A- A A+
Last Updated : Jan 25 2021 10:23PM     Screen Reader Access
News Highlights
President Ram Nath Kovid asserts government remains singularly devoted to farmers' welfare            A self-reliant India manufactured its own COVID vaccine and added a glorious chapter to well being of humanity says the President            72nd Republic Day will be celebrated tomorrow with grandeur and enthusiasm            Prime Minister on occasion of Rashtriya Bal Puraskar awards ceremony asks children to commit to three pledges of consistency, country and humility            National Voters' Day observed across the country           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
14.01.2021

मुख्य समाचार :-

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी शनिवार सुबह दुनियाके सबसे बडे टीकाकरण अभियान की वर्चुअल शुरूआत करेंगे।

  • देश में कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर बढकर 96 दशमलव पांच-दो प्रतिशत हुई।

  • विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन का दल चीन में कोविड महामारी के शुरू होनेकी जांच के लिए वुहान पहुंचा।

  • फसलों के त्यौहार मकर संक्राति, पोंगल और बिहूपरम्परागत उल्लास के साथ मनाये जा रहे हैं।

  • और, भारत तथा ऑस्‍ट्रेलिया के बीच चौथा और निर्णायक क्रिकेट टेस्‍ट मैचकल से ब्रिस्‍बेन में। भारतीय टीम के कई खिलाडी चोटिल हैं।

-----

कोविड महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहाहै। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।

मास्‍क पहनें

दो गज दूरी, है जरूरी।

सुरक्षित दूरी बनाए रखें।

हाथ और मुंह साफ रखें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोविड के टीकाकरणके विश्व के सबसे बडे अभियान की शुरूआत शनिवार की सुबह वीडियो काफ्रेंस के माध्यम से करेंगे। कोविड टीकाकरण का यह अभियान देश के हर हिस्से में शुरू किया जा रहा है। सभी राज्यों और केंद्रशासितप्रदेशों में एकसाथ तीन हजार छह स्थानों पर टीकाकरण की शुरूआतहोगी। पहले दिन हर टीकाकरण केंद्र पर लगभग सौ लाभार्थियों को टीका लगाया जाएगा।

 

इस टीकाकरण कार्यक्रम में सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों को टीका लगाया जाएगा, जिनमें सरकारी और निजी क्षेत्रों के अलावा समन्वित बाल विकास कार्यक्रम केकार्यकर्ता शामिल हैं। इस टीकाकरण कार्यक्रम में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालयद्वारा विकसित किए गए ऑनलाइन डिजिटल प्लेटफॉर्म-को-विन का इस्तेमाल किया जाएगा। इसके माध्यम से टीके के स्टॉक, रखे जाने स्थान का तापमानऔर टीके के लाभार्थियों की पूरी जानकारी हरसमय उपलब्ध रहेगी।

 

कोविड-19 महामारी, टीकाकरणअभियान और को-विन साफ्टवेयरसे संबंधित सभी प्रश्नों का उत्तर देनेके लिए 24 घटे चलने वाला कालसेंटर 1075 भी स्थापित किया जा रहा है।

 

कोविशील्ड और कोवैक्सीन टीकों की पर्याप्त खुराकें नागरिक उड्डयन मंत्रालयके सहयोग से देश के सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों केलिए रवाना कर दी गई है। राज्यों ओर केंद्रशासित प्रदेशों केजिलों तक भी कोविड टीके पहुंचाएं जा चुके हैं। जन-भागीदारी केसिद्धांतों पर आधारित इस विशाल कार्यक्रम को संपन्न करने केलिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है।

-----

सरकार ने कहा है कि कोविड के टीके के पूरे चक्रके लिए दो खुराकें28 दिनों के अंतराल पर दी जाएंगी। स्वास्थ्य मंत्रालय ने इस टीकाकरण अभियान के विभिन्न पहलुओं की जानकारी के लिए सामान्य रूप से पूछे जानेवाले सवाल और उनके जवाबों की श्रृंखला जारी की है। इसके अनुसार कोविड के टीके की दूसरीखुराक लेने के दो सप्ताह बाद सामान्यतयासुरक्षात्मक एंटी बॉडी बन जाती हैं। मंत्रालय ने कहा है कि कोविडटीकाकरण स्वैच्छिक है, हालांकि यह भी सलाहदी गई है कि इस संक्रमण से खुद को बचाने के लिए कोविड टीके के पूरे चक्र का पालन जरूरीहै। इससे परिवार के सदस्यों, मित्रों,संबंधियों और सहकर्मियों में संक्रमण के खतरे को कम किया जा सकता है।संक्रमित लोगों को लक्षणों की पहचान के 14 दिनों तक टीका नहीलगवाना चाहिए क्योंकि इससे टीकाकरण स्थल पर संक्रमण फैलने का खतरा बढ जाता है। मंत्रालय ने कहा कि भारत में दियाजाने वाला टीका किसी भी अन्‍य देश द्वारा विकसित टीके जितना ही प्रभावी है क्‍योंकिसुरक्षा और प्रभाव को सुनिश्चित करने के लिए इसे कई चरणों में जांचा जा चुका है। पात्रलाभार्थियों को उनके पंजीकृत मोबाइल नम्‍बर पर कोविड टीकाकरण के स्‍थान और समय की जानकारीदी जाएगी।

 

इस बीच, कोविड टीकाकरण के लिए वैक्सीनविमानों से देशभर के शहरों और कस्‍बों में भेजी जा रही है।

-----

उत्तर प्रदेश में कोविड का टीका प्रत्येक जिले में पहुंच गया है। टीकों को पूरी सुरक्षा के साथ रखा गया है। एक रिपोर्ट-


अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्यअमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में लगभग 11 लाख वैक्सिंग पहुंच चुकी हैं और 16 जनवरी से केंद्र सरकार के दिशा निर्देशों के अनुसार टीकाकरण का काम शुरू होजाएगा। पहले चरण में प्रदेश के 311 केंद्रों पर वैक्सीनके टीका लगाने का काम शुरू होगा। उन्होंने कहा कि सभी स्वास्थ्य कर्मियों को टीकाकरणसे संबंधित जरूरी प्रशिक्षण देने का काम पूरा हो चुका है और पहले दिन वैक्सीन लगानेका काम सुबह नौ बजे से लेकर शाम पांच बजे तक किया जाएगा। सभी जिलों में वैक्सीन कीसुरक्षा को लेकर कड़े इंतजाम किए गए हैं और सीसीटीवी सर्विलेंस की व्यवस्था की गई है।राजधानी लखनऊ में किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी कल उन 100 लोगों की लिस्ट ऑनलाइन जारी करेगी जिन्हें पहले चरण में वैक्सीन लगाई जाएगीलखनऊ में सबसे बड़ा टीकाकरण का केंद्र किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी को बनाया गयाहै। सुशील चन्‍द्र तिवारी, आकाशवाणी समाचार, लखनऊ।

-----

छत्तीसगढ में कल कोविडवैक्‍सीन की पहली खेप पहुंची। हमारे संवाददाता ने बताया है कि विभिन्न जिलों में वैक्सीन ले जाने की कार्रवाई शुरू हो गईहै।


छत्तीसगढ़ में कल पहली खेप के रूप में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा निर्मितकोविड-वैक्सीन कोवीशिल्ड की करीब तीन लाख 23 हजार खुराक पहुंची हैं। इन वैक्सीन को एयरपोर्ट से राज्य वैक्सीन भंडार गृहले जाया गया। उसके बाद कल ही इन्हें रायपुर बिलासपुर और दुर्ग संभाग के विभिन्न जिलोंमें भेजने का काम शुरू हो गया है। आज इन्हें सरगुजा और बस्तर संभाग के जिलों में भेजाजाएगा। छत्तीसगढ़ में पहले चरण में करीब 267000 स्वास्थ्य कर्मियों को कोविड-वैक्सीन लगाई जाएगी।इसके लिए पूरे राज्य में 99 टीकाकरण केंद्र बनाएगए हैं। ये टीकाकरण केंद्र राज्य के मेडिकल कॉलेजों और जिला अस्पतालों के अलावा कुछप्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक स्वास्थ्यकेंद्रों और निजी अस्पतालों में स्थापित किए गए हैं। प्रदेश में 16 जनवरी से शुरू होने वाले कोविड टीकाकरण की सारी तैयारियां केंद्र सरकार के दिशा-निर्देशों के अनुरूप पूरी कर ली गई है। विकल्प शुक्ला, आकाशवाणी समाचार, रायपुर।

-----

मिजोरम में कोविड टीके की पहली खेप आज पहुंचगई। राज्य के प्रतिरक्षण अधिकारी डॉक्टर लालजावमी ने बताया कि  टीकों को आइजोल सिविल अस्‍पताल के टीका भंडार गृह में भेज दिया गया है। उन्होंनेबताया कि टीके की एक हजार 250 खराकें लुंगलेई जिले के लिए भेजीगई है। मिजोरम में टीकाकरण के चार केंद्र बनाये गए हैं। हर केंद्र पर पहले चरण मेंसौ स्वास्थ्यकर्मियोंको टीका लगाया जाएगा।

-----

दिल्ली सरकार टीकाकरणके लिए पूरी तरह से तैयार हैं। राज्य में शनिवार से81 केंद्रों पर टीकाकरण का कार्य शुरू किया जाएगा और हफ्ते मेंसोमवार, मंगलवार, गुरुवार और शनिवार को ही वैक्सीन लगाई जाएंगी। पहले चरण मेंस्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई जाएगी,जिसके लिए दो लाख40 हजार स्वास्थ्यकर्मी अभी तक पंजीकरण करा चुके हैं।

-----

महाराष्ट्र के कोल्हापुरमें कोविड टीके को लगाने के लिए लोगों में सहमति बनाने के उद्देश्य से सामान्य चिकित्साकर्मी,होम्योपैथिक चिकित्सक औरमनोचिकित्सक भी सामने आए हैं। कोल्हापुरके निजी चिकित्सक संगठनों के प्रतिनिधियों ने कहा कि वे बिनाकिसी भय के सबसे पहले टीका लगवाने के लिए तैयार हैं।


कोल्हापुर में होम्योपैथिक संगठन के अध्यक्ष डॉ. हर्षवर्धन जगताप ने कहा कि कोविशिल्ड वैक्सीन सुरक्षित है और सभी को इससे प्रतिरक्षितहोना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि टीका व्यक्ति की प्रतिरक्षा को बढ़ावा देगा। कोल्हापुरमनोचिकित्सक संघ के अध्यक्ष डॉ. पद्मराज पाटिल ने कहाकि एक बार जब फ्रंटलाइन वर्कर्स को पहले चरण में टीका लगाया जाएगा तो उसके बाद सामान्यलोगों के बीच आत्मविश्वास पैदा होगा कि वे खुद को प्रतिरक्षित करें। अन्य वरिष्ठ चिकित्सकोंने यह भी कहा कि वैक्सीन के कोई दुष्प्रभाव नहीं हैं और लोगों को वायरस के उन्मूलनके लिए बिना किसी डर के टीकाकरण के कार्यक्रम में भाग लेना चाहिए। इस बीच, नवी मुंबई नागरिक निकाय ने शहर में 50 टीकाकरण केंद्र स्थापित किए हैं। शहर के नगर निगम को 19 हजार 85 फ्रंटलाइन कर्मचारियों को टीका लगाने के लिए 21 हजार वैक्सीन खुराक का स्टॉक मिला है। दूसरी ओर, नागपुर विभाग में सरकारी और निजी अस्पतालों के 93 हजार से अधिक स्वास्थ्य कर्मचारियों को कोविशिल्ड टीकों की एक लाख 14 हजार खुराक दी जा चुकी हैं। कुणाल शिंदे, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

-----

दिल्‍ली के सफदरजंगअस्‍पताल की डॉक्‍टर रूपाली मलिक ने आकाशवाणी समाचार के साथ बातचीत में कोविड वैक्‍सीनको एक जगह से दूसरी जगह ले जाने और भंडारण की कारगर प्रणाली के बारे में बताया।


एयरक्राफ्ट से लेकर ट्रक्स हैं उससे लेकर जितनी भी सुविधा उपलब्ध है, सबका उपयोग किया जा रहा है और जिसका स्टोरेज की बात की जाती है। तो ये कोल्डचेन मेंटेन करना सबसे ज्यादा अनिवार्य है इस वैक्सीनेशन को ठीक से इनश्योर करने केलिए। उसके लिए भी हर लेवल पर अलग-अलग तरह के कोल्ड स्टोरेजहोते हैं। रिजनल लेवल पर हमारे पास वॉक्यूम रेफ्रिजरेटर होते हैं, तो डिस्ट्रीक्ट लेवल पर हमारे पर डीप फ्रीजर होते हैं और जो लास्ट लेवल होतेहैं वैक्सीनेशन के वहां पर आइसलाइन रेफ्रीजरेटर होते हैं। तो ये सेटअप हमारे पास ऑलरेडीउपलब्ध है। हम इसी सेटअप का उपयोग करेंगे कोविड-19 वैक्सीनेशन के लिए।

 

डॉ० मलिक ने लोगोंको भरोसा दिलाया कि ये टीका पूरी तरह सुरक्षित है और उन्‍हें इस टीकाकरण अभियान मेंसकारात्‍मक रूप से शामिल होना चाहिए।


सबसे इम्पोर्टेंटहै कि हम सकारात्मक रहें कोविड-19 वैक्सीनेशन प्रोग्रामको लेकर। इसमें विश्वास रखें और पॉजीटिव वाइव और पॉजीटिव मेंटल जो आपका अप्रोच है, वो रखें इस कोविड-19 वैक्सीनेशन को लेकर।मैं यही कहना चाहूंगी कि आप डरे नहीं, फीयरफुल न हों केयरफुल हों।

-----

भारत कोविड महामारीसे निपटने की दिशा में तेजी से कदम बढ़ा रहा है। अब तक देशभर में एक करोड़ एक लाख46 हजार से अधिक लोग महामारी से ठीक हुए हैं। स्‍वस्‍थ होने की दर और सुधार के साथ96 दशमलव पांच-दो प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटों में महामारी के 16 हजार 946 नयेमरीज सामने आये हैं और संक्रमित होने वाले व्‍यक्तियों की दैनिक संख्‍या बीस हजार सेनीचे बनी हुई है। इसी अवधि के दौरान 17 हजार पांच सौ से अधिक लोग महामारी से ठीक भीहुए हैं। स्‍वस्‍थ होने वाले रोगियों और इलाज करा रहे रोगियों की संख्‍या का अंतर बढ़कररोगियों की मौजूदा संख्‍या की तुलना में 48 गुना अधिक हो गया है।

 

इस समय देश में इलाजकरा रहे कोविड रोगियों की संख्‍या दो लाख 13 हजार है जो संक्रमित हुए लोगों की संख्‍याका दो दशमलव शून्‍य तीन प्रतिशत है। इनमें से करीब साठ प्रतिशत को मामूली संक्रमण हैऔर वे घर पर ही आइसोलेशन में रहकर इलाज करा रहे हैं।

 

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालयने बताया है कि देशभर में चिकित्‍सा संबंधी बुनियादी ढांचे के विकास, केन्‍द्र के उपचार संबंधी मानक नियमों पर राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों द्वारा कड़ाई से अमल और डॉक्‍टरों,अर्द्धचिकित्‍सा कर्मियों तथा महामारी से निपटने में लगेअग्रिम पंक्ति के कार्यकर्ताओं के निष्‍ठापूर्वक कार्य करने से देश में स्‍वस्‍थ होनेवालों की संख्‍या लगातार बढ़ रही है।

 

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालयने यह भी कहा है कि ठीक होने वालों की संख्‍या बढ़ने से मृत्‍यु दर में गिरावट आई हैऔर यह इस समय एक दशमलव चार-चार प्रतिशत के स्‍तर पर पहुंच गई है। पिछले 24 घंटों मेंदेशभर में महामारी से 198 मौत हुई और मृतकों की दैनिक संख्‍या दो सौ से नीचे बनी हुईहै।  

-----

देशभर में पिछले 24घंटों में सात लाख 43 हजार से अधिक कोविड जांच की गई। अब तक 18 करोड़ 42 लाख से अधिकजांच हो चुकी है। केन्‍द्र सरकार और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद--आई.सी.एम.आर.ने बड़े सुनियोजित तरीके से देशभर में परीक्षण संबंधी बुनियादी ढांचे का विकास कियाहै। भारत की दैनिक परीक्षण क्षमता 15 लाख हो गई है,जिससे कोविड परीक्षण आसानी से कराया जा सकता है।

-----

स्वास्थ्य मंत्री डॉक्‍टरहर्षवर्धन ने आज कहा कि देश में कोविड लॉकडाउन के समय का उपयोग स्वास्थ्य क्षेत्र केबुनियादी ढांचे को उन्नत बनाने, स्वास्थ्यकर्मियोंकी क्षमता निर्माण और  देश में जरूरी लॉजिस्टिकसेवाएं सुनिश्चित करने में किया गया। आज आत्मनिर्भर भारत पर एक वेबिनार में उन्होंने कहाकि देश में अब पीपीई किट और मास्क जैसे सामान न केवल पर्याप्‍त मात्रा में बनाये जारहे हैं और बल्कि इनका निर्यात भी किया जा रहा है। उन्‍होंने कहा कि सरकार का ध्‍यानपूरी तरह से आत्मनिर्भर भारत बनाने पर केन्द्रित है। उसकी सारी आर्थिक नीतियां इसकेइर्द-गिर्द ही तय की जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍ववाली सरकार सभी नागरिकों को समान अवसर प्रदान करके अमीर और गरीब के बीच की खाई को पाटनेकी कोशिश कर रही है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि आत्मनिर्भरभारत का मतलब विदेशी वस्तुओं का बहिष्कार करना नहीं है बल्कि वसुधैव कुटुम्बकम की अवधारणामें विश्वास करना है। उन्होंने कहा कि केवल एक आत्मनिर्भर राष्ट्र ही खुद को आगे लेजा सकता है।

-----

विश्व स्वास्थ्य संगठन की अगुवाई वाले 15 सदस्यीय अंतर्राष्ट्रीय दल के 13 वैज्ञानिकआज चीन के वुहान पहुंच गए जहां वे कोविड महामारी की उत्पत्तिके बारे में जानकारी हासिल करेंगे। दो अन्य वैज्ञानिक अब भीसिंगापुर में हैं जहां उनकी कोविड जांच की जा रही है। इन लोगों में कोविड एंटीबॉडीपाई गई थी।

-----

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि 83 हल्के लडाकू विमान तेजस के लिए एच. . एल. को आदेश देने के  मंत्रिमंडल के फैसले से पचास हजाररोजगार पैदा होंगे और पांच हजार संबंधित कंपनियों को भी काम मिलेगा। आज बेंग्‍लुरू में पांचवें सशस्त्र बल वेटरन डे को संबोधित करतेहुए रक्षा मंत्री ने कहा कि एच..एल.को 73 हल्के लडाकू विमानऔर दस प्रशिक्षण विमान निर्मित करने का आदेश दिया जाएगा। देश के सशस्त्र बलों के शौर्य और साहस की सराहना करते हुए उन्होंनेकहा कि हमारे सैनिक सीमाओं की रक्षा करते हुए शत्रुओं को करारा जवाब दे रहे हैं। रक्षामंत्री ने पूर्व सैनिकों से युवाओं का मार्गदर्शन करने तथा सशस्त्र बलों में उन्हें शामिल होने के लिए प्रेरित करनेको कहा। श्री सिंह ने पूर्व सैनिकों के फायदे के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों केबारे में भी जानकारी दी।


प्री टू थाउजेंट सिक्‍स रिटायर्ड ऑनरेरी नायक सूबेदार्स की पेंशन का मामला, ये लम्‍बे समय से पेंडिंग था। इसे भी पूरा कर दिया गया है। इसी तरह पेंशन केलिए लाइव सर्टिफिकेट की जरूरत होती है और जो पेंशनशेरी होते हैं उनकी पहचान का भी मामलाहोता है। सारा सिस्‍टम ऑनलाइन कर दिया गया है। अब हाल ही में एक ऑनलाइन पोर्टल की शुरूआतहुई। हमारे सैनिक भाई यदि कोई कॉस्‍टली आइटम भी सीएसटी से अपनी कैंटिन से भी मंगवानाचाहते हैं तो महीनों तक उन्‍हें परेशान होने की जरूरत नहीं होगी। अब सीधे ऑनलाइन सेमांगा सकते हैं। यह व्‍यवस्‍था हाल ही में तीन-चार-छह दिन पहले ही मैंने यह पोर्टल को लॉंच किया है।

-----

भारतीय सशस्त्र बल आज पूर्व सैनिक दिवस मनारहा है। यह दिवस सेना के सेवानिवृत्त कर्मियों की विशिष्ट सेवाका सम्मान करने के लिए प्रत्येक वर्ष 14 जनवरी को मनाया जाता है। 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध की 50वीं वर्षगांठ के अवसर पर इस सालयह दिवस स्वर्णिम विजय वर्ष के रूप में मनाया जा रहा है। सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुन्दनरवणे ने कहा कि पिछला साल राष्ट्र और सशस्त्र बलों के लिए बहुत चुनौतीपूर्ण था। उन्होंनेकहा कि सशस्त्र बलों ने बड़ी कुशलता से उत्तरी सीमाओं पर कोविड महामारी का मुकाबलाकरते हुए अपने कर्तव्यों का पालन किया। श्री नरवणे ने बतायाकि देश भर में स्वर्णिम विजय वर्ष के दौरान कई कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। उन्होंनेकहा कि सेना हमेशा अपने पूर्व सैनिकों के साथ है।

-----

प्रधानमंत्री कौशल विकासयोजना का तीसरा चरण कल देशभर के छह सौ जिलों में शुरू किया जायेगा। कौशल विकास और उद्यमितामंत्रालय के नेतृत्‍व में चलायी जा रही इस योजना में नये जमाने के कौशलों के साथ-साथकोविड महामारी से संबंधित कौशलों पर ध्‍यान केन्द्रित किया गया है।

 

योजना के तीसरे चरणमें 2020-21 के दौरान आठ लाख प्रत्‍याशियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा, जिस पर नौ अरब 48 करोड़ रुपये से अधिक की राशि खर्च होगी।देश में कुशल लोगों का बड़ा समूह तैयार करने के लिए दो सौ से अधिक औद्योगिक प्रशिक्षणसंस्‍थानों और सूचीबद्ध प्रशिक्षण केन्‍द्रों तथा 729 प्रधानमंत्री कौशल केन्‍द्रोंमें इस योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण पाठ्यक्रम शुरू किये जायेंगे। योजना के पहले औरदूसरे चरण से प्राप्‍त अनुभव के आधार पर मंत्रालय ने तीसरे चरण में कई सुधार किये हैंताकि मौजूदा नीति और नई आवश्‍यकताओं के अनुसार कौशल प्रशिक्षण दिया जा सके।

 

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्रमोदी ने 15 जुलाई 2015 को स्किल इंडिया मिशन का शुभारंभ किया था। भारत को दुनियामें कौशल की राजधानी बनाने की सोच के साथ शुरू की गई यह योजना सरकार का प्रमुख कार्यक्रमहै जो लोगों में बड़ा लोकप्रिय हुआ है।

-----

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को प्रारम्-स्टार्टअप इण्डिया इंटरनेशनल समिट को वीडियो कांफ्रेंसके माध्यम से संबोधित करेंगे। वे स्टार्टअप्स के साथ संवाद भी करेंगे। दो दिवसीय यह सम्मेलन कलसे शुरू हो जाएगा। अगस् 2018 को काठमांडुमें आयोजित चौथे बिम्सटेक स्ममेलन मेंप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा की गई घोषणा के बाद  यह आयोजन किया गया है। प्रधानमंत्रीने बिम्‍सटेक स्टार्टअप सम्मेलन को करने की भारत की वचनबद्धता व्यक्त की थी।

 

प्रधानमंत्री द्वारा 16 जनवरी 2016 को शुरू कीगई स्‍टार्टअप इण्डिया पहल के पांच वर्ष पूरा होने पर होने वाले इस आयोजन में 25 सेअधिक देशों के दो सौ से ज्‍यादा वक्‍ता हिस्‍सा लेंगे। स्‍टार्टअप पहल के बाद भारतसरकार द्वारा आयोजित यह अब तक का सबसे बडा स्‍टार्टअप सम्‍मेलन होगा।

-----

संसद का बजट सत्र इसमहीने की 29 तारीख से शुरू होगा। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद द्वारा दोनों सदनों कीसंयुक्‍त बैठक को सम्‍बोधन के साथ बजट सत्र की शुरूआत होगी। पहली फरवरी को केन्‍द्रीयबजट पेश किया जायेगा। मंत्रालयों और विभागों की अनुदान मांगों पर विचार करने संबंधी स्‍थायीसमितियों द्वारा उनकी रिर्पोटों की तैयारी के मद्देनजर संसद की कार्यवाई पन्‍द्रह फरवरीको स्‍थगित हो जायेगी। बजट सत्र का दूसरा भाग आठ मार्च को शुरू होगा। सरकारी प्रयोजनकी आवश्‍यकतानुसार सत्र के आठ अप्रैल को सम्‍पन्‍न होने की संभावना है।

 

इस महीने की पांच तारीख को संसदीय कार्य से सम्‍बद्धमंत्रिमंडलीय समिति ने 29 जनवरी से संसद के बजट सत्र के शुरू करने और आठ अप्रैल कोसम्‍पन्‍न करने की सिफारिश की थी।  

-----

प्रधानमंत्री भारतीय जनऔषधि केन्‍द्रों ने इसवित्‍त वर्ष में 484 करोड़ रूपये की रिकार्ड बिक्री की है। इसमें देशभर में सभी जिलोंके सात हजार 64 जनऔषधि केन्‍द्रों की जेनेरिक दवाओं की बिक्री शामिल है। रसायन और उर्वरकमंत्री डी वी सदानन्‍द गौड़ा ने कहा है कि पिछले वित्‍त वर्ष की तुलना में इस वित्‍तवर्ष में साठ प्रतिशत अधिक दवाएं बेची गई। उन्‍होंने कहा कि इससे आम जनता को करीब तीनहजार करोड़ रूपये की बचत हुई है। 2019-20 में सरकार ने जनऔषधि केन्‍द्रों के लिए करीब35 करोड़ रूपये का अनुदान दिया था। श्री गौड़ा ने कहा कि अब तक एक रूपये प्रति पैडके हिसाब से तीस करोड़ से अधिक जनऔषधि सुविधा सेनिटरी पैड इन केन्‍द्रों के जरिये बेचेजा चुके हैं। इसके अतिरिक्‍त तीस करोड़ ऐसे और सेनेटरी पैड खरीदे जायेंगे जिसके लिएनिविदा जारी की जायेगी।     

-----

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉक्‍टर हर्षवर्धनने आज नई दिल्‍ली में वैज्ञानिक तथा औद्योगिक अनुसंधान परिषद-सी एस आई आर केनए राष्‍ट्रीय विज्ञान संचार और नीति अध्‍ययन संस्‍थान का उद्घाटन किया। यह नया संस्‍थानसी एस आई आर  के दो संस्‍थानों राष्ट्रीयविज्ञान संचार तथा सूचना स्रोत संस्थान और राष्‍ट्रीय विज्ञान, प्रौद्योगिकीतथा विकास अध्‍ययन संस्‍थान का विलय करके बनाया गया है। डॉ. हर्षवर्धनने कहा कि दोनों संस्‍थानों को मिलाने का उद्देश्‍य इनकी क्षमताओं को एक जगह लाकर विश्‍वस्‍तरपर इन्‍हें विज्ञान, प्रौद्योगिकी और नवाचार नीति अनुसंधान केएक वैश्विक केन्‍द्र के रूप में स्‍थापित करना है। उन्‍होंने कहा कि इससे कोविड महामारीके दौरान अपनी अहमियत साबित करने वाले विज्ञान और संचार के फायदों से समाज को अवगतकराया जा सकेगा।  

-----

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधानसंगठन--इसरो के अध्‍यक्ष डॉक्‍टर के. सिवन ने कहा है कि भारत के अंतरिक्ष कार्यक्रमकी सबसे बड़ी विशेषता सामाज कल्‍याण के प्रति वचनबद्धता है। आकाशवाणी समाचार के साथविशेष भेंट में डॉक्‍टर सिवन ने कहा कि इसरो के नेतृत्‍व में चलाये जा रहे अंतरिक्षकार्यक्रम की दूसरी विशेषता बहुत कम बजट में कार्यक्रमों को पूरा करना है। उन्‍होंनेकहा कि जब भारत अपने पहले ही प्रयास में मंगल ग्रह तक पहुंचने में सफल हुआ, तो प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने टिप्‍पणी की थी कि हॉलीवुडकी थ्रिलर फिल्‍म ग्रेविटी के दस करोड़ डॉलर से भी कम खर्च में यह अभियान सफलतापूर्वकचलाया गया। डॉक्‍टर सिवन ने कहा कि हमारा अंतरिक्ष कार्यक्रम किसानों और मछुआरों केलिए भी बड़ा उपयोगी साबित हुआ है।


समुद्र में मछुआरों के लिए मछलियों की संभावना तलाशने के लिए हमारा उपग्रह बहुतसारे अनुसंधान कर रहा है और किसानों के लिए भी। हाल ही में हमने एक फिशरमैन ऐप बनायाहै। इसकी सहायता से वे हमारे संचार उपग्रह, नेविगेशन उपग्रह और रिमोट उपग्रह का भरपूर फायदा उठा सकेंगे। इस ऐप की बदौलतउन्‍हें समुद्र की स्थिति और मछलियों की उपलब्‍धता की जानकारी मिलेगी। इसके साथ हीजब वो गहरे समुद्र में होंगे तो उन्‍हें मौसम का हाल और अपने साथियों से संपर्क बनाएरखने की सुविधा उपलब्‍ध होगी। इसलिए यह ऐप मछुआरों के लिए बहुत उपयोगी है।

 

उपग्रह कार्यक्रमोंके क्षेत्र में लंबी छलांग लगाकर इसरो ने विश्‍व मंच पर अपने लिए जगह बना ली है। भारतीयउपग्रहों के प्रक्षेपण के अलावा इसरो अंतर्राष्‍ट्रीय ग्राहकों को अपने ध्रुवीय उपग्रहप्रक्षेपण यान-पी.एस.एल.वी. के जरिये प्रक्षेपण सुविधा उपलब्‍ध करा रहा है।अब तक इसरो अपने 33 विदेशी ग्राहकों के 328 उपग्रह अंतरिक्ष में सफलतापूर्वक भेज चुकाहै। अमरीका, ब्रिटेन, जापान, कनाडा, जर्मनी और फ्रांस सहित कई देशों ने अपने उपग्रहों के प्रक्षेपणके लिए इसरो की सेवाएं ली हैं। इससे इसरो को 25 लाख अमरीकी डॉलर और एक करोड़ 89 यूरोकी आमदनी हुई है। इसरो अध्‍यक्ष ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के दीर्घावधि कार्यक्रमोंका भी जिक्र किया और कहा कि इसरो अंतरिक्ष टेक्‍नॉलोजी के क्षेत्र में भारत का गौरवबढ़ा रहा है।

-----

वन्दे भारत मिशन का नौवां चरण इस महीनेकी पहली तारीख से शुरू हो गया है। इस चरण में अब तक 24 देशोंसे 591 अंतर्राष्ट्रीय उडानों के माध्यम से लगभग एक लाख बारह हजार लोगों को स्वदेश लाया गया।विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने आज बताया कि वन्दे भारत मिशन के अंतर्गत कल तक47 लाख से अधिक लोगों को स्वदेश लाया जा चुकाहै।

-----

नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ग्यावली आज तीनदिवसीय भारत यात्रा पर नई दिल्ली पहुंचे। वे कल सुबह विदेश मंत्रीडॉ. सुब्रहमण्यम जयशंकर से मुलाकात करेंगे।दोनों नेता कल नई दिल्ली में आयोजित होने वाली छठी भारत-नेपाल संयुक्त आयोग की बैठक की सह-अध्यक्षता करेंगे।

-----

सरकार ने समाचार माध्‍यमोंमें जारी इन खबरों का खण्‍डन किया कि रेलवे द्वारा यात्रियों से अधिक किराया वसूलाजा रहा है। रेल मंत्रालय ने कहा है कि ये खबर भ्रामक और निराधार है। रेल मंत्रालय नेकहा है कि परंपरा के अनुसार त्‍यौहार और छुट्टियों के दौरान यात्रियों की भीड़ से निपटनेके लिए विशेष दूरगामी रेलगाडि़यां चलानी शुरू की गई थीं। इस वर्ष अनेक रेल खण्‍डोंमें यात्री गाडि़यों की बहुत मांग थी, जिससे निपटने के लिए त्‍यौहारों के समय रेलगाडि़यां चलाई गई थीं। त्‍यौहारोंके दौरान यात्रियों की भीड़-भाड़ के मद्देनज़र विशेष रेलगाडि़यां की सेवाएं जारी रखीगई। मंत्रालय का कहना है कि वर्ष 2015 से इन रेलगाडियों के किराए कुछ बढाए गए थे। इसवर्ष भी ऐसा कुछ नया नहीं है, बल्किये पहले ही जैसा है।

-----

मकर संक्रांति का पर्वआज पूरे देश में श्रद्धा और उल्लास से मनाया जा रहा है। देश के विभिन्न भागों में इसत्यौहार को कई नामों से जाना जाता है। यह तमिलनाडु में पोंगल, गुजरात में उत्तरायण,असम में बिहू, और पश्चिम बंगाल में पौष संक्रांति के रूप में मनाया जाता है। राष्‍ट्रपति रामनाथकोविंद, उपराष्‍ट्रपति एम. वैंकेयानायडू और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने देशवासियों को इस अवसर पर बधाई दी है।

 

राष्‍ट्रपति रामनाथकोविंद ने कामना की है कि ये पर्व समाज में प्रेम,स्‍नेह और सौहार्द के बंधन मजबूत करेंगे और देश में समृद्धिऔर प्रसन्‍न्‍ता लेकर आएंगे।

 

उपराष्‍ट्रपति एम. वैंकेयानायडू ने कहा कि ये सभी त्‍यौहार देश की विविधता के लिए जाने जाते हैं।

 

प्रधानमंत्री ने कामनाकी है कि उत्तरायण सूर्यदेव सभी के जीवन में नई ऊर्जा और नए उत्साह का संचार करें।

-----

उत्तर प्रदेश में कडाके की ठंड के बावजूदमकर संक्रांति के अवसर पर हजारों लोग ब्रह्ममुहुर्त काल से पवित्र नदियों में स्नान कर रहे हैं। हमारे संवाददाता ने बताया कि प्रयागराज का प्रसिद्ध माघ मेलाभी आज से शुरू हुआ।

 

पश्चिम बंगाल में भी बडी संख्या में लोगगंगासागर में संक्रांति स्नान कर रहे हैं। इस दौरान दस लाख सेभी अधिक लोगों ने स्नान किया।

असम में माघ यानी भोगली बिहू पारंपरिक उत्सवहर्ष और उल्लास के साथ में मनाया जा रहा है।   

गुजरात में मकर संक्रांति का पर्व, पंतग-उत्‍सवके रूप में मनाया जा रहा है। राज्‍य में इसे उत्तरायण के नाम से भी जाना जाता है।

 

तमिलनाडु के कई दक्षिणी जिलों में रूक-रूक कर बारिशहोने के बावजूद पोंगल का त्यौहार आज उत्साहपूर्वक मनाया जा रहा है।

-----

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने पोंगलके अवसर पर देश और दुनिया के तमिल मूल के लोगों को शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने ट्वीटरपर जारी एक वीडियो संदेश में कहा कि इस समय बहुत कुछ मनाने और आगे देखने की जरूरत है।ब्रिटेन के समाज के प्रति तमिल समुदाय के योगदान की सराहना करते हुए बोरिस जॉनसन नेकहा कि इस समुदाय ने देश में व्यापार को बढाया तथा यहां की अर्थव्यवस्था में योगदान दिया। श्री जॉनसन ने राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा में मरीजों के इलाज में भी तमिल समुदाय की भूमिका को सराहा।

-----

और अब आर्थिक जगत कीखबरों के साथ हैं विशाल शर्मा-


बॉम्‍बे स्‍टॉक एक्‍सचेंजका सेंसेक्‍स आज शून्‍य 92 अंक की वृद्धि से 49 हजार पांच सौ 84 पर बंद हुआ। नेशनल स्‍टॉकएक्‍सचेंज का 31 अंक चढ़कर 14 हजार पांच सौ 96 पर पहुंच गया। अंतरबैंकविदेशी मुद्रा बाजार में रूपया एक डॉलर के मुकाबले दस पैसे मजबूत होकर 73 रूपए पांच पैसे पर बंद हुआ। मल्‍टी कमोडिटी एक्‍सचेंज - एमसीएक्‍स पर सोना लगभग चार सौ रुपए के नुकसान के साथ 48 हजार नौ सौ रुपए प्रति दस ग्राम पर कारोबार कर रहा था। चांदी भी करीब आठ सौरुपए टूटकर 65 हजार दो सौ रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गई।

-----

भारत और ऑस्ट्रेलियाके बीच बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का चौथा टेस्ट मैच कल से ब्रिस्बेन के गाबा मैदानपर खेला जाएगाा। इस मैच का आंखों देखा हाल आकाशवाणी से सुबह पांच बजे से एफ.एम. रेनबोचैनल और अतिरिक्‍त मीटरों पर प्रसारित किया जाएगा। इसका प्रसारण प्रसार भारती के यू-ट्यूबचैनल पर भी उपलब्‍ध रहेगा।

 

भारतीय टीम, कई खिलाड़ियों के चोटिल होनेके कारण चुनौती का सामना कर रही है। उसके नौ खिलाड़ी फिटनेस की समस्‍याओं से जूझ रहेहैं और जसप्रीत बुमराह, रविन्‍दर जडेजा, हनुमा विहारी अंतिम और निर्णायक टेस्‍ट से बाहर हैं। मयंक अग्रवाल और आर.अश्‍विनकी फिटनेस को लेकर भी संशय बना हुआ है। चार मैचों की टेस्ट श्रृंखला अभी 1-1से बराबरी पर है।

-----

भारत के 51वें अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोहमें महान फिल्‍मकार सत्‍यजीत रे को उनकी सुप्रसिद्ध फिल्‍मों के प्रदर्शन के जरिए भावभीनीश्रद्धांजलि अर्पित की जायेगी। सूचना और प्रसारण मंत्रालय के सचिव अमित खरे ने2019 में भारतीय अंतर्राष्‍ट्रीय फिल्‍म समारोह के स्‍वर्ण जयंती आयोजन में इसकी घोषणाकी थी। सत्‍यजीत रे के जन्‍मशती वर्ष में आयोजित किये जा रहे समारोह में श्रद्धांजलिके रूप में उनकी चुनिंदा फिल्‍में दिखाई जाएंगी।

-----

और अब एक नजर कल केमौसम पूर्वानुमान पर-


राष्ट्रीय राजधानीदिल्‍ली में सुबह घना कोहरा छाया रहेगा। तापमान 5 डिग्री सेल्सियस से 17 डिग्री सेल्सियस केबीच रहेगा। मुम्‍बई में आंशिक रूप से बादल छाए रहेंगे। न्‍यूनतम तापमान 20 और  33 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के आसार हैं। चेन्नई में आंशिक रूप से बादल छाएरहेंगे। कोलकाता में सुबह कोहरा छाया रहेगा। श्रीनगर में आंशिक रूप से आसमान साफ रहेगा।जम्मू में सुबह कोहरा छाया रहेगा। तापमान सात डिग्री और 15 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। लेह में आसमान साफ रहेगा। गिलगित में न्यूनतमतापमान शून्य से चार डिग्री नीचे और अधिकतम 11 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की सम्‍भावना है। मुजफ्फराबाद में शाम को आंशिकरूप से बादल छाए रहेंगे। तापमान 4 डिग्री से 19 डिग्री सेल्सियस के बीच रह सकता है। गुवाहाटी में तडके कोहरा छाया रहेगा। समाचारकक्ष से दीपिका शर्मा।

-----

नमस्‍कार।

-----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 25 (Jan) Midday News 25 (Jan) Evening News 25 (Jan) Hourly 25 (Jan) (1800hrs)
समाचार प्रभात 25 (Jan) दोपहर समाचार 25 (Jan) समाचार संध्या 25 (Jan) प्रति घंटा समाचार 25 (Jan) (2200hrs)
Khabarnama (Mor) 25 (Jan) Khabrein(Day) 25 (Jan) Khabrein(Eve) 25 (Jan)
Aaj Savere 25 (Jan) Parikrama 25 (Jan)

Listen Programs

Market Mantra 25 (Jan) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 24 (Jan) Spotlight/News Analysis 25 (Jan) Employment News 25 (Jan) रोजगार समाचार 25 (Jan) World News 24 (Jan) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 25 (Jan) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 16 (Jan) North East Diary 24 (Jan)