A- A A+
Last Updated : Aug 6 2021 6:36AM     Screen Reader Access
News Highlights
India's ace grappler Ravi kumar Dahiya creates history, clinches Silver Medal; Men's Hockey team snatch Bronze medal            Both houses of Parliament witness repeated adjournments over Pegasus issue and Farm Bills; adjourned for the day            PM Modi interacts with the beneficiaries of Pradhan Mantri Garib Kalyan Anna Yojana in Uttar Pradesh            India crosses another milestone in COVID-19 Vaccination Drive, crosses 49 Cr mark; recovery rate stands at 97.37%            Bombay HC asks Maha govt to consider issuing vaccination card to allow fully inoculated people to travel in local trains           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1430 HRS
18.06.2021

मुख्य समाचार:

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अग्रिम पक्ति के कोविड कार्यकर्ताओं के लिए विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया। दो से तीन महीनों में एक लाख कोविड योद्धाओं को छह विशेष कोर्स में प्रशिक्षित किया जाएगा।

  • सरकार सभी को  कोविड वैक्सीन निशुल्क उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध। प्रधानमंत्री ने कहा - 21 जून से टीकाकरण का दायरा बढाया जाएगा।

  • देश में कोविड से स्वस्थ होने की दर बढ़कर 96 दशमलव शून्य-तीन प्रतिशत हुई। लगातार 36 वें दिन दैनिक स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या संक्रमित लोगों की संख्‍या से अधिक रही।

  • देश में अब तक 26 करोड 89 लाख से अधिक कोविड टीके लगाए गए।

  • झारखंड में कोरोना वायरस का डेल्टा प्लस वेरिएंट कई मरीजों में मिला है।

  • स्वास्थ्य मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने कहा - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का विजन - तपेदिक मुक्त भारत 2025 तक पूरा कर लिया जाएगा।

  • सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा -  सरकार का लक्ष्य 2024 तक सड़क दुर्घटना में होने वाली मौतों को 50 प्रतिशत तक कम करना है।

  • ईरान में नए राष्ट्रपति के चुनाव के लिए आज मतदान हो रहा है।

  • भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व टेस्ट क्रिकेट चैम्पियनशिप के फाइनल में बारिश के कारण देरी।

  • जापान की नाओमी ओसाका इस वर्ष विंबलडन में नहीं खेलेंगी लेकिन तोक्यो ओलंपिक में भाग लेंगी।

------

कई राज्‍यों में कोरोना लॉकडाउन में राहत दी जा रही है। ऐसे में आपसे अपील है कि कोविड महामारी के प्रति कोई भी लापरवाही न बरतें। जब तक आवश्‍यक न हो, घर से बाहर न निकलें और इन आसान उपायों का पालन कर सुरक्षित रहें।

·  मास्‍क लगायें।

·  दो गज की सुरक्षित दूरी बनाये रखें।

·  बार-बार हाथ धोएं, चेहरा साफ रखें।

·  और टीका जरूर लगवाएं

कोविड से संबंधित जानकारी और मार्गदर्शन के लिए राष्‍ट्रीय हेल्‍पलाइन काम कर रहीं हैं। इनके नंबर हैं- 011-2 3 9 7 8 0 4 6 और 1075

------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि सरकार हर व्‍यक्ति को मुफ्त कोविड टीका उपलब्‍ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्‍होंने कहा कि 21 जून से टीकाकरण क्षेत्र का विस्‍तार किया जाएगा। कोराना वायरस के स्‍वरूप बदलने और इस संक्रामक रोग से निपटने में देश की क्षमता का जिक्र करते हुए श्री मोदी ने कहा कि कोविड महामारी की वजह से देश में चिकित्‍सा के बुनियादी ढांचे को सुदृढ बनाने में मदद मिली है।

ये वायरस हमारे बीच अभी भी है और जब तक ये इसके म्‍यूटेड होने की संभावना भी बनी हुई है, इसलिए हर इलाज, हर सावधानी के साथ-साथ आने वाली चुनौतियों से निपटने के लिए हमें देश की तैयारियों को और ज्‍यादा बढ़ाना होगा। इसी लक्ष्‍य के साथ आज देश में एक लाख फ्रंट लाइन कोरोना वॉरियर्स तैयार करने का महाअभियान शुरू हो रहा है।

प्रधानमंत्री ने देश में वायरस के बदलते स्‍वरूप के कारण बढती चुनौतियों से निपटने के लिए चिकित्‍सा का मजबूत बुनियादी ढांचा बनाने पर जोर दिया है।

मेडिकल इनफ्रास्‍ट्रकचर का जो बड़ा नेटवर्क आज भारत में बना है वो काम अब भी चल रहा है और वो इसी का परिणाम है। आज देश के दूर-सूदूर में अस्‍पतालों तक वेंटीलेटर्स, ऑक्‍सीजन कनसनट्रेटर्स पहुंचाने का भी तेज गति से प्रयास किया जा रहा है। डेढ हजार से ज्‍यादा ऑक्‍सीजन प्‍लांट बनाने का काम युद्ध स्‍तर पर जारी है और हिन्‍दुस्‍तान के हर जिले में पहुंचने का एक भगीरथ प्रयास है। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले कुछ वर्षों में देश में नये अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान, मेडिकल कालेज और नर्सिंग कालेज स्‍थापित किये गए हैं। उन्‍होंने कहा कि चिकित्सा के बुनियादी ढांचे के विस्‍तार के लिए लाखों युवाओं की जरूरत है।

प्रधानमंत्री ने आज कोविड-19 का मुकाबला करने में तैनात अग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं के लिए विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम की शुरूआत की।

देश के टॉप एक्‍सपर्ट्स ने प्रेस को डिजाइन किया है, आज छह नए कस्‍टमाइज कोर्स लांच किए जा रहे हैं। नर्सिंग से जुड़ा सामान्‍य काम हो, होम केयर हो, क्रिटिकल केयर में मदद हो, सेंपल कलेक्‍शन हो, मेडिकल टेक्निशियन हो, नए-नए उपकरणों की ट्रेनिंग हो, इसके लिए युवाओं को तैयार किया जा रहा है। इसमें नए युवाओं की स्किलिंग भी होगी और जो पहले से इस प्रकार से काम में ट्रेंड हो चुके हैं, उनकी अप-स्किलिंग भी होगी। 

यह प्रशिक्षण कार्यक्रम 26 राज्‍यों के 111 प्रशिक्षण केन्‍द्रों में शुरू किया जा रहा है। इसका उद्देश्‍य देश भर में एक लाख से अधिक कोरोना योद्धाओं के कौशल और क्षमता को बढाना है। प्रशिक्षण कार्यक्रम से वर्तमान और भविष्‍य की जरूरतों के अनुरूप गैर-चिकित्‍सा देखभाल कार्यकर्ताओं को कुशल बनाया जाएगा।

प्रशिक्षण कार्यक्रम के महत्‍व का उल्‍लेख करते हुए श्री मोदी ने कहा कि प्रशिक्षित स्‍वास्‍थ्‍य देखभाल कार्यकर्ताओं का विशाल पूल बनाने के लिए अभूतपूर्व प्रयास किए जा रहे हैं।

इन प्रयासों के बीच एक स्किल्‍ड मेन पावर का बड़ा पूल होना, उस पूल में नए लोग जुड़ते रहना ये भी उतना ही जरूरी है। इसी को देखते हुए कोरोना से लड़ रही वर्तमान फोर्स को सपोर्ट करने के लिए देश में करीब एक लाख युवाओं को ट्रेंड करने का लक्ष्‍य रखा गया है। ये कोर्स दो-तीन महीने में ही पूरा हो जाएगा, इसलिए ये लोग तुरंत काम के लिए उपलब्‍ध भी हो जाएंगे और एक ट्रेंड सहायक के रूप में वर्तमान व्‍यवस्‍था को काफी कुछ सहायता देंगे, उनका बोझ हल्‍का करेंगे। 

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस कार्यक्रम के साथ ही कोरोना वायरस के खिलाफ महत्‍वपूर्ण अभियान का अगला चरण शुरू हो रहा है। इस कार्यक्रम में देश के एक लाख युवाओं को कौशल प्रशिक्षण दिया जाएगा और  इसइससे युवाओं को रोजगार के नए अवसर मिलेंगे।

स्वास्थ्य कर्मियों के कौशल, पुन: कौशल तथा इसे और बेहतर बनाने के महत्व के बारे में प्रधानमंत्री ने कहा कि कौशल का विस्तार करना समय की जरूरत है और इसके लिए प्रौद्योगिकियों में तेजी से बदलाव की आवश्यकता है।

स्किल, रिस्क्लि और अप-स्किल ये मंत्र कितना महत्‍वपूर्ण है। ये कोरोनाकाल ने फिर सिद्ध किया है। हेल्‍थ सेक्‍टर के लोग स्किल तो थे ही, उन्‍होंने कोरोना से निपटने के लिए बहुत कुछ नया सीखा भी, यानी एक तरह से उन्‍होंने खुद को रिस्किल किया है। इसके साथ ही उनमें जो स्किल पहले थी उसका भी उन्‍होंने विस्‍तार किया। बदलती परिस्थितियों के अनुसार अपनी स्किल को अपडेट या वेल्‍यूएडिशन करना यह अप‍-स्किल ही है और समय की यही मांग है।

ग्रामीण स्‍वास्‍थ्‍य केन्‍द्रो में कार्य कर रहे आशा कार्यकर्ताओं, ए एन एम और स्‍वास्‍थ्‍य कार्यकर्ताओं के काम की प्रशंसा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि इन्‍होंने संक्रमण से रोकथाम के लिए टीकाकरण के कार्य में अहम योगदान किया है।

हमारे आशा, एएनएम, आंगनवाड़ी और गांव-गांव में डिसपेंसिरियों में तैनात हमारे स्‍वास्‍थ्‍य कर्मी संक्रमण को रोकने से लेकर दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान तक में बहुत महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। मौसम की स्थितियां, भौगोलिक परिस्थिति कितनी भी विपरीत हो, ये साथ ही एक-एक देशवासी की सुरक्षा के लिए दिन-रात जुटे हुए हैं। 21 जून से देश में टीकाकरण अभियान का विस्‍तार हो रहा है। उसे भी हमारे ये सारे साथी बहुत ताकत दे रहे हैं, बहुत ऊर्जा दे रहे हैं।

-----

देश में कोविड मरीजों की संख्‍या 7 लाख 98 हजार 656 रह गई है।  73 दिन बाद उपचाराधीन मरीजों की संख्‍या आठ लाख से नीचे आ गई है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया है कि पिछले 24 घंटे के दौरान 62 हजार 480 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इसी दौरान 88 हजार 977 रोगी स्‍वस्‍थ हुए। इसके साथ ही देश में अब तक दो करोड 85 लाख 80 हजार से अधिक मरीज ठीक हो चुके हैं। स्‍वस्‍थ होने की दर 96 दशमलव शून्‍य-तीन प्रतिशत हो गई है। आज लगातार 36 वें दिन दैनिक संक्रमित लोगों की संख्‍या स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या से कम रही।

साप्‍तहिक संक्रमण दर पांच प्रतिशत से कम होकर तीन दशमलव आठ प्रतिशत पर आ गई है। दैनिक संक्रमण दर तीन दशमलव दो-चार प्रतिशत रह गई है जो लगातार 11वें दिन पांच प्रतिशत से कम बनी हुई है।

कल एक दिन में एक हजार 587 रोगियों की मृत्‍यु हुई। इसके साथ ही मृतकों की संख्‍या तीन लाख 83 हजार से अधिक हो गई है।

जांच क्षमता बढाई जा रही है। अब तक 38 करोड 71 लाख जांच की जा चुकी है। राष्‍ट्रव्‍यापी टीकाकरण अभियान के दौरान अब तक 26 करोड 89 लाख से अधिक टीके लगाये जा चुके हैं।

-----

स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने बताया है कि राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों के पास अब भी दो करोड 58 लाख से अधिक कोविड टीके मौजूद हैं। केन्‍द्र सरकार ने अब तक राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों को 27 करोड 90 लाख से अधिक टीके उपलब्‍ध कराये हैं। अगले तीन‍ दिनों में 19 लाख 95 हजार टीके देने का आश्‍वासन दिया गया है। कोविड महामारी से लडाई में टीकाकरण बहुत महत्‍वपूर्ण है। देश में कोविड-19 टीकाकरण का तीसरा चरण पहले ही शुरू हो चुका है। केन्‍द्र सरकार राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों को निशुल्‍क टीके उपलब्‍ध कराने में सहयोग कर रही है तथा उन्‍हें टीकों की सीधे खरीद की सुविधा प्रदान कर रही है।

----

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने आज गुआहाटी के सारूसजाई में तीन सौ बिस्‍तरों वाले कोविड केयर अस्‍पताल का दौरा किया। यह अस्‍पताल रक्षा अनुसंधान विकास संगठन-डी आर डी ओ ने स्‍थापित किया है। इस अवसर पर असम के मुख्‍यमंत्री हेमंता बिस्‍व सरमा भी मौजूद थे। रक्षामंत्री ने डी आर डी ओ के कार्य की सराहना की।

    ----

झारखंड में कई मरीजों की कोविड जांच के नमूनों में कोरोना वायरस का डेल्‍टा प्‍लस वेरीयंट मिलने से राज्‍य में कोविड महामारी की तीसरी लहर की आशंका बढ़ गई है। कोविड जांच के दौरान एकत्र किए गए नमूनों को जीनोम सीक्‍वेंसिंग के लिए आईएसएल - भुबनेश्‍वर भेजा गया था।

राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य सचिव अरूण कुमार सिंह ने भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् से झारखंड को जीनोम सीक्‍वेंसिंग मशीन उपलब्‍ध कराने को कहा है, ताकि कोरोना वायरस के बदले हुए स्‍वरूप की जल्‍द पहचान की जा सके। वर्तमान में इसकी रिपोर्ट मिलने में तीस दिन का समय लगता है।

राजेन्‍द्र प्रसाद आयुर्विज्ञान संस्‍थान - रिम्‍स के माइक्रोबॉयोलोजी विभाग के प्रमुख डॉ मनोज कुमार ने आकाशवाणी समाचार को बताया कि आईएसएल भुबनेश्‍वर से रिपोर्ट मिलने के बाद ही कोरोना वायरस के डेल्‍टा प्‍लस वैरीयंट की संक्रमण दर का पता लगाया जा सकेगा । डॉ कुमार ने कहा कि वायरस का डेल्‍टा प्‍लस वेरीयंट अधिक खतरनाक साबित हो सकता है।

----

मध्‍यप्रदेश में कोविड के 145 नये मामले सामने आये।

हमारी संवाददाता ने बताया है कि सक्रिय मामलों की दर घटकर शून्‍य दशमलव एक प्रतिशत रह गई है।

प्रदेश में सक्रिय मामलों की संख्या घटकर दो हजार नौ सौ 84 हो गई है जबकि चार सौ चार मरीज संक्रमण से स्वस्थ्य हुए हैं। राज्य के 51 जिलों में साप्ताहिक पॉजिटिविटी दर घटकर एक प्रतिशत से भी कम हो गई है। केवल भोपाल जिले में यह एक दशमलव एक प्रतिशत है। 22 जिलों में कोई नया मामला सामने नहीं आया है। राज्य के भिंड और बुरहानपुर जिले पूरी तरह से कोरोना मुक्त हो चुके हैं। दोनों ही ज़िलों में एक भी नया और सक्रिय मामला नहीं है। पूजा पी.वर्धन, आकाशवाणी समाचार भोपाल।

-----

भारतीय रिजर्व बैंक ने दोहराया है कि टीकाकरण देश की अर्थव्‍यवस्‍था को फिर से सुधार के पथ पर ले जाने में सहायता करेगा। रिजर्व बैंक ने कहा है कि अर्थव्यवस्था में पर्याप्‍त लचीलापन और मजबूती है जिससे वह महामारी से निकल कर विकास के मार्ग पर लौटने में सक्षम है।

अर्थव्‍यवस्‍था की स्थिति के बारे में लेख में केन्‍द्रीय बैंक ने कहा है कि यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि अर्थव्‍यवस्‍था का पटरी पर आना व्‍यापार में निवेश और उत्‍पादकता में वृद्धि की मजबूत नींव पर आधारित हो। रिजर्व बैंक ने अनुमान व्‍यक्‍त किया है कि स्‍थायित्‍व संबंधी विभिन्‍न चुनौतियों, विशेष रूप से जलवायु परिवर्तन संबंधी चुनौतियों का समाधान करने वाली डिजिटल प्रौद्योगिकी, बायो‍मेडिकल साइंस और प्रौद्योगिकियों से आने वाले दशक में आर्थिक विकास को बढ़ावा मिलेगा।

रिजर्व बैंक ने अनुमान व्‍यक्‍त किया है कि कोविड महामारी की दूसरी लहर से वित्‍तीय वर्ष 2021-22 में करीब दो लाख करोड़ रूपये का समेकित घाटा होगा।

-----

अन्‍तर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 21 जून को पूरे विश्‍व में मनाया जाएगा। इस वर्ष योग दिवस का विषय है- स्वस्थ बने रहने के लिए योग। कोविड महामारी ने विश्‍व भर के लोगों के जीवन और उनके रोजगार को प्रभावित किया है। ऐसे समय में समग्र रूप से लोगों के बेहतर स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने के लिए योग की भूमिका काफी महत्‍वपूर्ण है। हमारे संवाददाता ने महामारी के इस समय में योग का महत्‍व रेखांकित किया है।

महामारी के इस दौर में स्वस्थ रहने के लिए लोग योग का सहारा ले रहे हैं। योगाभ्यास करने से सुरक्षित दूरी और तनाव जैसी स्थिति से निपटने में भी मदद मिलती है। कुछ योगासन शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने और संतुलित करने में भी सहायक हैं। फेफड़ों को स्वस्थ रखने के लिए बहुत से लोगों ने श्वसन क्रियाएं रनी शुरू कर दी हैं। लोग अब यह मानने लगे हैं कि अच्छा स्वास्थ्य ही सबसे महत्वपूर्ण है। दुनियाभर के देशों ने योग से होने वाले संभावित फायदों को पहचाना है। सुपर्णा सैकिया की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से गौरव राघव।

----

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा है कि भारत को क्षय रोग से मुक्त करने का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का लक्ष्य 2025 तक हासिल कर लिया जाएगा। गंभीर बीमारियों से पीड़ित लोगों के उपचार के लिए विभिन्न स्रोतों से स्वैच्छिक धन जुटाने के मुद्दे पर कॉरपोरेट जगत के प्रतिनिधियों के साथ एक उच्चस्तरीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि क्षय रोग को भी पोलियो की ही तरह अभियान चलाकर दूर किया जाएगा।

जिस प्रकार से भारत में चेचक और पोलियो जैसी बी‍मारी को जड़़ से समाप्‍त किया, उसी प्रकार से हम दुनिया के 2030 के लक्ष्‍य से पांच साल पहले अपने प्रधानमंत्री के आह्वान पर 2025 तक पूरे देश से टी.बी. जैसी बीमारी को भी एलिमिनेट करना चाहते हैं। 

डॉक्टर हर्षवर्धन ने देश में जटिल बीमारियों के निदान और उपचार के लिए अनुसंधान और विकास को बढ़ावा देने का अनुकूल बातावरण बनाने की दिशा में सरकार द्वारा किए गए विभिन्न उपायों की भी चर्चा की। उन्होंने कहा कि भारत ने 2025 तक क्षय रोग को समाप्त करने के प्रति अभूतपूर्व राजनीतिक प्रतिबद्धता व्यक्त की है। भारत ने स्थायी विकास लक्ष्यों के लिए तय सीमा 2030 से 5 वर्ष पहले ही यह लक्ष्‍य हासिल करने की योजना बनाई है। उन्होंने कॉरपोरेट सामाजिक दायित्व-सीएसआर प्रयासों के जरिए महत्वपूर्ण स्वास्थ्य चुनौतियों के समाधान में अधिक योगदान करने के लिए भी कंपनियों को प्रेरित किया। 

-----

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कल कहा कि सरकार का लक्ष्य 2024 तक सड़क दुर्घटना में होने वाली मौतों को मौजूदा आंकड़ों की तुलना में 50 प्रतिशत तक कम करना है। फिक्की द्वारा 'सड़कों पर मौत को रोकने में कॉरपोरेट्स की भूमिका' पर आयोजित वर्चुअल सत्र को संबोधित करते हुए, श्री गडकरी ने सड़क सुरक्षा संघ 'सफर' की घोषणा और कॉरपोरेट जगत के लिए सड़क सुरक्षा पर एक श्वेत पत्र के विमोचन की घोषणा पर फिक्की को बधाई दी। उन्‍होंने हर राज्य, जिले और शहर में 'ब्लैक स्पॉट' की पहचान करने पर जोर दिया। श्री गडकरी ने कहा कि विश्व बैंक और एशियायी विकास बैंक पहले ही एक योजना मंजूर कर चुके हैं।

---

निर्वाचन आयोग ने आम चुनाव 2019 पर आधारित एक मानचित्रावली जारी की है। मुख्‍य निर्वाचन आयुक्‍त सुशील चन्द्र के साथ चुनाव आयुक्‍त राजीव कुमार और अनूप चंद्र पांडे ने यह मानचित्रावली जारी की थी।

इस मानचित्रावली में 2019 के आम चुनाव से जुड़े सभी सांख्यिकीय आंकड़े शामिल किए गए हैं। इसमें 42 मानचित्र और 90 तालिकाओं के जरिए चुनाव से जुड़े विभिन्‍न पहलुओं को दर्शाया गया है। मानचित्रावली चुनाव से जुड़े रोचक तथ्‍यों, कानूनी प्रावधानों और उपाख्‍यानों के बारे में बताती है। यह मानचित्रावली एक सूचनाप्रद और व्‍याख्‍यात्‍मक दस्‍तावेज है जो भारतीय चुनाव प्रक्रिया से जुड़ी बारीकियों पर प्रकाश डालते हुए पाठकों को रूझानों और बदलावों के बारे में विश्‍लेषण करने का एक अवसर देती है।

वर्ष 2019 में हुए 17वें आम चुनाव इतिहास की सबसे बड़ी लोकतांत्रिक प्रक्रिया थी। इसमें 61 करोड़ से अधिक मतदाताओं की भागीदारी देखी गई। चुनाव आयोग ने आम चुनाव 2019 में देश भर में दस लाख से अधिक मतदान केन्‍द्र स्‍थापित किए थे।  एटलस उन 23 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में चुनाव से जुड़े उन पहलुओं को सामने लाता है जहां महिलाओं द्वारा किया गया मतदान प्रतिशत पुरुषों के मतदान प्रतिशत से अधिक था। 2019 के आम चुनावों में भारतीय चुनावों के इतिहास में सबसे कम लैंगिक अंतर देखा गया। मतदाता लिंग अनुपात, जिसने 1971 से सकारात्मक रुझान दिखाया है, 2019 के आम चुनावों में 926 था। भूपेन्द्र सिंह, आकाशवाणी समाचार, दिल्ली।

----

ईरान में नए राष्ट्रपति के चुनाव के लिए आज मतदान हो रहा है। राष्‍ट्रपति पद के लिए चार उम्मीदवार मैदान में हैं। जनमत सर्वेक्षणों में न्यायपालिका के प्रमुख इब्राहिम रईसी मतदाताओं की पहली पसंद बनकर उभरे हैं। केंद्रीय बैंक के पूर्व गवर्नर अब्‍दुलनासिर हेम्‍माती उनके मुख्य प्रतिद्वंद्वी हैं।

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामेनेई ने आज सुबह तेहरान में  वोट डाला और लोगों से मतदान करने की अपील की। असंतुष्टों और कुछ सुधारवादियों ने चुनावों के बहिष्कार का आह्वान किया है।

    -----

साउथैम्पटन में आज भारत और न्यूजीलैंड के बीच विश्व टेस्ट चैंपियनशिप-डब्ल्यू. टी. सी. का फाइनल अब से कुछ देर बाद शुरू होने वाला है। वर्षा के कारण टॉस में देरी हुई। पहले दिन खेल का प्रारंभिक सत्र नहीं होगा। मैच से संबंधित अधिकारी मैदान का निरीक्षण कर रहे हैं, क्योंकि इस समय बूंदा बांदी हो रही है।

इस मैच का सीधा प्रसारण डीडी स्‍पोटर्स चैनल-1 करेगा। आकाशवाणी से मैच का आंखो देखा हाल एफएम रेनबो, स्‍थानीय एफएम रेडियो स्‍टेशन, डिजिटल रेडियो ट्रांसमीटरों और अतिरिक्‍त एफएम ट्रांसमीटरों पर प्रसारित किया जाएगा। ये डीडी फ्री डिश के डीटीएच सेटेलाइट रेडियो पर भी उपलब्‍ध रहेगा।

-----

जापान की नाओमी ओसाका इस वर्ष विंबलडन में नहीं खेलेंगी लेकिन तोक्यो ओलंपिक में भाग लेने की उनकी योजना है। दुनिया की दूसरे नंबर की खिलाड़ी ने कहा है कि वह तोक्यो में घरेलू प्रशंसकों की उपस्थिति में खेलने के लिए उत्साहित हैं।

----

तोक्यो ओलंपिक खेलों में अब 36 दिन शेष हैं। आकाशवाणी से जारी श्रृंखला में आज हम बात करेंगे 69 किलोग्राम भारवर्ग के शीर्ष भारतीय मुक्केबाज विकास कृष्णन की।

मुझसे मेरे फादर की एक च्वाइस थी, वो चाहते थे कि मैं स्ट्रोंग बनूं, इसलिए उन्होंने मुझे बॉक्सिंग में डाला था 2001-02 में और जब मैं सोचने के लायक हुआ तो जब ये मेरा ड्रीम हो चुका था ताकि मैं कंट्री को रिप्रेंजेटिव करूं। सुबह-शाम मेरे दिमाग में सिर्फ यही लाइन है कि मुझे ओलंपिक जीतना है।

विकास का जन्‍म हरियाणा के हिसार में 10 फरवरी 1992 को हुआ था। वह भारत के शीर्ष मुक्‍केबाज हैं और उन्‍हें एक दशक के ज्‍यादा खेलने का अनुभव है। वर्ष 2010 में अपने करियर की शुरूआत में विकास उस समय चर्चा में आए थे। जब उन्‍होंने जूनियर विश्‍व चैंपियनशिप में स्‍वर्ण और यूथ ओलिंपिक में कांस्‍य पदक जीता था। इससे पहले उन्‍होंने एशियन गेम्‍स में स्‍वर्ण पदक पर कब्‍जा किया था। वर्ष 2011 में विकास ने सीनियर वर्ल्‍ड चैंपियनशिप में कांस्‍य पदक हासिल किया और पहली बार 2012 के लंदन ओलिंपिक में भारत का प्रतिनिधित्‍व किया।

----

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आधुनिक जाम्बिया के प्रथम राष्‍ट्रपति और संस्‍थापक डॉक्‍टर केनेथ कोंडा के निधन पर दुख व्‍यक्‍त किया है। श्री कोविंद ने कहा कि उन्‍हें 2018 में डॉक्‍टर कोंडा से मिलने का सौभाग्‍य मिला था। उन्‍होंने कहा कि  अफ्रीकी नेता और गांधीवादी डॉक्‍टर कोंडा का योगदान कभी भुलाया नहीं जा सकता।

----

विज्ञान विषय में पी एच डी करने वाली पहली भारतीय महिला प्रोफेसर कमला सोहोनी की आज जयन्‍ती है। केन्‍द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने एक ट्वीट कर उन्‍हें याद किया। प्रोफेसर कमला सोहोनी ने 1939 में कैम्ब्रिज विश्‍वविदयालय से पी एच डी की उपाधि हासिल की।

-----

संस्‍कृ‍ति संदेश -

आज 18 जून है और आज ऐसी तीन हस्तियों की पुण्य तिथि है, जिन्होंने तीन अलग-अलग क्षेत्रों में अपना ऐसा स्थान बनाया, जिनके लिए आज उन्हें पूरे सम्मान से याद किया जाता है। यह हैं हिंदी जानेमाने साहित्यकार और राजनेता सेठ गोविंद दास, भारतीय सिनेमा की “पहली महिला सुपरस्टार“ नसीम बानो और भारतीय शास्त्रीय संगीतज्ञ और सरोद वादक अली अक़बर ख़ाँ साहब। राष्ट्रभाषा हिंदी के प्रबल समर्थक सेठ गोविंद दास का जन्म 16 अक्टूबर 1896 को जबलपुर एक व्यापारी परिवार में हुआ था। बाद में उन्होंने देश के स्वतंत्रता संग्राम में सक्रिय भाग लिया। सेठ गोविंद दास महात्मा गांधी के निकट सहयोगी माने जाते थे। देश के स्वतंत्रता आंदोलन के दौरान अंग्रेजों ने उन्हें आठ महीने के लिए दमोह में जेल में डाल दिया। जेल में उन्होंने सामाजिक, पौराणिक और दार्शनिक पृष्ठभूमि के चार नाटक लिखे जिनके नाम थे ’प्रकाश’, ’कार्तव्य’, ’नवरस’ और एक ’स्पर्धा’। आज़ादी के बाद वे संसद के लिए चुने गए। भारत सरकार ने उन्हें 1961 में उन्हें पद्म भूषण से सम्मानित किया। और अब बात करते हैं भारतीय सिनेमा की “पहली महिला सुपरस्टार“ नसीम बानो की। 4 जुलाई 1916 को जन्मी नसीम को बाद में “ब्यूटी क्वीन“ के नाम से भी जाना गया। सोहराब मोदी के साथ उनकी पहली फिल्म ‘खून का खून‘ 1935 में आई थी। 1939 में सोहराब मोदी की फिल्म ‘पुकार‘ में उन्होंने महारानी नूरजहाँ की भूमिका निभाई। उस समय वे चोटी की अदाकारा मानी जाती थी। नसीम बानो ने 1930 के दशक से 1950 के दशक तक फिल्मों में काम किया। और अब बात करते हैं उस्ताद अली अकबर खां साहब की। खॉ साहब मैहर घराने के भारतीय शास्त्रीय संगीतज्ञ और सरोद वादक थे। उनकी विश्वव्यापी संगीत प्रस्तुतियों ने भारतीय शास्त्रीय संगीत तथा सरोद वादन को लोकप्रिय बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। अली अक़बर ख़ाँ का जन्म 14 अप्रैल 1922 को बांग्लादेश में हुआ। इन्होंने अपनी गायन तथा वादन की शिक्षा अपने पिता, चाचा और उस्ताद अल्लाउद्दीन खाँ से ली। इन्होंने कई साज़ों में महारत हासिल की, लेकिन बाद में इन्होंने निश्चय किया, कि इन्हें सरोद पर ही ध्यान देना चाहिए। इन्होने अपनी पहली प्रस्तुति लगभग 13 वर्ष की आयु में दी और 22 वर्ष की आयु में वे जोधपुर राज्य के दरबारी संगीतकार बन गए। 1955 में अमेरिका के टेलीविजन अलीस्टेर कूक के “आमनीबस“ में प्रस्तुति देने वाले पहले भारतीय शास्त्रीय संगीतज्ञ बने।  इन्होंने देश विदेश में संगीत के कई विद्यालयों की स्थापना की। खाँ साहब को 1988 में पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया। 1997 में संयुक्त राज्य अमेरिका का कला के क्षेत्र में सबसे ऊँचा सम्मान नेशनल हैरिटेज फ़ेलोशिप दिया गया। सरोद वादक अली अकबर खान का 88 वर्ष की उम्र में 2009 में अमरीका में निधन हो गया। 

----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 5 (Aug) Midday News 5 (Aug) Evening News 5 (Aug) Hourly 6 (Aug) (0610hrs)
समाचार प्रभात 5 (Aug) दोपहर समाचार 5 (Aug) समाचार संध्या 5 (Aug) प्रति घंटा समाचार 6 (Aug) (0600hrs)
Khabarnama (Mor) 5 (Aug) Khabrein(Day) 5 (Aug) Khabrein(Eve) 5 (Aug)
Aaj Savere 5 (Aug) Parikrama 5 (Aug)

Listen Programs

Market Mantra 5 (Aug) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 5 (Aug) Spotlight/News Analysis 5 (Aug) Employment News 5 (Aug) रोजगार समाचार 5 (Aug) World News 5 (Aug) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 5 (Aug) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 31 (Jul) North East Diary 5 (Aug)