A- A A+
Last Updated : Jun 19 2021 10:52PM     Screen Reader Access
News Highlights
Centre to kick-start free distribution of 75% of total COVID vaccines to States, UTs            Over 27.23 crore vaccine doses administered in country so far; National recovery rate reaches 96.16%            Centre asks States, UTs to take strict action against those who assault healthcare professionals            Telangana govt to lift COVID-19 restrictions in state from tomorrow            Education Ministry releases guidelines for parent participation in home-based learning           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
13.05.2021
मुख्य समाचार:-
  • केंद्र सरकार कोविड टीके की उपलब्धता बढ़ाने के लिए लगातार और सक्रिय रूप से काम कर रही है।
  • देश में अब तक करीब 18 करोड़ टीके लगाए गए।
  • कोविशील्ड टीके की दो खुराकों के बीच अंतराल छह से आठ सप्ताह से बढ़ाकर 12 से 16 सप्ताह किया गया।
  • देश में पिछले एक सप्ताह में संक्रमण दर में कमी आई है।
  • रेलवे ने अब तक सात हजार मीट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन देश भर में पहुंचाई।
  • बिहार में लॉकडाउन 25 मई और महाराष्ट्र में एक जून तक बढ़ाया गया।
  • प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत कल आर्थिक मदद की आठवीं किस्त जारी करेंगे।
  • संघ लोक सेवा आयोग - यूपीएससी की सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा अब 10 अक्तूबर को होगी।

-------

कोविड मरीजों की संख्‍या बढ़ रही है। श्रोताओं से अपील है कि कोई भी कोताही न बरतें। 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग नि:संकोच टीका लगवाएं। सुरक्षा के तीन आसान उपायों का पालन करें और सुरक्षित रहें। 

  • मास्‍क पहनें
  • दो गज दूरी, है जरूरी
  • सुरक्षित दूरी बनाये रखें
  • हाथ और मुंह साफ रखें

-------

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि केंद्र सरकार वैक्सीनों की उपलब्धता सुरक्षित करने और बढ़ाने के लगातार और अत्यधिक सक्रियता से कार्य कर रही है। मंत्रालय ने कहा है कि कोवैक्सीन के लिए लाइसेंस देने में देरी और देश में कोवैक्सीन के निर्माण के लिए तकनीक के हस्तांतरण की स्वीकृति में देरी के आरोप संबंधी मीडिया की खबरें निराधार और तथ्यहीन हैं।  


मंत्रालय ने कहा कि नई उदार मूल्यन और त्वरित राष्ट्रीय कोविड टीकाकरण रणनीति का उद्देश्य वैक्सीन की मूल्य व्यवस्था को उदार बनाना तथा टीकाकरण की प्रक्रिया में तेजी लाना है। इससे, वैक्सीन निर्माताओं को तेजी से उत्पादन बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित किया जा सकेगा और नए वैक्सीन निर्माताओं को आकर्षित किया जा सकेगा। इससे वैक्सीन के मूल्यन, खरीद और प्रशासन को ज्यादा लचीला बनाया जा सकेगा और वैक्सीन उत्पादन बढ़ाने के साथ साथ देश में वैक्सीन की उपलब्धता बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।


मंत्रालय ने कहा कि कोविड वैक्सीन का घरेलू उत्पादन बढ़ाने की नीति के तहत सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रर्मों और निजी क्षेत्र की कम्पनियों को अत्यधिक सक्रियता से प्रोत्साहित कर रही है ताकि वे भारतीय वैक्सीन निर्माताओं के साथ तकनीक के हस्तांतरण के समझौते कर सकें।

-------

भारत में पिछले तीन दिन में दैनिक कोविड मरीजों की संख्या और संक्रमण दर में स्थिरता आई है। देश में संक्रमण दर घट कर 21 दशमलव शून्य दो प्रतिशत रह गई है, जो पिछले सप्ताह 21 दशमलव नौ पांच प्रतिशत थी। स्वास्थ्य मंत्रालय में संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने आज नई दिल्ली में संवाददाताओं को बताया कि देश के 187 जिलों में पिछले दो सप्ताह से संक्रमित लोगों की संख्या लगातार कम हो रही है।


केरल, तमिलनाडु, वेस्‍ट बंगाल, ओडिशा, पंजाब, असम, हिमाचल प्रदेश, पुद्दुचेरी और मणिपुर ऐसे कुछ स्‍टेट, जहां पर एक इनक्रीजिंग ट्रेडिंग केसेज़ अभी भी नोट किया जा रहा है। देश में 187 ऐसे जिले हैं, जहां पर पिछले दो हफ्तों से केस में एक रिलेटिवली लोवर ट्रेंड नोट किया जा रहा है, जिसमें मुख्‍यत: नासिक, ठाणे, अलवर, सूरत और वाराणसी ऐसे जिले हैं, जहां पर एक कॉन्‍टीन्‍यू ट्रेडिंग ट्रांसफर डिक्रीजिंग केसेज़ नोट किया जा रहा है। 


संयुक्त सचिव ने कहा कि 12 राज्य ऐसे हैं, जहां एक लाख से अधिक कोविड मरीज हैं।


करीब 12 स्‍टेट ऐसी हैं, जहां पर एक लाख से अधिक एक्टिव केसेज हैं। आठ स्‍टेट ऐसी हैं, जहां पचास हजार एक लाख एक्टिव केसेज हैं और पचास हजार से कम वाली 16 स्‍टेट हैं। आज बिहार में एक लाख से कम एक्टिव केसेज हैं। 24 स्‍टेट ऐसे हैं, जहां पर कि 15 परसेंट से अधिक पॉजिटिविटी है। 5 परसेंट से 10 परसेंट पॉजिटिविटी वाली 8 स्‍टेट हैं और 5 परसेंट से कम पॉजिटिविटी वाली चार स्‍टेट हैं। स्‍ट्रेटजीलेवल पॉजिटिविटी ओवरऑल पिछले एक हफ्ते में 21.95 परसेंट से घटकर 21.02 परसेंट थोड़ा सा कमी आ रही है।


नीति आयोग में स्वास्थ्य संबंधी मामलों के सदस्य डॉक्टर वी.के. पॉल ने कहा कि देश में करीब 18 करोड़ कोविड टीके लगाए गए हैं। उन्होंने बताया कि 45 वर्ष से अधिक उम्र के करीब 33 प्रतिशत लोग सुरक्षित हो गए हैं। उन्होंने कहा कि अब तक 35 करोड़ साठ लाख वैक्सीन खरीदी गई हैं।


भारत में लगभग करीब 18 करोड़ के करीब डोज़ लग चुकी हैं।  यूनाइटेड स्‍टेट में कोई 26 करोड़ के करीब है और चाइना का डेटा अपने तरीके से दिखाता है कि उसे हायर है। तीसरे नंबर है देश, ये नेरेटिव भी अपने आप में इम्‍पोटेंड है। अभी तक 35.6 करोड़ वैक्‍सीन डोज हैब बीन प्रोक्‍योड। पीएम केय फंड के अंतर्गत 6 करोड़ डोज प्रोक्‍योर किया गया। फेज-2 में 12 करोड़ डोज़ज को प्रोक्‍योर किया। थर्ड फेज में भारत सरकार ने 16 करोड़ डोज को प्रोक्‍योर किया। इस प्रकार अभी तक 35.6 करोड़ डोज़ज को प्रोक्‍योर किया गया। इसके अलावा 16 करोड़ और डोज़ज हैं जोकि स्‍टेट्स ने और प्राइवेट हॉस्पिटल्‍स ने नई नीति के अंतर्गत, जो कुल मिलाकर जुलाई में अगर हम देखें तो 51.6 करोड़ डोज़ज जो हैं वो एविलेवल हैं। 


डॉक्टर पॉल ने कहा कि भारत में इस वर्ष अगस्त से दिसम्बर तक दो अरब 16 करोड़ टीके बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं होना चाहिए कि आगे चल कर सबके लिए वैक्सीन उपलब्ध होगी।


अभी तक दो वैक्‍सीन के ऊपर हम चले हैं। स्‍पूतनिक वैक्‍सीन भी आ गया है। अगर हम अगस्‍त और दिसंबर में एवेलिविटी जो हमने इन कंपनियों से संपर्क करके इंफोर्मेशन कलेक्‍ट की हैं। कोविशिल्‍ड 75 करोड़ डोज पैदा करेंगे अगस्‍त और दिसंबर में। कोवैक्‍सीन 55 करोड़ भारत बायोटैक बनाएंगे और तीन और कंपनीज पीएसयू  के साथ काम करके बनाएंगी 55 करोड़। हमें उम्‍मीद है कि बायोलॉजिकल-ई एक वैक्‍सीन जोकि अब फेज थ्री के स्‍टेज पर है कि प्रोडेक्‍शन जल्‍दी शुरू होगी। 30 करोड़ डोज हमें वहां से मिलेंगी। जायडस कैडिला का डीएनए वैक्‍सीन है फेज थ्री के लास्‍ट स्‍टेज में पहुंचा हुआ। जल्‍दी ही वो लाइसेंस के लिए अप्‍लाई करेंगे। कम से पांच करोड़ डोज हमें उम्‍मीद है वहां से आएंगी।

-------


स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कोविशील्‍ड वैक्‍सीन की दो खुराकों के बीच अंतर छह से आठ सप्‍ताह से बढाकर 12 से 16 सप्‍ताह कर दिया है। मंत्रालय ने कहा है कि डॉक्‍टर एन के अरोडा की अध्‍यक्षता में कोविड कार्य समूह ने कोविशील्‍ड के पहले और दूसरे टीके के बीच अंतर बढाने की सिफारिश की थी। इस समय कोविशील्‍ड के पहले और दूसरे टीके के बीच छह से आठ सप्‍ताह का अंतर रखा जाता है। मंत्रालय ने कहा कि विशेष रूप से ब्रिटेन से उपलब्‍ध प्रमाणों के आधार कोविड कार्य समूह कोविशील्‍ड की पहल और दूसरे टीके के बीच अंतर बढाकर 12 से 16 सप्‍ताह करने पर सहमत हुआ है। कोवैक्‍सीन के दोनों टीकों के बीच अंतराल में किसी परिवर्तन की सिफारिश नहीं की गई है।

-------


भारत बायोटेक को दो वर्ष से 18 वर्ष आयु वर्ग के बच्‍चों पर कोविड टीके कोवैक्‍सीन के दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण की अनुमति दी गयी है। ये परीक्षण पांच सौ पच्‍चीस स्‍वस्‍थ स्‍वयं सेवकों पर किए जाएंगे। परीक्षण के दौरान स्‍वयंसेवकों को दोनों टीके लगांए जाएंगे। दोनों टीकों के बीच  28 दिनों का अंतराल होगा।

-------


रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन-डीआरडीओ के वैज्ञानिकों ने हाल ही में कोविड मरीजों के लिए जीवन रक्षक दवा 2 डी जी विकसित की है। यह औषधि गंभीर कोविड मरीजों के उपचार में सहायता करती है। इससे संक्रमण को फैलने से रोकने में मदद मिलेगी। यह मरीजों में ऑक्सीजन की आवश्यकता को भी कम करेगी। आकाशवाणी से विशेष साक्षात्कार में नाभिकीय औषधि और सम्बद्ध विज्ञान संस्थान के निदेशक डॉक्टर अनिल कुमार मिश्र ने बताया कि यह औषधि रोगियों का जीवन बचाती है।


बैक्‍टीरिया और इस तरह के स्‍ट्रेन हैं, जिनका बहुत फास्‍ट मल्‍टीफिलिकेशन होता है। जितने ज्‍यादा डिवाइड होगा, जितना ज्‍यादा मल्‍टीप्‍लेशन होगा उतनी ही उनको एनर्जी की जरूरत होगी। यह एनर्जी की आपूर्ति कहां से होगी, इसके लिए एक हमारे यहां ट्रांसपोटर कहा जाता है, जिसको ग्‍लूरिसेप्‍टर कहते हैं। ग्‍लूरिसेप्‍टर के माध्‍यम से ये दवाएं अंदर जाती हैं और मिलता रहता है उनको। ये ग्‍लूकोज उनको अपडेट होती रहती है, जिसको वो मल्‍टीप्‍लाई करते रहते हैं, तो उसी का एक एनालॉग है ग्‍लूकोज का 2डीजी ऑक्‍सी ग्‍लूकोज है जोकि ग्‍लूकोज की तरह दिखता है, पर ग्‍लूकोज है नहीं, तो उसमें इतना ज्‍यादा रिसेप्‍टर होते हैं ग्‍लाकोप्रोटीन के, जो उस डीऑक्‍सी ग्‍लूकोज को, उसको लेने में, बहुत ज्‍यादा चाहिए तो उसको बहुत रास्‍ते मिल जाते हैं, जिससे कि आकर वो उसके अंदर ट्रैक हो जाता है वायरस के और जैसे ही वो ट्रैक होता है वो वहीं पर उसके सेल की प्रोपेशन की प्रोसेज है, उस डिवाइड होने का जो प्रोसेस होता है, वो वहीं पर एरेस्‍ट हो जाती है।


डॉक्टर मिश्र ने कहा कि यह औषधि शुरू में ब्रेन ट्यूमर मरीजों के लिए बनाई गई थी, लेकिन हाल ही में इसे कोविड उपचार के अनुकूल बनाया गया है।


जिसका पहला उद्देश्‍य ये था कि उस समय जो ब्रेन ट्यूमर को ट्रीट करने के लिए हमारे पास कोई एग्जिवेंट नहीं थी, जोकि सॉलिड ट्यूमर में देते। उस प्रक्रिया में उस दवा का प्रयोग किया और प्रयोग करने से बड़ी सफलता मिली, लेकिन जब ये करोना का दौर आया देश में। उस वक्‍त मेरे दो वैज्ञानिकों ने मैन  लाइन पर काम किया जो वायरस के थे कोविड के हिसाब से और उनको बहुत अच्‍छी सफलता मिली। 

-------


स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्ष वर्धन ने आज अधिक संक्रमण वाले पांच राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ कोविड की स्थिति और टीकाकरण अभियान की समीक्षा की। डॉक्टर हर्ष वर्धन ने कहा कि महाराष्ट्र, राजस्थान, तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक और दिल्ली में दैनिक कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि महामारी को परास्त करने के लिए जांच, निगरानी, उपचार और समुचित व्यवहार आवश्यक है। डॉक्टर हर्षवर्धन ने बताया कि देश में वैक्सीन उत्पादन का 50 प्रतिशत हिस्सा केंद्र सरकार खरीद रही है और राज्यों को निशुल्क दे रही है। उन्होंने राज्यों से आग्रह किया कि 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को दूसरा टीका लगाने पर ध्यान दें। 

-------


देश में कल तीन लाख 52 हजार से अधिक मरीज स्वस्थ हुए हैं। कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर 83 दशमलव दो-छह प्रतिशत है। एक करोड़ 97 लाख से अधिक मरीज इस बीमारी से उबर चुके हैं। वर्तमान में, देश में 37 लाख 10 हजार मरीज उपचाराधीन है जो कुल संक्रमित मरीजों का 15 दशमलव छह-पांच प्रतिशत है। कल तीन लाख 62 हजार 727 नये रोगियों की पुष्टि हुई है। अब तक दो करोड़ 37 लाख से अधिक लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। कल चार हजार एक सौ बीस लोगों की संक्रमण से मृत्‍यु हुई है। कोविड से मरने वालों की संख्‍या दो लाख 58 हजार हो गई है। कल 18 लाख 64 हजार से अधिक कोविड जांच हुई। अब तक 30 करोड़ 94 लाख से अधिक कोविड जांच हो चुकी है।

-------

रेलवे ने विभिन्‍न राज्‍यों में लगभग सात हजार 115 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन पहुंचाई है। ऑक्सीजन के चार सौ चवालीस से अधिक टैंकर राज्यों में पहुंचाए गए हैं। रेल मंत्रालय ने कहा है कि अब तक एक सौ पंद्रह ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस ने यात्रा पूरी कर ली है। अब तक महाराष्‍ट्र को 407, उत्‍तर प्रदेश को एक हजार 960, मध्‍य प्रदेश को 361, हरियाणा को 135, तेलंगाना को 188, राजस्‍थान को 72, कर्नाटक को 120 और दिल्‍ली को दो हजार 748 मीट्रिक टन ऑक्‍सीजन पहुंचाई गई है। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में अब तक तीन हजार नौ सौ मीट्रिक टन से अधिक ऑक्सीजन की आपूर्ति हुई है।

-------


सरकार, विभिन्‍न देशों से प्राप्‍त चिकित्‍सा उपकरण और दवाओं का आवंटन राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों को लगातार कर रही है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कि अब तक कुल नौ हजार 284 ऑक्‍सीजन कंसन्‍ट्रेटर, सात हजार से अधिक ऑक्‍सीजन सिलेण्‍डर और 19 ऑक्‍सीजन उत्‍पादन संयंत्र राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों को भेजे जा चुके हैं। पांच हजार 933 वेंटीलेटर और बाई पीएपी मशीनें तथा तीन लाख 44 हजार रेमडेसिविर की शीशियां भी भेजी गयी हैं।

-------


इटली से 30 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, दो वेंटिलेटर और अन्य चिकित्सा उपकरणों की एक और खेप आज भारत पहुंची। इससे ग्रेटर नोएडा में आईटीबीपी के अस्पताल में संचालित ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्र की क्षमता बढ़ेगी। यह संयंत्र हाल ही में इटली ने ही भेजा था। इसके अलावा ब्रिटेन की ब्रिटिश ऑक्सीजन कम्पनी ने एक हजार दो सौ ऑक्सीजन सिलेंडर भी भेजे हैं।

-------


सरकार ने कहा है कि मेड इन इंडिया वेंटिलेटरों ने प्रभावी कोविड प्रबंधन के लिए अस्‍पतालों के बुनियादी ढांचे को मजबूत किया है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कुछ मीडिया रिपोर्टों में कहा गया है कि सरकार द्वारा जीजीएस मेडिकल कॉलेज और अस्‍पताल फरीदकोट पंजाब में भेजे गए वेंटिलेटर तकनीकी कारणों से निर्माता द्वारा मरम्‍मत किए जाने के बावजूद भी काम नहीं कर रहे हैं।  इस मामले में मीडिया ने पूरी जानकारी नहीं प्राप्‍त की है। मीडिया द्वारा हाल में की गई रिपोर्ट में कहा गया है कि एजी वीए द्वारा जीजीएस मेडिकल कॉलेज और अस्‍पताल को भेज गए अस्‍सी में से 71 वेंटिलेटर काम नहीं कर रहे हैं। मंत्रालय ने स्‍पष्‍ट किया है कि भारत इलेक्‍टोनिक लिमिटेड द्वारा 88 वेंटिलेटर और एजी वीए ने पांच वेंटिलेटरों की आपूर्ति की थी और इसे स्‍थापित किए थे। इन वेंटिलेटरों को अस्‍पताल द्वारा स्‍वीकार्य प्रमाणपत्र दिया गया।

-------


महाराष्ट्र  में लॉकडाउन अगले 15 और दिनों के लिए पहली जून तक बढा दिए गए हैं। सरकार ने कहा है कि राज्य में प्रवेश करने वाले सभी लोगों को आरटी-पीसीआर की नेगेटिव रिपोर्ट प्रस्तुत करनी होगी। एक रिपोर्ट-


आज जारी निर्देशों में कहा गया है कि देश के किसी भी हिस्‍से से आने वाले लोगों को निगेटिव आरटीपीसीआर परीक्षण रिपोर्ट देनी होगी। माल वाहन में केवल दो व्‍यक्तियों यानी ड्राइवर और क्‍लीनर को परिवहन करने की अनुमति होगी। यदि कोई वाहन महाराष्‍ट्र के बाहर से आ रहा है, तो आरटीपीसीआर परीक्षण रिपोर्ट वाहन के राज्‍य में प्रवेश करने के 48 घंटे से अधिक पुरानी नहीं होनी चाहिए। इसके अलावा कोविड-19 प्रबंधन से संबंधित दवाओं और अन्‍य सामग्रियों के परिवहन से जुड़े हवाई अड्डे और बंदरगाहों पर काम करने वाले कर्मचारियों को उपनगरीय लोकल ट्रेनों, मोनो रेल और मेट्रो सेवा द्वारा आवागमन की अनुमति दी जाएगी। स्‍थानीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण को आवश्‍यकता के अनुसार अपने क्षेत्रों में अधिक सख्‍त प्रतिबंध लगाने के लिए अधिकृत किया गया है और इसकी घोषणा 48 घंटे पहले करनी होगी। कुणाल शिंदे, आकाशवाणी समाचार मुंबई। 

-------


बिहार के मुख्‍यमंत्री नितीश कुमार ने लॉकडाउन की अवधि 25 मई तक बढाने की घोषणा की है। अभी लॉकडाउन की अवधि 16 मई तक है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान कोरोना संक्रमित मामलों में कमी आई है। लॉकडाउन के दौरान टीकाकरण केन्‍द्र और बैंक खुले रहेंगे तथा आवश्‍यक सेवाएं जारी रहेंगी।

-------


मेघालय में आज रिकॉर्ड नए मरीजों की पुष्टि के बाद राज्‍य सरकार ने 24 मई तक पूर्वी खासी पर्वतीय जिले में लॉकडाउन बढ़ाने का फैसला किया है। पूर्वी खासी पर्वतीय जिले में कोविड मरीजों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है। राज्‍य में लॉकडाउन 17 मई को समाप्‍त होने वाला था।

-------


कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी.एस. येडियुरप्पा ने कहा है कि राज्य में कोविड मरीजों की संख्या में गिरावट हो रही है। सरकारी कोविड अस्पतालों में ढांचागत सुधार के प्रयासों के बारे में श्री येडियुरप्पा ने कहा कि ऑक्सीजन सुविधा वाले बिस्तरों की संख्या मार्च में एक हजार नौ सौ सत्तर थी, जो अब चौबीस हजार हो गई है। एक रिपोर्ट-


राज्‍य में ऑक्‍सीजन सप्‍लाई में सुधार आया है। केन्‍द्र सरकार द्वारा दिये जाने वाले ऑक्‍सीजन को नौ सौ 65 टन से एक हजार 15 टन बढ़ाया गया है। इसके अलावा बहरीन और कुवैत से भी ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई हुई है। जमशेदपुर से 120 टन ऑक्‍सीजन प्राप्त हुआ है। मुख्यमंत्री ने जानकारी दी है कि ऑक्सीजन उत्‍पादन के लिए राज्‍य सरकार द्वारा 62 ऑक्सीजन प्‍लांट, केन्‍द्र सरकार द्वारा 28, एनएचएआई द्वारा 24, निजी कंपनियों द्वारा 11 और दो ऑक्सीजन प्‍लांट अन्‍य देशों की मदद से बनाए जा रहे हैं। राज्य द्वारा पांच करोड़ डोज़ वैक्‍सीन खरीदने के ऑर्डर दिए गए हैं। सुधींद्रा आकाशवाणी समाचार बेंगलुरु।

-------


कोविड महामारी के मुश्किल हालात को आसान बनाने के लिए सोशल मीडिया सहायक मंच के रूप में काम कर रहा है। मरीजों की संख्या में अचानक वृद्धि के कारण देशभर के लोग सहायता के लिए ट्वीटर, फेसबुक, वाट्सएप और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर काम कर रहे हैं। एक रिपोर्ट-


सोशल मीडिया ने संकट की घड़ी में एक बहुत ही सकारात्मक भूमिका निभायी है। लोगों की मदद करने के लिए सोशल मीडिया के ज़रिए पूरा समाज एकजुट होकर साथ खड़ा हो गाया। आकाशवाणी समाचार से बात करते हुए, साइबर एक्सपर्ट जितेन जैन ने कहा कि सोशल मीडिया लोगों को समाज से मदद पाने के लिए एक हेल्पलाइन बन गया।


साइबर विशेषज्ञ जैन ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में सोशल मीडिया की पहुंच अभी भी सीमित है और इसे और बढ़ाने का समय आ गया है।



सरकार ने भी कोविड एप्रोप्रीएट बिहेव्यर के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग किया। सोशल मीडिया ने एक बहुत मजबूत संचार मंच के रूप में भी काम किया और कोविड-19 से संबंधित गलत सूचनाओं को दूर करने में मदद की। आकाशवाणी समाचार के लिए दिल्ली से दीक्षा सक्सेना।

-------


कोविड से पीडि़त मरीजों को स्‍वास्‍थ्‍य सेवाएं प्राप्‍त करने में ई संजीवनी प्‍लेटफार्म बहुत लाभकारी साबित हो रहा है। इस टेली मेडिसिन सेवा देश में पचास लाख से अधिक मरीजों को अपनी सेवा का लाभ दे चुकी है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने कहा है कि ई संजीवनी प्‍लेटफार्म की सेवाएं 31 राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों में चल रही हैं और प्रतिदिन देशभर के करीब चालीस हजार मरीज़ इस सुविधा का लाभ उठा रहे हैं।

-------


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल दिन में 11 बजे प्रधानमंत्री किसान सम्‍मान निधि -पीएम किसान योजना के अंतर्गत आर्थिक सहायता के रूप में आठवीं किस्‍त जारी करेंगे। इसके अंतर्गत 19 हजार करोड़ रूपये से अधिक की राशि 9 करोड़ 50 लाख से अधिक किसान परिवारों के बैंक खातों में भेजी जाएगी। प्रधानमंत्री इस अवसर पर कुछ लाभार्थियों से बातचीत भी करेंगे। लाभार्थियों को प्रत्‍येक वर्ष 6 हजार रूपये की आर्थिक सहायता तीन किस्तों में प्रदान की जाती है। अब तक एक लाख 15 हजार करोड़ रूपये से अधिक की राशि किसान परिवारों को प्रदान की जा चुकी है।

-------


वित्त मंत्री निर्मला सीतारामन ने आज किफायती और मध्यम आय वर्ग के आवासों की योजना के अंतर्गत पहली आवासीय परियोजना के खरीदारों को मकानों के स्वामित्व के कागजात सौंपे। मुम्बई के रिवाली पार्क में यह आवासीय परियोजना देश की पहली परियोजना है, जिसे किफायती और मध्यम आय वर्ग के आवासों की योजना - स्वामीह फंड से सहायता उपलब्ध कराई गई है। वित्त मंत्री ने नवम्बर 2019 में इस फंड की शुरुआत की थी। वित्त मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने किफायती और मध्यम आय वर्ग की आवासीय परियोजनाओं को आर्थिक सहायता उपलब्ध कराने के प्रयास किए हैं ताकि मकानों के खरीदारों को राहत मिल सके।

-------


मुख्‍य न्‍यायाधीश एन.वी. रमणा ने पत्रकारों के लिए आज सर्वोच्‍च न्‍यायालय की कार्यवाही की रिपोर्टिंग करने के लिए आधिकारिक मोबाइल एप्लिकेशन की आज शुरूआत की। श्री रमणा ने कहा कि सर्वोच्‍च न्‍यायालय के आदेशों तक आम लोगों की पहुंच महत्‍वपूर्ण है और सूचना प्रदान करने में मीडिया की अहम भूमिका है। उच्‍चतम न्‍यायालय में अदालती कार्यवाही का सजीव प्रसारण शुरू करने के बारे में प्रयास किए जा रहे हैं।

-------


निर्वाचन आयोग ने कहा है कि कोविड संक्रमण में सुधार होने तक आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में विधान परिषदों के चुनाव कराना उचित नहीं होगा। आयोग ने कहा कि कोविड महामारी की दूसरी लहर से उत्पन्न स्थिति की समीक्षा के बाद कोई फैसला किया जाएगा। इस बीच, आयोग ने व्यापक सुधारों की प्रक्रिया को आगे बढ़ाते हुए आयोग के महासचिव के नेतृत्व में समिति गठित करने का फैसला किया है। यह समिति असम, बिहार, केरल, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और पुद्दुचेरी में हाल की चुनाव प्रक्रिया के दौरान अनुभव से मिली सीख और खामियों की पहचान करेगी।

-------


संघ लोक सेवा आयोग ने 27 जून को होने वाली सिविल सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा को स्थगित कर दिया है। कोरोना वायरस की मौजूदा स्थिति को देखते हुए यह निर्णय लिया गया है। परीक्षा का आयोजन अब 10 अक्टूबर को किया जाएगा।

-------


केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में आज ईद-उल-फितर का त्यौहार धार्मिक उल्लास के साथ मनाया जा रहा है। उपराज्‍यपाल मनोज सिन्हा ने लोगों को बधाई दी है। राज्‍य में कोविड दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए ईद मनाई जा रही है।


कश्‍मीर घाटी में ईद-उल-फितर का त्‍यौहार काफी सदगी से मनया गया। मुस्लिम समुदाय ने पवित्र रमज़ान के रोजों के समाप्ति के उपरांत अपनी प्रार्थनाओं को स्‍थानीय मस्जिदों में छोटी-छोटी सभाएं बनाकर सामाजिक दूरी और अन्‍य कोविड दिशा-निर्देशों का अनुपालन करते हुए अदा की। इस बीच, पूरे कश्‍मीर घाटी में संपूर्ण लॉकडाउन देखने को मिला और सड़कों पर वाहनों की आवाजाही भी प्रभावित रही। सिर्फ मीडिया, सरकारी कर्मचारियों, आवश्‍यक सेवाएं वैध पासेस के साथ और मेडिकल इमरजेंसी की जरूरत पड़ने वालों लोगों को ही सड़कों पर चलने वालों को चलने की अनुमति दी गई। आकाशवाणी समाचार के लिए श्रीनगर से मैं सुनील कौल।

-------


लद्दाख में आकाशावाणी लेह अपनी स्‍थापना की 50वीं वर्षगांठ बनाने जा रहा है। हमारी संवाददाता की यह विशेष रिपोर्ट-


कुंगयाम गांव चंगथांग इलाके का छोटा सा गांव होने के बावजूद या गांव खास है। फैला हुआ चंगथांग इलाके का यह पहला रेवेन्यू गांव है जो की आप दुरबुक और न्योमा ब्लॉक बन चुका है। इस गांव के लोग समाचार या अन्‍य चहिता लद्दाकी प्रोग्राम सुनने के लिए हर वक्‍त रेडियो सुनना पसंद करते हैं। इस बारे मै श्री ताशी पल्डान ने हमे बताया।


गांववासियों ने कुंग्यम जैसे गांव जो दूर दराज और अंदर जा कर बसते हैं उन्‍होंने अच्‍छे प्रोग्राम सुनने के लिए अच्छे रेडियो सिग्नल का अनुरोध किया हैं। आकाशवाणी समाचार के लिए रमेश चंद्र के साथ कुंग्यम गांव से मैं दिस्कित डोलमा।

-------


अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद-आई. सी. सी. की ताजा टेस्ट रैंकिंग में भारतीय टीम शीर्ष स्थान पर है। वहीं, न्यूजीलैंड दूसरे, इंग्लैंड तीसरे और ऑस्ट्रेलिया चौथे स्थान पर है।

-------


दक्षिण-पूर्व अरब सागर में बना कम दबाव का क्षेत्र तेज होकर रविवार तक चक्रवाती तूफान में बदल सकता है। मौसम विभाग ने बताया कि इसके कल सुबह तक लक्षद्वीप तक पहुंचने की संभावना है। शनिवार को इसके और गंभीर रूप लेने की आशंका है। उसके बाद 24 घंटे के अंदर यह चक्रवाती तूफान में बदल सकता है।  मौसम विभाग ने बताया कि यह और तेज होकर गुजरात और आसपास के पाकिस्तानी तटों की तरफ बढ़ सकता है। 18 मई की शाम तक इसके गुजरात तट तक पहुंचने की संभावना है। मौसम विभाग ने लक्षद्वीप के लिए आज और कल के लिए रेड अलर्ट जारी किया है। केरल, तमिलनाडु के तटीय जिलों, कर्नाटक के तटीय जिलों, दक्षिणी कोंकण, गोआ और गुजरात में इसके कारण आने वाले दिनों में भारी वर्षा हो सकती है। यहां 24 घंटे की अवधि में बीस सेंटीमीटर से अधिक वर्षा का अनुमान है।

-------


Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 19 (Jun) Midday News 19 (Jun) Evening News 19 (Jun) Hourly 19 (Jun) (1910hrs)
समाचार प्रभात 19 (Jun) दोपहर समाचार 19 (Jun) समाचार संध्या 19 (Jun) प्रति घंटा समाचार 19 (Jun) (1900hrs)
Khabarnama (Mor) 19 (Jun) Khabrein(Day) 19 (Jun) Khabrein(Eve) 19 (Jun)
Aaj Savere 19 (Jun) Parikrama 28 (Apr)

Listen Programs

Market Mantra 19 (Jun) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 19 (Jun) Spotlight/News Analysis 19 (Jun) Employment News 19 (Jun) रोजगार समाचार 19 (Jun) World News 18 (Jun) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 19 (Jun) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 19 (Jun) North East Diary 17 (Jun)