले असले, तरी दक्ष राहण्याचे केंद्रीय गृहमंत्रालयाचे निर्देश            राज्यात ३० ते ४४ वयोगटातल्या नागरिकांच्या लसीकरणाला आजपासून सुरुवात            यंदापासून अभियांत्रिकी पदविका अभ्यासक्रमासाठी मराठी माध्यमाचा पर्याय           


समाचार प्रभात

0800 HRS
11.06.2021

मुख्य समाचारः -

  • जी-7 देशों के नेताओं ने विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन से कोरोना वायरस की उत्‍पत्ति की नए सिरे से पारदर्शी जांच कराने की मांग की।

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी शनिवार और रविवार को वर्चुअल माध्‍यम से जी-7 शिखर सम्‍मेलन में हिस्‍सा लेंगे।

  • महिला और बाल विकास मंत्रालय ने लोगों से अपील की कि वे कोरोना के कारण अनाथ और संकटग्रस्‍त बच्‍चों के बारे में सोशल मीडिया पर सूचना साझा न करे।

  • कर्नाटक सरकार ने कोरोना संक्रमण में कमी को देखते हुए राज्‍य के 19 जिलों में प्रतिबंधों में ढील की घोषणा की।

  • झारखण्‍ड सरकार ने दसवीं और बारहवीं की बोर्ड परीक्षा रद्द की।

  • देश में अब तक 24 करोड 58 लाख कोरोना रोधी टीके लगाए गए।

  • भारत के ऑर्गेनिक कृषि उत्‍पादों के निर्यात में वर्ष 2020-21 में 51 प्रतिशत की बढोतरी।

  • पाकिस्तान की नेशनल असेम्‍बली ने भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को उच्च न्यायालयों में अपील करने की अनुमति देने वाला विधेयक पारित किया।

  • भारत के नीरज चौपडा ने सीड्डेडी लिस्‍बोआ में भाला फेंक प्रतियोगिता में स्‍वर्ण पदक जीता।  

  • जुलाई में श्रीलंका में होने वाले 6 मैचों की क्रिकेट श्रृंखला में शिखर धवन भारतीय टीम के कप्‍तान होंगे। 

......................

कई राज्‍यों में कोरोना लॉकडाउन में राहत दी जा रही है। ऐसे में आपसे अपील है कि कोविड महामारी के प्रति कोई भी लापरवाही न बरतें। जब तक आवश्‍यक न हो, घर से बाहर न निकलें और इन आसान उपायों का पालन कर सुरक्षित रहें।

मास्‍क लगायें।

दो गज की सुरक्षित दूरी बनाये रखें।

बार-बार हाथ धोएं, चेहरा साफ रखें।

और टीका अवश्‍य लगवाएं

कोविड से संबंधित जानकारी और मार्गदर्शन के लिए राष्‍ट्रीय हेल्‍पलाइन काम कर रहीं हैं। इनके नंबर हैं- 011-2 3 9 7 8 0 4 6 और 1075

......................

ब्रिटेन में जी-7 शिखर सम्मेलन में भाग ले रहे नेता मांग करेंगे कि विश्व स्वास्थ्य संगठन को कोरोना वायरस की उत्पत्ति के बारे में नए सिरे से पारदर्शी जांच करवानी चाहिए। शिखर बैठक की विज्ञप्ति के मसौदे में यह भी कहा गया है कि जी-7 के सदस्य देश दुनियाभर के देशों को कोरोना वायरस से बचाव की एक अरब डोज उपलब्ध कराएंगे। जी-7 के सदस्य देशों- कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, ब्रिटेन और अमरीका के नेता आज से शुरू हो रहे तीन दिन के शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे। भारत ने 28 मई को कोरोना वायरस की उत्पत्ति के बारे में और जांच कराने के प्रस्ताव का समर्थन किया था। इससे पहले अमरीकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने अपने देश की खुफिया एजेंसियों से कहा था कि कोरोना वायरस की उत्पत्ति के बारे में सटीक निष्कर्ष पर पहुंचने के लिए सूचना इकट्ठा करने के प्रयास तेज करें।

......................

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल 12 और 13 जून को जी-7 शिखर सम्‍मेलन में वर्चुअल माध्‍यम से भाग लेंगे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने कल नई दिल्‍ली में मीडिया को शिखर सम्‍मेलन की जानकारी देते हुए बताया कि वर्तमान में ब्रिटेन जी-7 समूह की अध्‍यक्षता कर रहा है।

ब्रिटेन ने जी-7 के अध्‍यक्ष के रूप में चार प्राथमिकता वाले क्षेत्रों की पहचान की है। इनमें - कोरोना वायरस से निपटने के वैश्विक प्रयासों की अगुवाई करना तथा भविष्‍य में ऐसी महामारियों से निपटने के लिए सुदृढ़ ढांचा विकसित करना, समृद्ध भविष्‍य के लिए मुक्‍त व्‍यापार को बढावा देना, जलवायु परिवर्तन से निपटने के तरीके ढूंढने के साथ पृथ्‍वी के पारिस्थितिकी तंत्र को संरक्षित रखना तथा एक खुले समाज में साझा मूल्‍यों को संजोना शामिल है।

बैठक में विशेष रूप से वैश्विक स्‍तर पर कोरोना महामारी से निपटने के बारे में परस्‍पर विचार-विमर्श करना तथा स्‍वास्‍थ्‍य सेवा और जलवायु परिवर्तन पर विशेष ध्‍यान देना शामिल है।

......................

भारत अपने नागरिकों के लिए चीन आने-जाने की सुविधा बहाल किए जाने के लिए वहां की सरकार से लगातार सम्‍पर्क में है। यह सुविधा विशेष रूप से उन लोगों के लिए शुरू की जानी है, जो चीन में काम करते हैं या वहां पढ़ाई कर रहे हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने बताया कि चीन के नागरिकों को भारत आने की अनुमति है। ऐसे में भारतीय नागरिकों को भी चीन जाने की सुविधा मिलनी चाहिए। 

पिछले साल नवम्‍बर से ही चीन ने भारतीय नागरिकों को वीजा देना बंद किया हुआ है। इस साल मार्च में चीन के दूतावास ने अधिसूचना जारी कर कहा था कि जो लोग चीन में निर्मित टीका लगवायेंगे उन्‍हें वीजा दिया जाएगा। कई लोगों ने ऐसे टीके लगवाये लेकिन इसके बावजूद उन्‍हें चीन का वीजा जारी नहीं किया गया है। श्री बागची ने कहा कि उम्‍मीद की जाती है कि चीन की ओर से तय नियमों का पालन करने वाले भारतीय नागरिकों को जल्‍द ही वीजा मिल सकेगा।

......................

पाकिस्तान की नेशनल असेम्‍बली ने भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव को दोषी ठहराये जाने के खिलाफ उच्च न्यायालयों में अपील करने की अनुमति देने वाला विधेयक पारित कर दिया है। विधेयक में अंतरराष्‍ट्रीय न्‍यायालय के निर्णय के अनुपालन में मामले की समीक्षा और पुनर्विचार के अधिकार का प्रावधान है। 21 सदस्‍यीय स्‍थायी समिति के अनुमोदन के बाद विधेयक को नेशनल असेम्‍बली द्वारा पारित कर दिया गया। इसे अंतर्राष्‍ट्रीय न्‍यायालय (समीक्षा और पुनर्विचार) अधिनियम का नाम दिया गया है। इससे पहले कुलभूषण जाधव मामले में अंतर्राष्‍ट्रीय न्‍यायालय की व्‍यवस्‍था को देखते हुए पाकिस्‍तान सरकार ने नेशनल असेम्‍बली में एक अध्‍यादेश पेश किया था। अधिनियम तत्‍काल प्रभाव से समूचे पाकिस्‍तान पर लागू होगा। विधेयक के कानून बनने के बाद कोई भी विदेशी नागरिक स्‍वयं या अपने अधिकृत प्रतिनिधि अथवा उसके देश के वाणिज्‍य दूतावास के अधिकारी के माध्‍यम से अपने मामले की समीक्षा और पुनर्विचार के लिए किसी उच्‍च न्‍यायालय में अपील कर सकेगा। 

......................

विदेश मंत्री डॉक्टर एस जयशंकर ने सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमारात, कुवैत, ओमान, कतर और बहरीन में भारतीय राजदूतों के साथ सार्थक बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में इन देशों में रह रहे भारतीय समुदाय के लोगों के कल्याण और कोविड के कारण बिछड़े परिवारों को मिलने के उपायों पर चर्चा हुई। कोविड महामारी के कारण खाड़ी देशों को छोड़कर चले गए भारतीय पेशेवरों की जल्द वापसी पर भी बातचीत हुई। प्रवासी भारतीयों की सहायता के क्रम में खाड़ी देशों के लिए विमान सेवा बहाल करने के मुद्दे पर भी बैठक में विचार-विमर्श हुआ।

......................

विदेश मंत्रालय ने कहा है कि पिछले सप्‍ताह झारखंड के बोकारो से जब्‍त की गई सामग्री, यूरेनियम और रेडियोधर्मी नहीं हैं। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने कल कहा कि बोकारो से संदिग्‍ध सामग्री जब्‍त किए जाने से संबंधित पाकिस्‍तान के विदेश मंत्रालय का बयान, भारत की छवि को जानबूझकर खराब करने का एक प्रयास है।

......................

म्यामां के सेनाधिकारियों ने बर्खास्त नेता आंग सांग सू की पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है। सू ची पर अब तक का यह सबसे गंभीर आरोप है। सेना ने आरोप लगाया कि सू ची ने रिश्वत के रूप में नकद और सोना लिया। यदि वे दोषी पाई गई तो उन्हें 15 साल की जेल हो सकती है। सू ची पर वाकी टाकी के अवैध आयात और जनता को भड़काने से जुड़े छह अन्य आरोप भी लगाए गए हैं। म्यामां की पूर्व राष्ट्रीय सलाहकार आंग सांग सू ची को सैनिक विद्रोह के बाद पहली फरवरी को गिरफ्तार किया गया था। तब से वे नजरबंद हैं और उनके बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आ रही है।

......................

महिला और बाल कल्याण मंत्रालय ने लोगों से अनुरोध किया है कि अनाथ या संकट में फंसे बच्चों के बारे में सोशल मीडिया पर कोई सूचना साझा न करें, क्योंकि इससे बच्चों के जीवन के लिए खतरा हो सकता है। मंत्रालय ने कहा है कि ऐसी कोई भी सूचना चाइल्डलाइन हेल्‍पलाइन नम्‍बर 1098 पर दर्ज कराई जा सकती है। कोविड से ग्रस्त या इस महामारी का अस्पतालों में उपचार करा रहे माता-पिता के बच्चों को भारी संकट का सामना करना पड़ रहा है। कुछ बच्चों के माता-पिता महामारी का शिकार हो चुके हैं। ऐसे अनाथ बच्चों को गोद लेने के लिए निमंत्रण देना अवैध है, क्योंकि कोई भी बच्चा केंद्रीय दत्तक ग्रहण संसाधन प्राधिकरण-कारा की अनुमति के बिना गोद नहीं लिया जा सकता। ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से -

कानून की निर्धारित प्रक्रिया का पालन किए बिना बच्चों को गोद लेना अवैध है। इसके अलावा, यह दंडनीय अपराध भी है और बाल तस्करी की श्रेणी में आता है। सोशल मीडिया के माध्यम से कोविड से प्रभावित बच्चों को सीधे गोद लेने संबंधित अपील पूरी तरह से अवैध है और इससे बाल शोषण और तस्करी का खतरा बढ़ सकता है। केन्द्रीय दत्तक ग्रहण संसाधन प्राधिकरण, महिला एवं बाल विकास मंत्रालय का एक वैधानिक निकाय है। यह भारतीय बच्चों को गोद लेने के लिए नोडल निकाय के रूप में कार्य करता है। इसके अलावा देश और अंतर-देश में गोद लेने कि प्रक्रिया की भी निगरानी करता है। यदि कोई व्यक्ति किसी अनाथ बच्चे को गोद लेना चाहता है तो उसे ऑनलाइन आवेदन कर, निर्धारित प्रक्रिया का पालन करना होगा। दीपेंद्र कुमार, आकाशवाणी समाचार, दिल्ली।

......................

केन्‍द्र, कोविड महामारी के दौरान लोगों की सुविधा के लिए बनाई गई राष्‍ट्रीय स्‍तर की हेल्पलाइन नम्बर के बारे में लोगों को जागरूक कर रहा है। सूचना और प्रसारण मंत्रालय अपने विभिन्‍न विभागों के माध्‍यम से इन हेल्‍पलाइन के बारे में जागरूकता बढा रहा है।

विभिन्‍न हेल्‍पलाइन नंबर इस प्रकार हैं -

  • कोविड संबंधी सवालों के जवाब देने के लिए स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय की हेल्‍पलाइन है - 1075

  • महिला और बाल विकास मंत्रालय की चाइल्‍ड हेल्‍पलाइन - 1098 है।

  • वरिष्‍ठ नागरिकों के लिए सामाजिक न्‍याय और आधिकारिता मंत्रालय का हेल्‍पलाइन नंबर है - 14567.

  • मनोवैज्ञानिक सहायता के लिए राष्‍ट्रीय मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य और तंत्रिका विज्ञान संस्‍थान-निमहांस का नंबर है - 08 04 61 10 007

  • आयुष कोविड परामर्श हेल्‍पलाइन नंबर है -1 4 4 4 3 और माई गाव व्‍हाट्स ऐप हेल्‍पडेस्‍क नंबर है- 90 13 15 15 15.

......................

कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येडियुरप्पा ने राज्य के 19 जिलों में प्रतिबंधों में ढील की घोषणा की है। इन जिलों में कोविड के सक्रिय मामलों की दर में कमी आ रही है। 11 अऩ्य जिलों में कोविड मरीजों की संख्या अधिक होने के कारण लॉकडाउन के प्रतिबंध जारी रहेंगे। इन 11 जिलों में लॉकडाउन का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के लिए जिला उपायुक्‍तों को निर्देश दिये गये हैं। ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से -

चिकमंगलूरू, शिवमोग्‍गा, दावरगेरे, मैसूरू, चामराजनगरा, हासन, दक्षिण कन्‍नड़ा, बंगलूरू रूरल, मांड्या, बेलगावी और कोडगू वो ग्‍यारह जिले हैं जहां लॉकडाउन जारी रहेगा। सोमवार से शुक्रवार तक शाम सात बजे से सुबह पांच बजे तक यहां कोविड कर्फ्यू जारी रहेगा और शुक्रवार शाम सात बजे से सोमवार सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू होगा। पॉजिटिविटी दर कम हुए 19 जिलों में कुछ राहत दी गई है। सुबह छह बजे से दोपहर दो बजे तक लोग खरीदारी कर सकते हैं। सुबह दस बजे तक पार्क खुले रहेंगे। ऑटो रिक्‍शा और टैक्‍सी दो यात्रियों को ले जाने की छूट दी गई है। यह राहत जून 14 से 21 तारीख तक जारी रहेगी। सुधीन्‍द्रा, आकाशवाणी समाचार, बंलगूरू।

......................

झारखंड सरकार ने इस शैक्षिक सत्र की 10वीं और 12वीं कक्षा की बोर्ड परीक्षाएं रद्द कर दी हैं। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बताया कि कोविड-19 को ध्यान में रखते हुए और छात्रों तथा अभिभावकों की मांग पर परीक्षा रद्द करने का निर्णय लिया गया है। एक रिपोर्ट -

राज्य सरकार द्वारा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षाएं रद्द करने की घोषणा के बाद झारखंड एकेडमिक काउंसिल-जैक 10वीं के लिए करीब 4 लाख 40 हज़ार छात्रों और 12 वीं की बोर्ड परीक्षाओं के लिए 3 लाख 32 हज़ार पंजीकृत छात्रों का रिजल्ट तैयार करने की तैयारी में जुटा है। जैक बोर्ड परीक्षा परिणाम तैयार करने के लिए सीबीएसई और सीआईएससीई बोर्ड की परिणाम मूल्यांकन पद्धति का अध्ययन करेगा। इस प्रक्रिया में क्रमशः कक्षा 9 और कक्षा 11वीं की बोर्ड परीक्षा के परिणामों पर भी विचार किया जाएगा। इस बीच, जैक के सचिव महीप कुमार सिंह ने कहा है कि इस साल की बोर्ड परीक्षाओं के लिए पाठ्यक्रम में संशोधन किया गया था और परीक्षा पैटर्न में बदलाव के साथ पाठ्यक्रम में 40 प्रतिशत की कमी भी की गई थी। लेकिन बोर्ड परीक्षा रद्द होने के कारण जैक ने अभी तक परिणाम तैयार करने पर कोई निर्णय नहीं लिया है। शिल्पी, आकाशवाणी समाचार, रांची।

......................

केन्‍द्र ने कोविड टीकाकरण और जन स्‍वास्‍थ्‍य के मुद्दों पर कल राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के साथ समीक्षा बैठक की। राज्‍यों से कहा गया है कि वे स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों और फ्रंट लाइन वर्कर्स को टीके की दूसरी डोज देने पर विशेष तौर पर ध्‍यान दें। राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों के साथ हुई उच्‍च स्‍तरीय बैठक की अध्‍यक्षता केन्‍द्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण ने की। राज्‍यों को यह भी बताया गया कि कोविन प्‍लेटफार्म पर कर्इ परिवर्तन किए गए हैं जिसका उद्देश्‍य इसे और प्रभावी बनाना है। राज्‍यों को यह भी बताया गया कि कोविन प्‍लेटफार्म अब 12 भाषाओं में उपलब्‍ध है। श्री भूषण ने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों और अग्रणी श्रेणी के कार्यकर्ताओं को टीके की दूसरी डोज कम लगी है। यह एक गंभीर चिंता का विषय है। उन्‍होंने कहा कि स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों को लगने वाली पहली डोज का राष्‍ट्रीय औसत 82 प्रतिशत है जबकि दूसरी डोज का औसत सिर्फ 56 प्रतिशत है। श्री भूषण ने कहा कि पंजाब, महाराष्‍ट्र, हरियाणा, तमिलनाडु, दिल्‍ली और असम सहित 18 राज्‍यों और केन्‍द्र शासित प्रदेशों का औसत राष्‍ट्रीय औसत से कम है। नए दिशानिर्देशों के अनुसार 25 प्रतिशत टीके न‍िजी अस्‍पतालों को दिए जाएंगे। 

......................

देश में अब तक कोविड-19 वैक्‍सीन की 24 करोड़ 58 लाख से अधिक डोज दी जा चुकी हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया है कि कल 30 लाख 32 हजार से अधिक टीके लगाये गये, इनमें से 27 लाख 33 हजार लोगों को पहली डोज दी गई, जबकि दो लाख 99 हजार से अधिक व्‍यक्तियों को दूसरी डोज दी गई।

मंत्रालय ने बताया कि 18 से 44 वर्ष के आयु समूह के 18 लाख 64 हजार से अधिक लोगों ने कल कोविड का पहला टीका लगवाया। इसी आयु समूह के 77 हजार से अधिक लोगों ने कोविड का दूसरा टीका लगवाया। टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण की शुरुआत के बाद से 37 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में तीन करोड़ 58 लाख से अधिक लोगों को टीके की दूसरी डोज दी गई। मंत्रालय ने कहा कि बिहार, दिल्ली, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान, तमिलनाडु, तेलंगाना, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल में 18 से 44 वर्ष की आयु समूह के 10 लाख से अधिक लोगों को टीके लगाये गये।

......................

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि मीडिया में कुछ ऐसे निराधार समाचार आए हैं कि कोविन ऐप को हैक किया जा रहा है। मंत्रालय ने कहा है कि सरसरी तौर पर ये खबरें फर्जी प्रतीत होती हैं। फिर भी स्वास्थ्य मंत्रालय और टीका प्रशासन से संबद्ध अधिकार प्राप्त समूह इन खबरों की जांच करवा रहे हैं। जांच का काम इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की कंप्यूटर आपात प्रबंधन टीम को दिया गया है। टीका प्रशासन से संबद्ध अधिकार प्राप्त समूह के अध्यक्ष डॉक्टर आर एस शर्मा ने स्पष्ट किया कि कोविन में दर्ज टीकाकरण संबंधी विवरण पूरी तरह सुरक्षित है।

......................

अस्‍पताल के कॉरिडोर से कई दिलचस्‍प कहानियां सामने आती है। दिल्‍ली के एक अस्‍पताल में ऑक्‍सीजन के बहुत कम लेवल के साथ 54 वर्षीय एक रोगी भर्ती किया गया। इस रोगी का उपचार कर रहे वरिष्‍ठ चिकित्‍सक डॉक्‍टर आशीष खट्टर ने आकाशवाणी को बताया कि अस्‍पताल में 35 दिन के उपचार के बाद इस रोगी को स्‍वस्‍थ होने पर छुट्टी दी गई। चिकित्‍सक के अनुसार रोगी के स्‍वस्‍थ होने में उसकी इच्‍छाशक्ति और सकारात्‍मक सोच की अहम भूमिका रही।

डॉक्‍टर खट्टर ने लोगों से अपील की कि वे किसी रोगी की हालत चिंताजनक होने पर भी निराश न हों और सावधानी बरतें।

मैं आप सभी देशवासियों से एक ही अनुरोध करूंगा प्‍लीज़ ये समझिये कि ये कोरोना महामारी लास्‍ट के दो महीने और ये वाला स्‍ट्रेन अत्‍यंत ही खतरनाक है। जिससे जो रोग फैलाने की क्षमता है इसमें बहुत ज्‍यादा है। अब लॉकडाउन धीरे-धीरे खुल रहा है। आप लोग प्‍लीज़ ये मत समझिये कि कोविड किसी छुट्टी पे चला गया है या ये वापस नहीं आएगा। अगर हम लोग अपनी सावधानी छोड़ देंगे। कोविड फिर से वापस आ सकता है और इससे भी बुरी हालत हम लोगों की हो सकती है। तो प्‍लीज़ आप लोग सावधानी बरतिए।

......................

केन्‍द्रीय अल्‍पसंख्‍यक कार्य मंत्री मुख्‍तार अब्‍बास नकवी ने कहा है कि भारत सरकार हज 2021 के आयोजन को लेकर सऊदी अरब के निर्णय का पालन करेगी। श्री नकवी ने कहा कि दोनों ही देशों की सरकारों के लिए लोगों का स्‍वास्‍थ्‍य और उनकी सुरक्षा सबसे बड़ी प्राथमिकता है। उन्‍होंने कहा कि भारत में जायरिनो के टीकाकरण के लिए तैयारियां की जा रही हैं। श्री नकवी मुंबई में हज 2021 के बारे में आयोजित एक बैठक की अध्‍यक्षता के बाद संवाददाताओं से बातचीत कर रहे थे। इस बैठक में सऊदी अरब में भारत के राजदूत डॉक्‍टर औसफ सैय्यद और जेद्दाह में भारत के महावाणिज्य दूत शाहिद आलम के साथ अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारियों ने वर्चुअल माध्‍यम से हिस्‍सा लिया। टीकाकरण अभियान पर बाते करते हुए श्री नकवी ने कहा कि एक राष्‍ट्रव्‍यापी अभियान बहुत जल्‍द शुरू किया जाएगा जिससे कोविड वैक्‍सीन को लेकर अफवाहों पर विराम लगेगा।

अफवाहें वैक्‍सीनेशन को लेकर कुछ लोगों ने जो वैक्‍सीन पर जो है वो सियासी वैक्‍सीन चढ़ाने का षड्यंत्र और साजिश की है। उसका नुकसान कुछ जगहों पर हो रहा है और ये नुकसान लोगों की सेहत और सलामती का हो रहा है। जो लोग इस तरह की अफवाहें और आशंकाएं फैला रहे हैं वो लोगों की सेहत, सलामती के साथ-साथ मुल्‍क के भी दुश्‍मन हैं और इसलिए हमनें जागरूकता अभियान 'जान भी है, जहान भी है' जिसमें सभी स्‍टेट की हज कमेटी, स्‍टेट के वक्‍फ बोर्ड, सैंट्रल वक्‍फ काउंसिल, मौलाना आज़ाद एज्‍युकेशन फाउंडेशन, विमेन सैल्‍फ हेल्‍प ग्रुप्‍स और तमाम लोग जुड़ करके उन गांवों में उन दूर-दराज के इलाकों में वैक्‍सीनेशन को लेकरके जागरूकता पैदा करेंगे और यही कहेंगे कि जान है तो जहान है। इसलिए सब लोग मिल करके वैक्‍सीनेशन में शामिल हों।

......................

कोविड महामारी से आपूर्ति श्रृंखला पर दुष्‍प्रभाव के बावजूद  2020-21 में देश के आर्गेनिक कृषि उत्‍पादों के निर्यात में वर्ष-दर वर्ष आधार पर 51 प्रतिशत की बढोत्‍तरी हुई है। वाणिज्‍य सचिव अनूप वधावन ने बताया कि आर्गेनिक उत्‍पादों का निर्यात पिछले वित्‍त वर्ष में बढकर 104 करोड अमरीकी डॉलर पर पहुंच गया जो उससे पिछले वर्ष 68 करोड 90 लाख अमरीकी डॉलर मूल्‍य का था। कृषि निर्यात में पिछले वित्‍त वर्ष के दौरान 17 प्रतिशत की बढोत्‍तरी हुई और यह 41 अरब 25 करोड डॉलर का रहा। 

......................

भारत के नीरज चोपड़ा ने पुर्तगाल में सिडडे डी लिस्बोआ में भाला फेंक प्रतियोगिता में स्वर्ण पदक जीता है। 23 वर्षीय चोपड़ा ने छठी और अंतिम कोशिश में 83 दशमलव एक आठ मीटर के थ्रो के साथ पदक अपने नाम किया। पांच पुर्तगाली प्रतिभागियों के बीच केवल नीरज ने ही 80 मीटर से अधिक दूरी तक भाला फेंका।

पुर्तगाल के लिएंड्रो रामोस 72 दशमलव चार छह मीटर के थ्रो के साथ दूसरे और फ्रांसिस्को फर्नांडीस 57 दशमलव दो पांच मीटर के थ्रो के साथ तीसरे स्थान पर रहे।

नीरज चोपड़ा ने इससे पहले मार्च में पटियाला में इस सीजन का सर्वश्रेष्ठ 88 दशमलव शून्य सात मीटर भाला फेंकने का रिकॉर्ड बनाया था। लिस्बन में हुई इस प्रतियोगिता के माध्यम से नीरज 18 महीनो बाद किसी इवेंट में उतरे हैं।

......................

शिखर धवन को जुलाई में श्रीलंका में होने वाले तीन एक दिवसीय मैचों और तीन ट्वेंटी-ट्वेंटी मैचों के दौरे के लिए भारत का कप्तान बनाया गया है। वहीं तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार को 20 सदस्‍यीय इस टीम का उपकप्‍तान बनाया गया है।

भारतीय क्रिकेट टीम ने साउथैम्पटन के हैम्पशायर बाउल में तैयारियां शुरू कर दी हैं। भारत को विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में न्यूजीलैंड के साथ खेलना है।

......................

खबरें ओलिम्पिक की............

तोक्‍यो ओलिम्पिक खेल शुरू होने में 42 दिन बाकी हैं। आकाशवाणी से जारी विशेष श्रृंखला में आज हम बात करेंगे भारत की प्रमुख तीरंदाज खिलाड़ी दीपिका कुमारी की।

दीपिका का जन्म 13 जून 1994 को झारखंड के रांची में हुआ था। वह पिछले एक दशक से ज्यादा समय से भारतीय तीरंदाजी का जाना माना चेहरा हैं।

16 वर्ष की आयु में दीपिका ने 2010 में दिल्ली में हुए  कॉमनवेल्थ गेम्स में दो स्वर्ण पदक जीते थे और उसी वर्ष ग्वांगझू में हुए एशियाई खेलों में उऩ्होंने रजत पदक हासिल किया था।

इस वर्ष तोक्यो ओलंपिक उनके तीसरे ओलंपिक खेल होंगे। इससे पहले वह 2012 में लंदन में और 2016 के रियो ओलंपिक में भारतीय टीम का हिस्सा रही हैं।

भारत ने ओलंपिक खेलों में तीरंदाजी में कभी पदक नहीं जीता है।

......................

स्वतंत्रता सेनानी और ब्रिटिशराज के खिलाफ लड़ाई में प्राणों की आहुति देने वाले शहीद रामप्रसाद बिस्मिल की आज जयंती है। आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में संस्कृति मंत्रालय उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में शहीद रामप्रसाद बिस्मिल के जन्मस्थान पर विशेष कार्यक्रम आयोजित करेगा। केंद्रीय संस्कृति मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल शहीद रामप्रसाद बिस्मिल, शहीद अशफाकउल्ला खान और शहीद रोशन सिंह को शाहजहांपुर के शहीद उद्यान में आयोजित कार्यक्रम में पुष्पांजलि अर्पित करेंगे। हमारे संवाददाता की एक रिपोर्ट -

ऐ मातृभूमि तेरी जय हो, सदा विजय हो

प्रत्येक भक्त तेरा, सुख-शांति-कान्तिमय हो

वह भक्ति दे कि 'बिस्मिल' सुख में तुझे न भूले

वह शक्ति दे कि दुःख में कायर न यह हृदय हो

बिस्मिल यानी जिसकी आत्मा घायल हो... आत्मिक रूप से आहत उस कवि ने अंग्रेजों के खिलाफ क्रांति का बिगुल फूंका और सिर्फ तीस साल उम्र में काकोरी कांड में शामिल होकर देश के लिए सूली पर चढ़ गये। उन्‍होंने भगत सिंह और चन्‍द्रशेखर आजाद जैसे स्‍वतंत्रता सेनानियों के साथ हिन्‍दुस्‍तान रिपब्लिकन एसोसिएशन का गठन किया और मैनपुरी षड्यंत्र तथा काकोरी कांड में हिस्सा लिया। आज ही के दिन उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर में जन्मे पंडित राम प्रसाद ने महज 19 साल की उम्र से ही कभी राम कभी अज्ञात तो कभी 'बिस्मिल' उपनाम से उर्दू और हिन्‍दी में 'मेरा रंग दे बसंती चोला' और 'सरफरोशी की तमन्‍ना' जैसे तराने लिखे जो क्रांतिगीत बन गये। आज उस कवि-आंदोलनकारी को उसके शहर में सांस्‍कृतिक प्रस्‍तुति के जरिये श्रद्धांजलि दी जायेगी। सुशील चंद्र तिवारी, आकाशवाणी समाचार, लखनऊ।

......................

समाचार पत्रों से-

  • देश में कोरोना वायरस की थमती रफ्तार पर अमर उजाला की सुर्खी है - सक्रिय केस 12 लाख से कम राजस्‍थान पत्रिका ने वित्‍त मंत्रालय के इस सुझाव को दिया है कि इकॉनोमी बूस्‍ट करने के लिए चौबीसों घंटे सातों दिन लगाई जाए वैक्‍सीन। हिन्‍दुस्‍तान कहता है - विदेशी वैक्‍सीन को शर्तों से छूट देने की तैयारी में केन्‍द्र। जनसत्‍ता ने विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन की बैठक में स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री के इस बयान को दिया है कि महामारी ने विभिन्‍न क्षेत्रों के बीच परस्‍पर निर्भरता को रेखांकित किया। नवभारत टाइम्‍स ने स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के इस दिशा-निर्देश को दिया है कि पांच साल से छोटे बच्‍चों को मास्‍क पहनना जरूरी नहीं।

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी विश्‍व के सात प्रमुख अर्थव्‍यवस्‍थाओं वाले देशों के समूह जी-7 शिखर सम्‍मेलन में वर्चुअल माध्‍यम से भाग लेंगे - लोकसत्‍य की खबर है। पत्र लिखता है - बिल्‍ड बैक बैटर थीम पर होंगी विस्‍तृत चर्चा।

  • पीएनबी बैंक घोटाले के आरोपी मेहुल चौकसी को डोमेनिका ने अवैध प्रवासी घोषित किया। घर वापसी का रास्‍ता साफ- नवभारत टाइम्‍स की खबर है। उधर हिन्‍दुस्‍तान ने भरोसा जताया है कि ब्रिटेन, नीरव मोदी और विजय माल्‍या जैसे आर्थिक अपराधियों को जल्‍द से जल्‍द भारत को सौंपेगा।

  • भारतीय रिजर्व बैंक ने नौ वर्ष बाद एटीएम लेनदेन से जुड़े नियमों पर बदलाव को अनुमति देने पर  हरिभूमि लिखता है - पांच बार फ्री। इसके बाद एटीएम से कैश निकासी पर ज्‍यादा पैसे।

  • केन्‍द्र सरकार द्वारा खरीफ फसलों के न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य में वृद्धि पर अमर उजाला कहता है। इसके जरिए सरकार ने यह सुनिश्चित तो किया ही है कि किसानों को उनकी लागत का डेढ़ गुना दाम मिले साथ ही यह संदेश भी दिया है कि सरकार फसलों में विविधता को प्रोत्‍साहित करना चाहती है।

  • भारत ऑस्‍ट्रेलिया संयुक्‍त कार्यकारी आयोग की पहली वर्चुअल बैठक सम्‍पन्‍न। गोपनीय सूचना इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर की सुरक्षा को लेकर भारत-ऑस्‍ट्रेलिया हुए सहमत - हरिभूमि में प्रमुखता से है। राष्‍ट्रीय सहारा की सुर्खी है - साइबर सुरक्षा सहयोग बढ़ाएगे भारत और ऑस्‍ट्रेलिया।

  • दिल्‍ली में नौवीं और ग्‍यारहवीं की परीक्षाएं रद्द होने की जानकारी देते हुए अमर उजाला लिखता है - मिड टर्म के आधार पर 22 जून को घोषित होंगे परिणाम।

  • देश में दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के तेजी से आगे बढ़ने पर राष्‍ट्रीय सहारा ने लिखा है - मॉनसून एक्‍सप्रेस ने पकड़ी रफ्तार। मध्‍य प्रदेश में आठ दिन पहले दस्‍तक।

......................

ट्विटरवरुन थेट

हवामान आता

As on-19 Jun 2021
City MaxoC MinoC
दिल्ली 36.6 25.3
मुंबई 33.0 25.0
चेन्नई 35.4 28.6
कोलकाता 30.1 25.2
बेंगलुरू 28.0 20.8