A- A A+
Last Updated : Apr 19 2021 3:47PM     Screen Reader Access
News Highlights
Prime Minister Narendra Modi chairs a meeting on COVID-19 situation in the country            Health and Family Welfare Minister Dr. Harshvardhan says India has launched largest vaccination drive in the world            Cabinet Secretary to chair a meeting with Chief Secretaries of 10 states, UTs to discuss availability of Medical Oxygen            6 day lockdown in National Capital from tonight; Essential services to remain functional            Country registers over two lakh 73 thousand COVID-19 fresh cases           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
07.04.2021
मुख्य समाचार :-

  • प्रधानमंत्री ने कहा - विद्यार्थियों और अभिभावकों को परीक्षाओं को जीवन का अंत नहीं समझना चाहिए, परीक्षा पे चर्चा के पहले वर्चुअल संस्‍करण में विद्यार्थियों, अभिभावकों और शिक्षकों से बातचीत की।

  • श्री नरेन्‍द्र मोदी ने तनाव और चिंता से मुक्ति के मंत्र साझा किये, विद्यार्थियों से कहा - परीक्षा से डरे नहीं, बल्कि इसे उत्‍सव की तरह लें।

  • श्री मोदी ने अभिभावकों से कहा कि बच्‍चों पर दबाव न बनाये और उन्‍हें परीक्षा का आनन्‍द लेने दें।

  • केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल ने 62 अरब 38 करोड रुपये की राशि से एयर कंडीश्‍नर और एलईडी लाइट्स के लिए उत्‍पादन से जुडी प्रोत्‍साहन योजना को मंजूरी दी।

  • केन्‍द्र सरकार ने इस महीने की 11 तारीख से देशभर में सार्वजनिक और निजी कार्यस्‍थलों पर कोविड टीकाकरण अभियान चलाने की अनुमति दी।

  • देश में अब तक आठ करोड 70 लाख से अधिक कोविड टीके लगाये गये।

  • कोरोना संक्रमण के बढते मामलों के मद्देनजर छत्‍तीसगढ में शुक्रवार से राजधानी रायपुर में पूर्ण लॉकडाउन किया जायेगा।

  • पंजाब में समूचे राज्‍य में रात का कर्फ्यू लगाया गया। इस महीने के दौरान राजनीतिक सभाएं करने पर रोक लगाई।

  • पश्चिम बंगाल में विधानसभा के चौथे चरण के चुनाव के लिए प्रचार तेज।

  • भारतीय रिजर्व बैक ने रेपो रेट और रिवर्स रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया। वित्‍तवर्ष 2021-22 के लिए सकल घरेलू उत्‍पाद की वृद्धिदर का अनुमान साढे दस प्रतिशत पर बरकरार रखा।

  • रेलवे को 2020-21 में स्‍क्रेप बिक्री से अब तक की सर्वाधिक - चार हजार करोड से अधिक राशि प्राप्‍त हुई।

-------------

कोविड मरीजों की संख्‍या फिर से बढ़ रही है। श्रोताओं से अपील है कि कोई भी कोताही न बरतें। सुरक्षा के सभी उपायों का पालन करें और 45 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोग नि:संकोच टीका लगवाएं।

सुरक्षित रहें और तीन आसान उपायों का पालन करें।

· मास्‍क पहनें
· दो गज दूरी, है जरूरी
· सुरक्षित दूरी बनाये रखें
· हाथ और मुंह साफ रखें

-------------

प्रधानमंत्री ने कहा है कि विद्यार्थियों और अभिभावकों को परीक्षा को जीवन का अंत नहीं समझना चाहिए बल्कि हमेश अगले प्रयास में बेहतर करने की कोशिश करनी चाहिए। उन्‍होंने आज परीक्षा पे चर्चा के पहले वर्चुअल संस्‍करण में विद्यार्थियों, अभिभावकों और शिक्षकों से बातचीत की। श्री नरेन्‍द्र मोदी ने उनके साथ तनाव और चिंता से मुक्ति के मंत्र साझा किये। श्री मोदी ने अभिभावकों से कहा कि वे बच्‍चों पर दबाव न बनाएं और उन्‍हें परीक्षा का आनन्‍द लेने दें।


प्रधानमंत्री ने विद्यार्थियों से कहा है कि उन्हें परीक्षा से डरना नहीं चाहिए बल्कि इसे उत्सव की तरह लेना चाहिए। श्री मोदी ने कहा कि हम परीक्षा पर चर्चा जारी रखेंगे।


पिछले एक साल से कोरोना के बीच जी रहे हैं और उसके कारण हर किसी को नया-नया इनोवेशन करना पड़ रहा है और मुझे भी नये फॉर्मेट में आपके बीच आना पड़ रहा है और आपसे रूबरू न मिलना, आपके चेहरे की खुशी न देखना, आपका उमंग और उत्‍साह न अनुभव करना। ये अपने आप में मेरे लिए बहुत बड़ा लॉस है। लेकिन फिर भी परीक्षा तो है ही है। आप है, मैं हूं। परीक्षा है तो अच्‍छा ही है कि हम परीक्षा पे चर्चा हम कंटीन्‍यू करेंगे और इस साल भी ब्रेक नहीं लेंगे।


श्री मोदी ने अभिभावकों से कहा कि बच्चों पर दबाव न बनाएं और उन्हें परीक्षा का आनंद लेने दें। पहली बार, वर्चुअल माध्यम से परीक्षा पे चर्चा कार्यक्रम में विद्यार्थियों, अभिभावकों और शिक्षकों से बातचीत में श्री मोदी ने तनाव और चिंता से मुक्त होने के मंत्र दिए। उन्होंने इस बात पर बल दिया कि विद्यार्थियों और अभिभावकों को परीक्षा को जीवन का आखिरी मुकाम नहीं मानना चाहिए, बल्कि हमेशा अगले प्रयास में बेहतर करने की कोशिश करनी चाहिए।


मैं पेरेन्‍ट्स से कहना चाहता हूं कि आपने क्‍या करके रख दिया है। मैं समझता हूं कि यह सबसे बड़ी गलती है कि हम आवश्‍यकता से अधिक ओवर कान्शियस हो जाते है। हम थोड़े ज्‍यादा ही सोचने लग जाते है और इसलिए मैं समझता हूं कि जिन्‍दगी में ये कोई आखिरी मुकाम नहीं है। ये जिन्‍दगी बहुत लंबी है, बहुत पड़ाव आते है। एक छोटा-सा पड़ाव है, हमें दवाब नहीं बनाना चाहिए। टीचर हो, स्‍टूडेंट हो, परिवार-जन हो, यार-दोस्‍त हो, अगर बाहर का दवाब कम हो गया, खत्‍म हो गया, तो एक्‍जाम का दवाब कभी महसूस नहीं होगा। कान्‍फीडेंस फलेगा-फूलेगा।


प्रधानमंत्री ने शिक्षकों से कहा कि समय के प्रबंध के बारे में बच्चों का मार्गदर्शन करें। अरुणाचल प्रदेश से पुन्यो सुन्या और दिल्ली की विनीता गर्ग से बातचीत में प्रधानमंत्री ने सुझाव दिया कि विद्यार्थियों को प्रत्येक विषय के अनुसार उस पर ध्यान देना और ऊर्जा का उपयोग करना चाहिए।


स्‍टूडेन्‍ट्स से मैं यही कहूगां कि आपको अपनी एनर्जी को इक्‍वली डिस्‍ट्रीब्‍यूट करना चाहिए। सभी विषयों में बराबर-बराबर। आपके पास पढ़ाई के लिए दो घंटे है, तो उन घंटों में हर सब्‍जैक्‍ट को समान भाव से पढि़ये। अपने समय को इक्‍वली डिस्‍ट्रीब्‍यूट करिये।


श्री मोदी ने कहा कि विद्यार्थियों को शुरू में मुश्किल विषय हल करने का प्रयास करना चाहिए और इस पर ज्यादा ध्यान देना चाहिए। उन्होंने कहा कि कठिन विषयों को सुबह के समय और आसान विषयों को उसके बाद हल करना चाहिए, क्योंकि प्रातःकाल में दिमाग तरोताजा रहता है और विषय पर ज्यादा ध्यान केंद्रित किया जा सकता है। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि मुश्किल विषयों को न छोड़ें, क्योंकि कठिन परिश्रम से कोई भी काम सम्पन्न किया जा सकता है।


जो सरल है, वो पहले करें, यह आमतौर पर यह कहा जाता है और एक्‍जाम में तो खासतौर पर बार-बार कहा जाता है, जो सरल है, उसको पहले करो भाई। जब टाइम बचेगा, जो कठिन है उसको हाथ लगाना, लेकिन पढ़ाई को लेकर मैं समझता हूं ये सलाह आवश्‍यक नहीं है और उपयोग भी नहीं है। मैं इन चीजों को अलग नजरिये से देखता हूं। मैं कहता हूं जब भी पढ़ाई की बात हो, तो कठिन जो है, उसको पहले लीजिए, आपका माइंड फ्रैश है, आप खुद फ्रैश है, उसको अटैंड करने का प्रयास भी करिए, जब कठिन को अटैंड करेंगे तो सरल तो और भी आसान हो जाएगा।


प्रधानमंत्री ने कुछ समय खाली रहने के महत्व पर भी बल दिया। उन्होंने कहा कि दिन में कुछ समय ऐसा करना आवश्यक है ताकि रोबोट और नीरस बन कर न रह जाएं। उन्होंने कहा कि खाली समय में बच्चे अपने माता-पिता और भाई-बहनों के काम में सहायता कर सकते हैं और अपने शौक पूरे कर सकते हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं खुद भी अपने व्यस्त कार्यक्रम के बाद कुछ समय झूले पर बैठना और सैर करना पसंद करता हूं। उन्होंने विद्यार्थियों से कहा कि खाली समय को ऐसी गतिविधियों में बिताएं, जिनके जरिए स्वयं को अभिव्यक्त किया जा सके और व्यक्तित्व का विकास हो सके। उन्होंने कहा कि रचनात्मकता व्यक्ति को नई बुलंदी पर पहुंचा सकती है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि अगर अभिभावक बच्‍चों के साथ अधिक से अधिक समय बिताएं तो बच्‍चों की रूचि, प्रकृति और प्रवृत्ति को समझना आसान होता है।


अगर मॉ-बाप ज्‍यादा इनवोल्‍व है, तो बच्‍चों की रूचि, प्रकृति और प्रवृत्ति इन सबको अच्‍छी तरह समझते है और जो कमियां हैं उन कमियों को समझकर के उनको भरने की कोशिश करते हैं। लेकिन आज कुछ मॉ-बाप इतने व्‍यस्‍त है, इतने व्‍यस्‍त है कि उन्‍हें बच्‍चों के साथ रियल सेंस में इलवोल्‍व होने का समय ही नहीं मिल पाता। इसका परिणाम क्‍या होता है आज बच्‍चे के सामर्थ्‍य का पता लगाने के लिए पेरेन्‍ट्स को एक्‍जाम के रिजल्‍ट का सीट देखना पड़ता है और इसलिए बच्‍चों का आकलन भी बच्‍चों के रिजल्‍ट तक ही सीमित हो गया है। मार्क के परे भी बच्‍चे में कई ऐसी चीजें होती है, जिन्‍हें पेरेन्‍ट्स मार्क ही नहीं कर पाते है।

-------------

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना-राष्ट्रीय उच्च दक्षता सोलर फोटो वोल्टिक-पीवी मॉड्यूल कार्यक्रम को मंजूरी दे दी है। इसके लिए 45 अरब रुपये का आवंटन किया गया है। राष्ट्रीय उच्च दक्षता सोलर फोटो वोल्टिक-पीवी मॉड्यूल कार्यक्रम से विद्युत जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्र में आयात पर निर्भरता कम होगी और आत्मनिर्भर भारत अभियान को बढावा भी मिलेगा। वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने मंत्रिमंडल की बैठक के बाद बताया कि इस योजना से समेकित सोलर पीवी विनिर्माण संयंत्रों की क्षमता में दस हजार मेगावाट की वृद्धि होगी।


शुरूआत में प्रोडक्‍शन इनसेंटिव स्‍कीम को अप्रूवल दी गई थी। उसके बाद दस और सेक्‍टर्स का नवम्‍बर 2020 में माननीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्‍व में मंजूरी दी गई, जिसमें से चार प्रोडक्‍शन लिंक इनसेंटिव स्‍कीम पहले मंजूर हो चुकी है और आज दो और स्‍कीम्‍स को मंजूरी दी गई है। आज वाइट गुड्स यानी एयर कंडिशनर्स और एलईडीस की स्‍कीम अप्रूव हुई और हाई एफीशिएंसी सोलर पीवी मोड्यूल्‍स फोटो वोल्टिक मोड्यूल्‍स की स्‍कीम एक प्रकार से छह और स्‍कीमों के 13 में से नौ स्‍कीम्‍स अभी तक अप्रूव हो गई है, बाकी चार भी बडे एडवांस स्‍टेज पर हैं।


श्री गोयल ने बताया कि सोलर पीवी विनिर्माण में करीब एक खरब 72 अरब रुपये का प्रत्यक्ष निवेश होगा। श्री गोयल ने कहा कि इससे लगभग तीस हजार लोगों को प्रत्यक्ष और करीब एक लाख बीस हजार लोगों को अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार मिलेगा।


केंद्रीय मंत्रिमंडल ने व्हाइट गुड्स - एयर कंडीशनर और एलईडी लाइट्स के लिए उत्पादन से जुड़ी प्रोत्साहन योजना को भी स्वीकृति दी। इसके लिए 62 अरब 38 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य क्षेत्रीय बाधाओं को दूर करने, बचत तथा दक्षता सुनिश्चित करने के जरिए भारत में वैश्विक रूप से प्रतिस्पर्धी विनिर्माण करना है। इस योजना से वैश्विक निवेश बढने, बड़े पैमाने पर रोजगार के अवसर उपलब्ध होने और निर्यात में महत्वपूर्ण वृद्धि होने की संभावना है।

------------

भारतीय रिजर्व बैंक ने ब्‍याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है। आज मुम्‍बई में बैंक की द्विमासिक मौद्रिक नीति की घोषणा करते हुए बैंक के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि मौद्रिक नीति समिति ने सर्वसम्‍मति से रेपो दर चार प्रतिशत और रिवर्स रेपो दर तीन दशमलव तीन पांच प्रतिशत पर बरकरार रखने का फैसला किया है। उन्‍होंने कहा कि समिति ने मुद्रास्‍फीति को नियंत्रण में रखने के लिए समायोजित नीति को बनाये रखने और अर्थव्‍यवस्‍था पर कोविड के प्रभाव को कम करने के प्रयास जारी रखने का फैसला लिया है। श्री दास ने बताया कि सीमांत स्थायी सुविधा दर और बैंक दर 4 दशमलव दो-पांच प्रतिशत पर अपरिवर्तित रहेगी।


पिछले वित्‍त वर्ष के दौरान खाद्यान्न के रिकॉर्ड उत्पादन का उल्‍लेख करते हुए उन्होंने कहा कि इससे अनाज की कीमतों में कमी आएगी। रिजर्व बैंक के गर्वनर ने कहा कि चालू वित्‍त वर्ष के लिए सकल घरेलू उत्‍पाद की वृद्धि दर साढे दस प्रतिशत पर बनी रहेगी। उन्होंने कहा कि टीकाकरण कार्यक्रम में तेजी और निवेश तथा विकास में सुधार के उपायों से विकास दर में वृद्धि को बल मिलेगा। श्री दास ने कहा कि यदि आने वाले दिनों में आई कमी बरकरार रहती है तो इससे उत्‍पादन लागत पर दबाव कम होगा। और ब्‍योरा हमारे संवाददाता से-


रिजर्व बँक द्वारा अभी तक 35 प्रीपेड पेमेंट इन्स्ट्रूमेंट्स अर्थात पी.पी.आई. को मंजूरी दी गई है। इनमें दिल्ली मेट्रो कार्ड, अमेजॉन पे, फोन पे, ओला मनी, मोबिक्विक वॉलेट जैसे वालेट का समावेश है। इन वालेट्स में पैसे जमा किए जा सकते है, यहां से दूसरे खाते में हस्तांतरित किए जा सकते है या इसके द्वारा ऑनलाइन व्यवहारों में भुगतान किया जा सकता है। अब जल्द ही इन वॉलेट मे रखा गया पैसा एटीएम द्वारा निकाला भी जाएगा। रिजर्व बँक के गवर्नर ने मौद्रिक नीति समिति के बैठक के पश्चात् यह घोषणा की। फुल के.वाई.सी. प्राप्त किए गए पी.पी.आई. को अब इंटरओपरेबिलिटी बंधनकारक रहेगी। इन वॉलेट्स मे अब 2 लाख रुपये तक की राशि रखी जा सकती है। पहले यह मर्यादा एक लाख रुपये थी। इसके अलावा आर.बी.आई. ने यह वॉलेट, क्रेडिट एवं प्रीपेड कार्ड को आर.टी.जी.एस. तथा एन्.ई.एफ.टी. के माध्यम से राशि हस्तांतरित करने के लिए भी मंजूरी दी है। जीवन भावसार, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

--------------

भारतीय उद्योग परिसंघ -सीआईआई ने रिजर्व बैंक की द्विवार्षिक मौद्रिक नीति का स्वागत किया है। सीआईआई के महासचिव चंद्रजीत बैनर्जी ने कहा कि कई चुनौतियों के साथ कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर और बढ़ते मुद्रास्फीति जोखिमों के मद्देनजर रिजर्व बैंक ने नीतिगत ब्याज दरों को बरकरार रखने का जो निर्णय लिया है वह उचित है।

-------------

रेलवे को वर्ष 2020-21 में स्‍क्रेप की बिक्री से अब तक की सबसे बडी राशि प्राप्‍त हुई है। रेलवे ने स्‍क्रेप की बिक्री से कुल चार हजार 573‍ हजार करोड रूपये की धनराशि एकत्र की है। रेल मंत्रालय ने कहा कि विभाग स्‍क्रेप को इकट्ठा करके इसे ई-नीलामी के माध्‍यम से बेचकर धनराशि इकट्ठा करता है। मंत्रालय के अनुसार स्‍क्रेप बिक्री की प्रक्रिया साल-दर-साल चलती रहती है।

--------------

कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आज नई दिल्ली में राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन महासंघ-नाफेड के मधुक्रांति पोर्टल और हनी कॉर्नर का शुभारंभ किया। इस पोर्टल को शहद और अन्य मधु उत्पादों को ऑनलाइन उपलब्‍ध कराने के लिए विकसित किया गया है। यह शहद की गुणवत्ता और मिलावट के स्रोत की जांच करने में भी मदद करेगा।

--------------

देश में अब तक आठ करोड 70 लाख 77 हजार से अधिक कोविड टीके लगाए जा चुके हैं। पिछले 24 घंटों में एक लाख 15 हजार 736 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई है। इसके साथ ही कुल संक्रमितों की संख्‍या एक करोड 28 लाख एक हजार 785 हो गई है।


केंद्र ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लगभग सौ लोगों वाले सार्वजनिक और निजी कार्यस्थलों पर काम करने वाले लोगों को 11 अप्रैल से कोविड टीकाकरण की अनुमति दे दी है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के अपर मुख्य सचिवों, प्रधान सचिवों और स्‍वास्‍थ्‍य सचिवों को पत्र लिखकर कहा है कि 45 वर्ष या उससे अधिक आयु के कर्मचारियों का टीकाकरण का अभियान चलाया जाए।

--------------

कोरोना के बढते मामलों को देखते हुए गुजरात के 20 शहरों में आज से रात्रि कर्फ्यू लगाया जा रहा है। यह कर्फ्यू 30 अप्रैल तक रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक रहेगा। राज्‍य सरकार ने राजनीतिक और सामाजिक समारोहों के आयोजन पर भी प्रतिबंध लगा दिया है। शादी समारोहों में केवल एक सौ लोगों को शामिल होने की अनुमति होगी।

--------------

उधर, चंडीगढ़ प्रशासन ने भी आज से रात 10 बजे से सुबह पांच बजे तक का कर्फ्यू लगाने की घोषणा की है।


पंजाब में इस पूरे महीने के दौरान राजनीतिक सभाओं पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का निर्देश दिया गया है।

--------------

छत्‍तीसगढ में, कोरोना के बढते मामलों के देखते हुए प्रशासन ने रायपुर जिले में पूर्ण लॉकडॉउन लगाने का निर्णय लिया है। ये लॉकडाउन 19 अप्रैल तक जारी रहेगा।


छत्तीसगढ़ के रायपुर जिले में दस दिनों तक चलने वाले लॉकडाउन के दौरान जिले की सीमाओं को सील कर दिया जाएगा। जिले में प्रवेश केवल ई-पास के जरिये मिलेगा। सभी व्यापारिक प्रतिष्ठानों के अलावा शासकीय और निजी कार्यालयों के साथ ही बैंक और शैक्षणिक संस्थाएं भी बंद रहेंगी। सभा, जुलूस और किसी भी प्रकार के धार्मिक तथा सामाजिक आयोजन नहीं हो सकेंगे। केवल पेट्रोल पम्प, दवा दुकानों और रसोई गैस एजेंसियों को इन प्रतिबंधों से छूट रहेगी। इससे पहले, राज्य के दुर्ग जिले में बीते छह अप्रैल से 14 अप्रैल तक के लिए संपूर्ण लॉकडाउन लगा दिया गया है। राज्य में बिलासपुर, महासमुंद, गरियाबंद सहित अनेक जिलों में दुकानों और होटलों के खुलने की समय-सीमा निर्धारित कर दी गई है। कोरोना संक्रमण के मद्देनजर छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय और रायपुर, दुर्ग तथा बिलासपुर के जिला तथा सत्र न्यायालयों में केवल जरूरी मामलों की सुनवाई की जाएगी। हाईकोर्ट में वर्चुअल सुनवाई की व्यवस्था भी की गई है। राज्य सरकार ने छत्तीसगढ़ से मध्यप्रदेश के बीच यात्री बस सेवा के संचालन पर भी पंद्रह अप्रैल तक के लिए रोक लगा दी है। विकल्प शुक्ला, आकाशवाणी समाचार, रायपुर।

--------------

केंद्रीय जनजातीय मामलों के मंत्री अर्जुन मुंडा कोरोना संक्रमित पाए गये हैं। एक टवीट में श्री मुंडा ने उनके संपर्क में आने वाले सभी लोगों से अपना-अपना कोविड टेस्‍ट कराने की अपील की है।

--------------

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्ष वर्धन ने कहा है कि कुछ राज्य सरकारें अपनी नाकामी से ध्यान हटाने और लोगों में कोविड महामारी के बारे में डर फैलाने का प्रयास कर रही हैं जो सही नहीं है। उन्होंने चेतावनी दी कि कई राज्य सरकारों ने समुचित उपाय करने और महामारी के दौरान पिछले एक वर्ष में मिली सीख से लाभ नहीं उठाया है। स्वास्थ्य मंत्री ने एक बयान में कहा कि राजनीतिक दलों का एक वर्ग 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को वैक्सीन देने की न्यूनतम उम्र सीमा को बेहद कम करने की मांग कर रहा है। ऐसे बयानों पर चिंता व्यक्त करते हुए डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा कि टीकाकरण का प्राथमिक उद्देश्य अत्यधिक संवेदनशील लोगों में मृत्यु दर कम करना और महामारी को परास्त करने में समाज को समर्थ बनाना है। उन्होंने कहा कि जब तक वैक्सीन की आपूर्ति सीमित है, तब तक प्राथमिकता के आधार पर टीकाकरण के अलावा कोई विकल्प नहीं है।


डॉक्टर हर्ष वर्धन ने कहा कि महाराष्ट्र में केवल 86 प्रतिशत स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को ही पहला टीका लगाया जा सका है। दिल्ली में केवल 72 प्रतिशत और पंजाब में 64 प्रतिशत का ही टीकाकरण किया जा सका। दूसरी तरफ, दस राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने 90 प्रतिशत से अधिक टीकाकरण का लक्ष्य हासिल किया। स्वास्थ्य मंत्री ने आरोप लगाया कि ये राज्य टीकाकरण के प्रयासों में विफलता से ध्यान भटकाने का प्रयास कर रहे हैं।


स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि वैक्सीन की कमी के आरोप पूरी तरह से निराधार हैं। उन्होंने कहा कि वैक्सीन की आपूर्ति पर पल-पल नजर रखी जा रही है और राज्य सरकारों को नियमित रूप से जानकारी दी जा रही है।


स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार के लचर और सुस्त रवैये ने वायरस से लड़ने के पूरे देश के प्रयासों पर पानी फेर दिया है। यह स्पष्ट है कि राज्य सरकार ने पूरे प्रयास नहीं किए। उन्होंने कहा कि संक्रमित लोगों और कोविड से मृत्यु के मामले में महाराष्ट्र देश में पहले स्थान पर है और यह दुनिया के उन क्षेत्रों में से एक है, जहां संक्रमण दर सबसे अधिक है।

डॉक्टर हर्ष वर्धन ने सभी राज्यों को आश्वासन दिया कि केंद्र सरकार उनकी सहायता के लिए जो कुछ भी कर सकती है, वह सब कुछ कर रही है। उन्होंने कहा कि महामारी को परास्त करने के लिए हर किसी को मिल कर काम करना होगा।

--------------

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा है कि महाराष्‍ट्र सरकार को टीकाकरण के मुद्दे पर राजनीति नहीं करनी चाहिए। एक टवीट में उन्‍होंने कहा कि केंद्र सरकार ने जरूरत से ज्‍यादा वैक्‍सीन की आपूति की है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आज तक राज्‍य को भेजी गई वैक्‍सीन की कुल संख्‍या एक करोड छह लाख 19 हजार 190 है जिनमें से 90 लाख 53 हजार 523 इस्‍तेमाल किए जा चुके हैं। श्री जावडेकर ने कहा कि सात लाख 43 हजार 280 वैक्‍सीन भेजे जाने की प्रक्रिया चल रही है जबकि करीब 23 लाख वैक्‍सीन की खुराक अभी उपलब्‍ध है।

--------------

आज विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य दिवस है। इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि यह उन सभी के प्रति कृतज्ञता प्रकट करने का दिन है जो हमे स्वस्थ रखने के लिए दिन-रात काम करते हैं। उन्‍होंने एक ट्वीट में सभी से कोविड से लड़ने पर ध्यान केंद्रित रखने का आह्वान किया, जिसमें मास्क पहनना, हाथ धोना और अन्य दिशा-निर्देशों का पालन करना शामिल है।


स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री हर्षवर्धन ने इस अवसर पर अपने ट्वीट में लोगों से अनुरोध किया है कि वे अपनी बारी पर टीका जरूर लगवाएं और कोविड संबंधी सभी दिशा-निर्देशों का कडाई से पालन करें।

--------------

पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के लिए चुनाव प्रचार जोरों पर है। राजनीतिक दलों के वरिष्ठ नेता मतदाताओं का लुभाने के लिए अंतिम प्रयास कर रहे हैं। इस चरण का प्रचार कल शाम समाप्त हो जाएगा।


इस विधानसभा सीट के लिए चार उम्मीदवार मैदान में हैं। यह सीट तब चर्चा में आई थी, जब भूमि अधिग्रहण के विरोध में तृणमूल कांग्रेस ने तत्कालीन मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेतृत्व वाली सरकार के विरुद्ध बिगुल बजाया था।


सिंगुर के वर्तमान विधायक रवींद्रनाथ भट्टाचार्य इस बार भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं। तृणमूल कांग्रेस से टिकट नहीं मिलने पर उन्होंने चुनाव के पहले भाजपा का दामन थाम लिया था। नवासी साल के भट्टाचार्य ने वर्ष 2016 में सीपीएम के राबिन डे को बीस हजार से अधिक मतों के अंतर से पराजित कर इस सीट पर फिर से अपना कब्जा जमाया था। रवींद्रनाथ भट्टाचार्य वर्ष 2001 से लगातार सिंगुर के विधायक निर्वाचित होते आये है। भाजपा 14 हजार से अधिक वोट पाकर 2016 में तीसरे स्थान पर रही थी। संयुक्त मोर्चा के तहत गठबंधन में चुनाव लड रही सीपीएम ने छात्र संघ के नेता रहे एसएफआई सृजन भट्टाचार्य को अपना प्रत्याशी बनाया है। बेरोजगारी औऱ विकास की कमी सिंगुर की प्रमुख समस्याएं हैं। एक बड़े आलू उत्पादक क्षेत्र के रुप में पहचान रखने वाले सिंगुर के किसानों को उपज के बेहतर मूल्य मिले इसके लिए खाद्य प्रसंस्करण ईकाई का इंतजार है। धर्मेन्द्र कुमार राय, आकाशवाणी समाचार, सिंगुर हुगली।

------------

निर्वाचन आयोग ने पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी को आदर्श आचार संहिता के उल्‍लंघन के लिए नोटिस जारी किया है। सुश्री बनर्जी पर शनिवार को हुगली में एक चुनावी सभा में आपत्तिजनक टिप्‍पणी करने के लिए यह नोटिस जारी किया गया है। आयोग ने सुश्री बनर्जी से 48 घंटे के भीतर इसका जवाब देने को कहा है।

----------------

केन्‍द्रीय रिजर्व पुलिस बल के महानिदेशक कुलदीप सिंह ने सुकमा नक्‍सली हमले के मामले में खुफिया तंत्र की नाकामी की संभावना से इन्‍कार किया है। आकाशवाणी समाचार से विशेष भेंट में उन्‍होंने बताया कि क्षेत्र में नक्‍सलियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिलने के बाद ही तलाशी अभियान चलाया गया था।


महानिदेशक ने बताया कि बल के जवानों ने उग्रवादियों को मुंहतोड जवाब दिया और बल को ज्‍यादा नुकसान होने से बचाया। उन्‍होंने कहा कि चार घंटे तक चली गोलीबारी में उग्रवादियों को काफी नुकसान हुआ है। बल के एक जवान को उग्रवादियों द्वारा अगवा किये जाने की मीडिया में चल रही खबरों पर उन्‍होंने कहा कि सरकार मामले पर नजर बनाये रखे हुए है।

----------------

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी और सेशेल्स के राष्ट्रपति वैवेल रामकलावन संयुक्त रूप से कल सेशेल्स में भारतीय परियोजनाओं की एक श्रृंखला का वर्चुअल उद्घाटन करेंगे। इन उच्च स्तरीय परियोजनाओं में नई मजिस्ट्रेट कोर्ट बिल्डिंग और सेशेल्स कोस्ट गार्ड को फास्ट पैट्रोल वेसल सौंपने की सुविधा होगी।

----------------

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने दिवाला और ऋण शोधन अक्षमता संहिता संशोधन अध्यादेश, 2021 को चार अप्रैल से लागू करने की मंजूरी दे दी है। इस संशोधन का उद्देश्य संहिता के तहत सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यमियों के रूप में वर्गीकृत कॉर्पोरेट व्यक्तियों के लिए वैकल्पिक दिवाला समाधान की रूपरेखा उपलब्ध कराना है।

--------------

गाजियाबाद तृतीयक सीवेज उपचार संयंत्र के निर्माण के लिए म्युनिसिपल बांड से 150 करोड़ रुपये जुटाने वाला भारत का दसवां और उत्तर प्रदेश का दूसरा शहर बन गया है। आवासन और शहरी कार्य मंत्रालय में सचिव दुर्गा शंकर मिश्रा ने कहा कि अवशिष्ट पानी के पुनः उपयोग की पर्यावरण अनुकूल सतत परियोजना के लिए यह पहला हरित बांड है। उन्होंने कहा कि इससे म्युनिसिपल बांड के क्षेत्र और उत्तर प्रदेश में सुशासन की स्थिति के प्रति बाजार के उत्साह का पता चलता है।

--------------

बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंज का सेंसेक्‍स आज चार सौ 60 अंक यानी शून्‍य दशमलव नौ-चार प्रतिशत की बढत लेकर 49 हजार छह सौ 62 पर बंद हुआ, जबकि नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का निफ्टी एक सौ 36 अंक यानी शून्य दशमलव नौ-दो प्रतिशत की बढत के साथ 14 हजार आठ सौ 19 दर्ज हुआ।

--------------


मौसम -

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में आसमान साफ रहने की संभावना है। तापमान  19 से 36 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है़।

मुंबई में सामान्‍यत: आसमान साफ रहेगा। न्यूनतम तापमान 24 डिग्री और अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है।


चेन्नई में सामान्‍यत: बादल छाये रह सकते हैं। तापमान 26 और 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास रह सकता है।

कोलकाता में बादल छाए रहने के साथ हल्की बारिश हो सकती है। तापमान 27 और 35 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के आसार हैं।


केंद्रशासित प्रदेश जम्‍मू-कश्‍मीर के श्रीनगर में सामान्‍यत: बादल छाये रहेंगे और हल्‍की बारिश हो सकती है। न्‍यूनतम तापमान और अधिकतम 18 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है।

जम्‍मू में कहीं-कहीं बादल छाये रहने की संभावना है। तापमान 16 और 32 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है।


लेह में सामान्‍यत: बादल छाये रहेंगे। न्‍यूनतम तापमान शून्‍य से 2 डिग्री नीचे और अधिकतम 9 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

गिलगित में बादल छाए रहेंगे और हल्‍की वर्षा हो सकती है। तापमान से 18 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा।


मुजफ्फराबाद में दोपहर या शाम को बादल छाये रह सकते हैं। तापमान 10 और 26 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के आसार है।

और, गुवाहाटी में आमतौर पर बादल छाये रहेंगे और गरज व बिजली कडकने के साथ बारिश हो सकती है। तापमान 20 से 33 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

--------------

प्रवासी कामगारों के लिए पहला ऑनलाइन प्रस्थान पूर्व ओरिएंटेशन प्रशिक्षण - पीडीओटी कार्यक्रम आज शुरू किया गया। यह पीडीओटी केंद्रों में प्रवासी कामगारों को दिए जा रहे प्रशिक्षण के पूरक के रूप में कार्य करेगा।

--------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 19 (Apr) Midday News 19 (Apr) Evening News 18 (Apr) Hourly 19 (Apr) (1300hrs)
समाचार प्रभात 19 (Apr) दोपहर समाचार 19 (Apr) समाचार संध्या 18 (Apr) प्रति घंटा समाचार 19 (Apr) (1310hrs)
Khabarnama (Mor) 19 (Apr) Khabrein(Day) 19 (Apr) Khabrein(Eve) 18 (Apr)
Aaj Savere 19 (Apr) Parikrama 18 (Apr)

Listen Programs

Market Mantra 18 (Apr) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 18 (Apr) Spotlight/News Analysis 18 (Apr) Employment News 18 (Apr) रोजगार समाचार 18 (Apr) World News 18 (Apr) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 18 (Apr) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 17 (Apr) North East Diary 18 (Apr)