A- A A+
Last Updated : Jan 26 2021 6:31AM     Screen Reader Access
News Highlights
President Ram Nath Kovid asserts government remains singularly devoted to farmers' welfare            A self-reliant India manufactured its own COVID vaccine and added a glorious chapter to well being of humanity says the President            72nd Republic Day will be celebrated tomorrow with grandeur and enthusiasm            Prime Minister on occasion of Rashtriya Bal Puraskar awards ceremony asks children to commit to three pledges of consistency, country and humility            National Voters' Day observed across the country           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1430 HRS
04.12.2020

मुख्य समाचार

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कोविड वैक्‍सीन तैयार करने सहित महामारी से संबंधित अन्‍य चुनौतियों पर चर्चा के लिए सर्वदलीय बैठक की अध्‍यक्षता की।

  • प्रधानमंत्री ने कहा - विशेषज्ञों को विश्‍वास भारत में अगले दो हफ्तों में कोविड वैक्‍सीन उपलब्‍ध होगी।

  • कोविड से स्‍वस्‍थ होने की दर 94 दशमलव दो-शून्‍य प्रतिशत पर पहुंची।

  • जम्‍मू कश्‍मीर में जिला विकास परिषद चुनाव के तीसरे चरण का मतदान संपन्‍न।

  • ग्रेटर हैदराबाद म्‍युनिसिपल कॉरपोरेशन चुनाव की मतगणना जारी।

  • रिजर्व बैंक ने रेपो दर चार दशमलव दो-पांच प्रतिशत पर बरकरार रखी।

  • और, कैनबरा में आरंभिक ट्वेंटी-ट्वेंटी क्रिकेट मैच में ऑस्‍ट्रेलिया ने टॉस जीतकर भारत से बल्‍लेबाजी करने को कहा। 

-----------

कोविड  महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।


  • मास्‍क पहनें

  • दो गज दूरी - है जरूरी।

  • सुरक्षित दूरी बनाए रखें।

  • हाथ और मुंह साफ रखें।


अब समाचार विस्‍तार से-


-----------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि अगले कुछ सप्‍ताहों में भारत के पास कोविड माहामारी से बचाव के लिए टीका उपलब्‍ध हो जायेगा। महामारी के बारे में वर्चुअल सर्वदलीय बैठक में आज श्री मोदी ने कहा कि भारतीय वैज्ञानिकों को पूरा भरोसा है कि दो सप्‍ताह में वे कोरोना महामारी के लिए टीके का विकास कर लेंगे।


अब जब हम वैक्‍सीन के मुहाने पर खड़े हैं, तो वही जन भागीदारी, वहीं साइंटिफिक अप्रोच, वहीं सहयोग आगे भी बहुत जरूरी है। आप सभी अनुभवी साथियों के सुझाव समय-समय पर भी इसमें प्रभावी भूमिका निभाएंगे। 


प्रधानमंत्री ने कहा कि देश में अभी महामारी के आठ संभावित टीकों का विकास परीक्षण के विभिन्‍न चरणों में है। श्री मोदी ने कहा कि आज सारी दुनिया कोरोना महामारी के किफायती और कारगर टीके की भारत से उम्‍मीद कर रही है। श्री मोदी ने कहा कि वैज्ञानिक समुदाय के सहयोगपूर्ण प्रयासों से भारत निकट भविष्‍य में बड़े पैमाने पर टीकाकरण के लिए वैकल्पिक टीका बना लेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि अनुसंधान वैज्ञानिकों से टीके को मंजूरी मिल जाने के बाद ही टीकाकरण कार्यक्रम शुरू किया जायेगा। श्री मोदी ने कहा कि देश में बड़े पैमाने पर आम लोगों के टीकाकरण का कार्यक्रम मौजूद है और टीकों के समुचित भंडारण और आपूर्ति के लिए पर्याप्‍त शीत भंडारण सुविधाओं का विकास किया जा रहा है।


कोल्‍ड चैन को और मजबूत करने के लिए भी, साथ ही साथ अनेक नए प्रकल्‍प भी चल रहे हैं। कई और नए ऐप भी चल रहे हैं। भारत ने एक विशेष सॉफ्टवेयर भी बनाया है - को-विन। जिसमें कोरोना वैक्‍सीन के लाभार्थी वैक्‍सीन के उपलब्‍ध स्‍टॉक और स्‍टोरेज से जुड़ी रियल टाइम इनफॉरमेशन रहेगी।   


श्री मोदी ने कहा कि देश में सबसे पहले स्‍वास्‍थ्‍यकर्मियों और महामारी से निपटने में लगे अग्रिम पंक्ति के योद्धाओं को टीके लगाये जायेंगे। उन्‍होंने बताया कि टीकाकरण कार्यक्रम की विस्‍तृत प्राथमिकता सूची राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों के सहयोग से तैयार की जायेगी। प्रधानमंत्री ने कहा कि टीकों का मूल्‍य राज्‍य सरकारों के परामर्श से तय किया जायेगा और आमजन के स्‍वास्‍थ्‍य को सर्वोच्‍च प्राथमिकता दी जायेगी।


वैक्‍सीन की कीमत कितनी होगी ? इसे लेकर भी सवाल स्‍वभाविक हैं। केन्‍द्र सरकार इस बारे में राज्‍य सरकारों के साथ बात कर रही है। वैक्‍सीन की कीमत को लेकर फैसला जन स्‍वास्‍थ्‍य को सर्वोच्‍च प्राथमिकता देते हुए किया जाएगा और राज्‍य सरकारों की इसमें पूरी सहभागिता होगी।   


प्रधानमंत्री ने कहा कि देश ने फरवरी-मार्च के बाद से अब तक कोरोना से निपटने में काफी प्रगति कर ली है। उन्‍होंने लोगों के अदम्‍य साहस और प्रयासों के लिए सभी के प्रति आभार व्‍यक्‍त किया। श्री मोदी ने कहा कि भारत ने न सिर्फ अपने नागरिकों की मदद की है बल्कि अन्‍य राष्‍ट्रों को भी मदद पहुंचाई है और उन्‍हें दवाएं उपलब्‍ध कराई हैं। श्री मोदी ने लोगों से आग्रह किया कि वे कोरोना के खिलाफ अभियान में जनभागीदारी जारी रखें, क्‍योंकि देश को बहुत जल्‍द दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान का संचालन करना है।


भारत आज उन देशों में है जहां पर प्रतिदिन टेस्टिंग बहुत ज्‍यादा हो रही है। भारत आज उन देशों में है जहां पर रिकवरी रेट भी बहुत ज्‍यादा है। भारत उन देशों में भी शामिल है जहां पर कोरोना की वजह से होने वाली मृत्‍युदर इतनी कम है। भारत ने जिस तरह कोरोना के खिलाफ लड़ाई को लड़ा है, वो प्रत्‍येक देशवासी की अदम्‍य इच्‍छा शक्ति को दर्शाता है।


प्रधानमंत्री ने अधिकारियों से टीकाकरण कार्यक्रम के बारे में आमजन को जानकारी देने को भी कहा। उन्‍होंने कहा कि इस तरह के व्‍यापक अभियानों में ही सही जानकारी से अफवाहें फैलने से रोका जा सकेगा। उन्‍होंने यह भी कहा कि टीका आने तक लोगों को मास्‍क पहनने, एक-दूसरे के संपर्क में आते समय पर्याप्‍त दूरी बनाये रखने और बार-बार हाथ धोते रहने जैसे एहतियाती उपाय जारी रखने चाहिए। कोविड महामारी पर सर्वदलीय बैठक तीन घंटे चली जिसमें लोकसभा और राज्‍यसभा में विभिन्‍न पार्टियों के सदन के नेताओं ने हिस्‍सा लिया। बैठक में केन्‍द्रीय मंत्री अमित शाह, राजनाथ सिंह और डॉ. हर्षवर्धन ने भी हिस्‍सा लिया। कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी और गुलाम नबी आजाद, टी.एम.सी. नेता डेरेक ओब्रायन, डी.एम.के. पार्टी के नेता टी.आर.बालू, राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के प्रमुख शरद पवार तथा कई अन्‍य पार्टियों के नेताओं ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये भाग लिया।


-----------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भारत को दुनिया में दवा उत्‍पादन का केन्‍द्र बनाने का आह्ववान किया है। हाल में श्री मोदी ने देश में कोरोना महामारी के टीकों के विकास और उनके उत्‍पादन की प्रक्रिया का जायजा लेने के लिए तीन शहरों का दौरा किया। वे अ‍हमदाबाद में जायडस बॉयोटेक पार्क, हैदराबाद में भारत बॉयोटेक और पुणे में सीरम इंस्‍टीट्यूट ऑफ इंडिया के दौरे पर गये। अहमदाबाद और हैदराबाद में भारत स्‍वदेशी क्षमता से कोविड टीके का विकास कर रहा है, जबकि पुणे में दुनिया में करोड़ों लोगों को महामारी से बचाने के लिए टीके बनाये जायेंगे। प्रधानमंत्री ने वैज्ञानिकों को बताया कि वैज्ञानिकों का स्‍वयं उत्‍साहवर्धन करने के लिए वे उनके पास आये हैं। इससे टीकों के विकास की प्रक्रिया में तेजी आयेगी। प्रधानमंत्री ने इस बात पर जोर दिया कि कोरोना का टीका न सिर्फ भारतीयों के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए जरूरी है बल्कि इससे विश्‍व कल्‍याण को भी बढ़ावा मिलेगा। श्री मोदी ने कहा कि भारत का यह कर्तव्‍य है कि वह कोविड महामारी के खिलाफ विश्‍व के साझा संघर्ष में अपने पडोसियों समेत दुनिया के सभी देशों की मदद करे।


-----------

भारत ने कोविड महामारी से निपटने में शानदार उपलब्धि हासिल की है। अब तक 90 लाख से अधिक मरीज ठीक‍ हुए हैं। स्‍वस्‍थ होने की दर भी बढ़कर 94 दशमलव दो शून्‍य प्रतिशत हो गई है। रोजाना ठीक हो रहे रोगियों की संख्‍या नये संक्रमित लोगों की दैनिक संख्‍या से अधिक है। इस समय देशभर में कोविड से स्‍वस्‍थ लोगों की संख्‍या इलाज करा रहे मरीजों की तुलना में 22 गुना ज्‍यादा है। संक्रमण की पुष्टि वाले रोगियों की दैनिक संख्‍या पिछले 27 दिनों से लगातार 50 हजार से नीचे चल रही है। पिछले 24 घंटों में करीब 36 हजार पांच सौ लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई जबकि लगभग 43 हजार रोगी इलाज के बाद स्‍वस्‍थ हुए हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अधिकारी के अनुसार कोरोना महामारी की वजह से मृत्‍यु दर में भी गिरावट आई है और यह एक दशमलव चार पांच प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटों में कोरोना महामारी ने 540 रोगियों की जान ली है।  


-----------

देश में पिछले 24 घंटे के दौरान 11 लाख 70 हजार से अधिक कोविड नमूनों की जांच की गई। अब तक 14 करोड 47 लाख 28 हजार जांच हो चुकी हैं। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि ज्‍यादा जांच करने से संक्रमण की प्रारंभिक स्‍तर पर पहचान, मरीजों को तत्‍काल अलग रखना तथा कोविड का प्रभावी इलाज संभव हुआ है। इससे संक्रमण से हो रही मौतों में भी कमी आई है। जांच में तेजी लाए जाने से रोजाना संक्रमित हो रहे लोगों की संख्‍या कम हुई है। संक्रमण दर अब घटकर चार प्रतिशत से नीचे रह गई है। देश में इस समय रोजाना प्रति दस लाख की आबादी पर विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन के निर्धारित मानक की पांच गुणा जांच की जा रही हैं। केन्‍द्र सरकार और भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने जांच की दर चरणबद्ध तरीके से बढाते हुए इसके लिए सुविधाएं बढाई हैं। इस वर्ष जनवरी में पुणे के राष्‍ट्रीय वायरोलॉजी संस्‍थान की एक प्रयोगशाला से शुरू होकर अब देश में दो हजार एक सौ 96 प्रयोगशालाओं में कोविड जांच की जा रही है। इन प्रयोगशालाओं में एक हजार 186 सरकारी तथा एक हजार दस निजी क्षेत्र में हैं।


-----------

मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटों में एक हजार 450 नए मामले सामने आने से राज्य में संक्रमित लोगों की संख्या बढकर करीब  2 लाख 10 हजार तक पहुंच गई है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि कोरोना संक्रमण से 13 मरीजों की मृत्यु होने के साथ  मृतकों की संख्या बढ़कर तीन हजार तीन सौ हो गई है।


राज्य के स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार 1 हजार पांच सौ 69 कोरोनावायरस रोगियों को कल स्वस्थ होने के बाद अस्पतालों से छुट्टी मिल गयी। इसके फलस्वरूप प्रदेश में अब तक 1 लाख 93 हजार से अधिक लोग स्वस्थ हो चुके हैं। मध्य प्रदेश में अब 13 हजार आठ सौ 87 सक्रिय मामले हैं। राज्य में कल 30 हजार से अधिक परीक्षण किए गए थे। वहीं, अब तक लगभग 38 लाख परीक्षण किए जा चुके हैं। मध्‍यप्रदेश में अब भोपाल और इंदौर में ही प्रतिदिन तीन सौ से अधिक मरीज़ मिल रहे हैं, जबकि शेष जिलों में प्रतिदिन मिलने वाले नए रोगियों की संख्या 50 से कम हो गई है। संजीव शर्मा, आकाशवाणी समाचार, भोपाल।


-----------

त्रिपुरा में पिछले 24 घंटे के दौरान कोविड के 68 रोगी स्वस्थ हुए जबकि 39 में संक्रमण की पुष्टि हुई। स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार राज्य में संक्रमितों की संख्या 32 हजार 803 हो गई है। इनमें से 31 हजार 924 लोग स्वस्थ हो चुके हैं। स्वस्थ होने की दर 97 दशमलव तीन-नौ प्रतिशत तक पहुंच गई है। राज्य में कल शाम तक पांच लाख 33 हजार से अधिक लोगों की कोविड जांच की गई। इनमें से पांच लाख से अधिक लोगों में संक्रमण के लक्षण नहीं पाये गए हैं।


-----------

मिजोरम में पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना संक्रमण से 63 मरीज ठीक हुए हैं। सात लोगों में संक्रमण की पुष्टि होने के साथ ही संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर तीन हजार आठ सौ 88 हो गई है। राज्य के चिकित्सा विभाग के अनुसार स्‍वस्‍थ होने की दर बढकर 93 दशमलव नौ-सात प्रतिशत हो गई हे। अब तक तीन हजार छह सौ 47 लोग संक्रमण से ठीक हो चुके हैं जबकि दो सौ 35 मरीज उपचार करा रहे हैं।


-----------

तेलंगाना में पिछले 24 घंटों के दौरान छह सौ 31 लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इसके साथ ही संक्रमित लोगों की संख्‍या बढकर दो लाख 72 हजार 123 हो गई हैं। कल 57 हजार से अधिक जांच की गई। इस दौरान आठ सौ दो लोगों के इस संक्रमण से ठीक होने के बाद राज्य में स्वस्थ होने की दर 96 दशमलव दो-एक प्रतिशत हो गई है। राज्य में अब तक दो लाख 61 हजार आठ सौ 30 मरीज संक्रमण से मुक्‍त हो चुके हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान दो और लोगों की मौत हो जाने से मृतकों की संख्‍या एक हजार चार सौ 67 हो गई है।


-----------

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के कैंसर प्रकोष्ठ में एडशिनल प्रोफेसर डॉक्टर राकेश गर्ग ने कहा ह्रै कि कोविड महामारी अभी जारी है और हमें कोविड के दिशा-निर्देशों का कडाई से पालन करना चाहिए। आकाशवाणी समाचार से बातचीत में डॉक्टर गर्ग ने बताया कि कुछ आसान सावधानियां बरतकर कोरोना से खुद को ओर दूसरों को बचा सकते हैं।


-----------

केन्द्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद के तीसरे चरण के लिए मतदान सम्पन्न हो गया। इस चरण में 33 निर्वाचन क्षेत्रों के लिए वोट डाले गए। इनमें से 16 कश्मीर घाटी और 17 जम्मू क्षेत्र में हैं। तीन सौ पांच उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। जम्मू में सात सौ 92 और कश्मीर संभाग में एक हजार 254 मतदान केन्द्रों सहित कुल दो हजार 46 मतदान केन्द्र बनाए गए। हमारे संवाददाता ने खबर दी है कि अनंतनाग जिले में अपनी पार्टी के एक उम्मीदवार पर आतंकवादियों ने गोली चलाई। जिला विकास परिषद के चुनाव के लिए सगम कोकेरनाग निर्वाचन क्षेत्र से प्रत्याशी अनीस-उल इस्लाम पर आतंकियों ने उस समय गोली चलाई जब वे क्षेत्र के दौरे पर थे। उन्हें जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां उनकी हालत स्थिर बताई जा रही है।


-----------

बृहद हैदराबाद नगर निगम के चुनाव की मतगणना में टी.आर.एस. पार्टी ताजा समाचारों के अनुसार सबसे आगे है। लेकिन भारतीय जनता पार्टी उसे कड़ी टक्‍कर दे रही है और कुछ निर्वाचन क्षेत्रों में दोनों के बीच कांटे की टक्‍कर है। पहला नतीजा मेहदीपट्टनम निर्वाचन क्षेत्र से आया है, जहां सबसे कम वोट पड़े थे। इस सीट पर मजलिस-ए-इत्‍तेहादुल मुसलमीन के उम्‍मीदवार और पूर्व महापौर मोहम्‍मद माजि़द हुसैन चुनाव जीत गये हैं। चुनाव अधिकारियों के अनुसार पहले दौर की मतगणना के अंत में टी.आर.एस. पार्टी 57 क्षेत्रों में आगे चल रही थी। भाजपा 13 और मजलिस-ए-इत्‍तेहादुल मुसलमीन 32 क्षेत्रों की मतगणना में आगे थी। कांग्रेस तीन क्षेत्रों में आगे है। 


-----------

उत्तरप्रदेश में विधान परिषद अध्यापक निर्वाचन क्षेत्र की छह सीटों में से भाजपा ने तीन सीटें जीत ली हैं। समाजवादी पार्टी ने एक सीट हासिल की है जबकि दो सीटों पर निर्दलीय उम्मीदवार विजयी रहे हैं। अध्यापक निर्वाचन क्षेत्र से भाजपा ने पहली बार अपने चुनाव चिन्ह पर चुनाव लडा है। हमारे संवाददाता ने खबर दी है कि भाजपा ने लखनऊ, मेरठ और बरेली-मुरादाबाद अध्यापक सीट जीती हैं जबकि समाजवादी पार्टी वाराणसी सीट पर विजयी रही। उधर, आगरा और गोरखपुर-फैजाबाद सीटें निर्दलीय उम्मीदवारों ने हासिल की है। पांच मंडल स्नातक निर्वाचन क्षेत्रों के वोटों की गिनती जारी है। देर शाम तक नतीजे मिलने की संभावना है।


-----------

असम में बोडोलैंड क्षेत्रीय परिषद चुनाव के पहले चरण का प्रचार कल समाप्‍त हो गया। इस चरण में बक्‍सा और उदालगुड़ी  जिलों की 21 सीटों के लिए इस महीने के अगले मंगलवार को  वोट डाले जायेंगे। हमारे संवाददाता ने बताया है कि चुनाव का दूसरा चरण दस दिसम्‍बर को होगा, जिसमें चिरांग और कोकराझार जिलों की 19 सीटों के लिए वोट पड़ेंगे।


चुनाव में 40 सीटों पर 241 उम्मीदवारों के राजनीतिक भाग्य का फैसला होना है। भाजपा, बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट (बीपीएफ), कांग्रेस, एआईयूडीएफ, यूपीपीएल और निर्दलीय उम्मीदवार मैदान में हैं। आज भाजपा के वरिष्ठ नेता और प्रदेश के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने गोबरधना और उदलगुरी में 2 रैलियां कीं और लोगों से बीटीसी क्षेत्र के विकास के लिए भाजपा को वोट देने का आग्रह किया। दूसरी ओर, बोडोलैंड पीपुल्स फ्रंट बीपीएफ जो अपने गठबंधन सहयोगी भाजपा के खिलाफ लड़ रहा है आज से रैलियां कर रहे हैं। एआईयूडीएफ कांग्रेस, यूपीपीएल और लोकसभा सांसद नबा सरानिया भी आज अपने-अपने उम्‍मीदवारों के लिए प्रचार में लगे हुए हैं। मानस प्रतीम शर्मा, आकशवाणी समाचार गुवाहाटी। 


-----------

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आज पैन आईआईटी यूएसए द्वारा आयोजित आईआईटी-2020 ग्लोबल सम्मेलन को संबोधित करेंगे। इस वर्ष सम्मेलन का विषय है द फ्यूचर इज नाऊ है। इस सम्मेलन में वैश्विक अर्थव्यवस्था, प्रौद्योगिकी नवाचार, स्वास्थ्य, पर्यावास संरक्षण और सार्वभौमिक शिक्षा जैसे विषयों पर विचार-विमर्श होगा। पैन आईआईटी यूएसए बीस वर्ष से अधिक पुराना संगठन है और 2003 से इस सम्मेलन का आयोजन कर रहा है। इसमें उद्योग, शिक्षा और विभिन्न सरकारों से वक्ताओं को आमंत्रित किया गया है। इस संगठन को आईआईटी के पूर्व छात्र संचालित करते हैं।


-----------

सरकार और किसानों के बीच वार्ता में कल दिल्‍ली में 40 किसान संघो के प्रतिनिधि और कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, वाणिज्‍य मंत्री पीयूष गोयल तथा वाणिज्य राज्य मंत्री सोम प्रकाश शामिल हुए। इसमें कृषि और उपभोक्ता कार्य मंत्रालय तथा खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने भी हिस्सा लिया। बैठक के बाद कृषि मंत्री नरेन्‍द्र सिंह तोमर ने आश्‍वासन दिया कि सरकार किसानों के सभी मुद्दों और शंकाओं पर चर्चा के लिए तैयार है। श्री तोमर ने कहा कि बैठक बहुत ही सकारात्‍मक माहौल में हुई।


यूनियंस के लोगों ने अपना पक्ष रखा और सरकार ने भी अपना पक्ष रखा। चर्चा में सामान्‍य तौर पर कुछ बिन्‍दु निकाले गए हैं जिन पर किसान यूनियन की चिंता मुख्‍य रूप से है। हम लोग प्रारंभ से यह बात कह रहे थे कि भारत सरकार किसानों के हितों के प्रति पूरी तरह प्रतिबद्ध है। भारत सरकार इस बात पर विचार करेगी कि एपीएमसी सशक्‍त हों और एपीएमसी का उपयोग और बढ़े।


किसान संघों ने अगले दौर की बातचीत के लिए सहमति व्यक्त की है।


बातचीत के आरंभ में ही कृषि मंत्री ने किसानों के कल्याण के प्रति सरकार की प्रतिबद्धता व्‍यक्‍त की। श्री तोमर ने कहा कि न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य समाप्‍त नहीं किया जाएगा।


एक्‍ट के जो प्रावधान है उसमें किसान को पूरी तरह सुरक्षा प्रदान की गई है। कोई भी किसान की जमीन की लिखा पढ़ी नहीं कर सकता है इस बात का प्रावधान एक्‍ट में ही है। लेकिन फिर भी लोगों की शंका है तो शंका का निवारण करने के लिए सरकार तैयार है एमएसपी के मामले में लोग शंका की दृष्टि से देखते हैं लेकिन फिर यह कहना चाहता हूं एमएसपी चल रही थी, एमएसपी चल रही है, आने वाले कल में भी चलती रहेगी।


-----------

नरेन्‍द्र मोदी सरकार ने देश में कृषि क्षेत्र की कायाकल्‍प और किसानों की आय बढाने के उद्देश्‍य से कई कदम उठाए हैं। सरकार ने हाल ही में नये कृषि कानून लागू किए। इनमें शामिल हैं - किसान उपज व्‍यापार और वाणिज्‍य संवर्धन तथा सुविधा अधिनियम 2020 तथा मूल्‍य आश्‍वासन और कृषि सेवाओं संबं‍धी किसान सशक्तिकरण और संरक्षण समझौता विधेयक 2020 . ब्‍यौरा हमारे संवाददाता से -


किसान उपज, व्‍यापार और वाणिज्‍य संवर्धन और सुविधा अधिनियम 2020 का मुख्‍य उद्देश्‍य उन बिचौलियों को समाप्‍त करना है, जिन्‍होंने किसानों के अधिकांश उत्‍पादक आय को कम किया है। इस ऐतिहासिक कानून की वजह से कृषि मंडियों में फलने-फूलने वाले ऐसे बिचौलियों पर सरकार ने गहरा आघात पहुंचाया है। देश में किसान पहली बार अपनी उपज को बेहतर कीमत पर बेचने की स्‍वतंत्रता पा चुका है। वहीं दूसरी ओर फसल कटने के बाद अब वह अनाज सीधे-सीधे फैक्‍ट्री, गोदाम या कुल स्‍टोरेज में भी बेच सकता है। किसान अपनी ऊपज ऑनलाइन व्‍यापार के माध्‍यम से भी देश के किसी कोने में बेच सकता है। इन सबके अलावा नये विधान कृषि उत्‍पाद संबंधित न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य की मौजूदा व्यवस्‍था और कृषि मंडियों की मौजूदा प्रणाली को किसी भी तरह से सं‍शोधित किए बगैर किसानों को नई व्‍यवस्‍था चुनने का विशेषाधिकार देते हैं। एपीएम सी कानून तथा कृषि विपणन समितियां राज्‍य सरकारों द्वारा ही नियंत्रित की जाती रहेंगी। आकाशवाणी समाचार के लिए आनंद चतुर्वेदी, दिल्‍ली।  

 

-----------

राजस्‍थान के किसानों को केन्‍द्र सरकार द्वारा हाल में बनाये गये कृषि से संबंधित तीन कानूनों का फायदा मिल रहा है। किसानों, किसान और उत्‍पादक संगठनों तथा आम उपभोक्‍ताओं को इन कानूनों का लाभ हो रहा है। हमारे संवाददाता की रिपोर्ट- 


अजमेर जिले के केकड़ी में ऐसे ही संगठन अजयमेरू किसान समृद्धि प्रोड्यूसर कंपनी लिमिटेड ने हाल ही में केकड़ी के ही नीमोद गांव से 41 मिटिक टन चना सीधा किसानों से खरीदा। इससे किसानों को प्रति क्विंटल 100 रूपये ज्यादा दाम मिले। साथ ही अपनी उपज को मंडी तक ले जाने का किसानों का खर्चा भी बचा। संगठन के सीईओ ओम निवास शर्मा ने आकाशवाणी को बताया कि नये कृषि कानूनों से ही सही मायने में किसानों और कृषक उत्पादक संगठनों को बल मिला है।


नये कृषि कानून किसानों के पक्ष में हैं और इन कानूनों के आने के बाद अभी अजय नेहरू संस्‍थान, गंगानगर और अभोर पंजाब से किसानों से सीधा खरीद रहा है। पिछले दस दिन में हमने 15 से ज्‍यादा ट्रक लोड किन्‍नू खरीदकर बांग्‍लादेश और वेस्‍ट बंगाल भेजा। अगर नए कानून नहीं आते तो हमें यह कागज नहीं मिलते कि हमें अपने ऑफिस से निकलकर दूसरे जिले में या पांच सौ हजार केन्‍द्र दूर जाके भी किसानों की मदद कर सकते हैं। श्री शर्मा का कहना है कि नए कृषि कानून न केवल किसानों के लिए बल्कि शहरी उपभोक्‍ताओं के लिए भी बेहद लाभकारी साबित होने वाले हैं। जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।  


-----------

भारतीय रिजर्व बैंक के गर्वनर शक्तिकांत दास ने कहा है कि मौद्रिक नीति समिति ने सर्वसम्‍मति से बैंकों की नीतिगत दरों को चार प्रतिशत के स्‍तर पर बनाये रखने का फैसला किया है। उन्‍होंने कहा कि मार्जिनल स्‍टैंडिंग फैसिलिटी को सवा चार प्रतिशत और रिवर्स रेपोरेट को तीन दशमलव तीन-पांच प्रतिशत के स्‍तर पर यथावत रखा गया है।


रिजर्व बैंक के गर्वनर ने कहा कि अर्थव्‍यवस्‍था में मौटे तौर पर सुधार के संकेत नहीं है लेकिन इसके लिए लगातार नीतिगत सहायता देना जरूरी होगा। उन्‍होंने कहा कि 2020-21 में वास्‍तविक सकल घरेलू उत्‍पाद विकास-दर ऋणात्‍मक स्‍तर पर साढ़े सात प्रतिशत रहने की संभावना है।


श्री दास ने कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक वित्‍तीय क्षेत्र की स्थिरता बनाए रखने के लिए पूरी तरह वचनबद्ध है और इसके लिए जो कुछ भी संभव होगा, करेगा। एक रिपोर्ट -


रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की गवर्नर डॉ. शक्तिकांत दास ने उम्मीद जताई है की चालू वित्त वर्ष के उत्तरार्ध में अर्थव्यवस्था में सकारात्मक वृद्धि दर्ज होगी। उन्होंने आश्वस्त किया की मौद्रिक नीति समिति, दरों को स्थिर रखने के लिए सभी अहम पहलूओं की निगरानी करती रहेगी। साथ ही उन्होंने कहा की बैंकों और एनबीएफसी जैसी वित्तीय क्षेत्र की इकाइयों को अच्छे प्रशासन, जोखिम प्रबंधन और आंतरिक नियंत्रण को सर्वोच्च प्राथमिकता देनी होगी। उन्होंने बताया कि जनवरी 2021 से रिजर्व बैंक ने संपर्क रहित कार्ड द्वारा लेन-देन की सीमा को प्रति ट्रान्जॅक्शन दो हजार रुपये से बढ़ाकर पांच हजार रुपये करने का फैसला किया है। साथ ही आने वाले कुछ ही दिनों में आरटीजीएस प्रणाली को दिनभर अर्थात 24 बाए 7 उपलब्ध कर दिया जाएगा। उन्होंने बताया की यंत्रणा मे पर्याप्त तरलता बनाए रखने के लिए रिजर्व बैंक सभी जरूरी कदम उठाती रहेगी। माधुरी पांगे, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।


-----------

केंद्रीय सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये नगालैंड की 15 राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। श्री गडकरी ने राष्ट्रीय राजमार्ग 39 पर दीमापुर के शहरी भाग के सुधार कार्यों का भी उदघाटन किया। दो सौ 70 किलोमीटर लंबी इन परियोजनाओं पर चार हजार 127 करोड रूपये की लागत आयेगी। इस अवसर पर श्री गडकरी ने कहा कि सरकार पूर्वोत्तर क्षेत्र विशेषकर नगालैंड की प्रगति के लिए प्रतिबद्ध है।


नगालैंड में खनिजो, अनानास और बांस के लिए अपार क्षमताओं का जिक्र करते हुए उन्होंने आशा व्यक्त की कि राज्य में उपलब्ध कच्चे माल का उपयोग कर नगालैंड में उद्योग लगाये जायेंगे जिससे राज्य के युवाओं को रोजगार के अवसर मिलेंगे। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री डाक्टर वी के सिंह, राज्य के मुख्यमंत्री और राज्य के मंत्री तथा अधिकारी मौजूद थे।


-----------

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने दिल्‍ली सरकार को नोटिस जारी कर राजधानी दिल्‍ली में प्रदूषण के संकट के समाधान के लिए कदम उठाने को कहा है। आज नई दिल्‍ली में मीडिया को जानकारी देते हुए। पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि नोटिस में दिल्‍ली सरकार से औद्योगिक कचरे, कूड़ा- करकट जलाने, निर्माण स्‍थलों पर प्रदूषण रोकने के उपाय न किए जाने और औद्योगिक बस्तियों में कच्‍ची सड़कों से होने वाले प्रदूषण की रोकथाम जैसे उपाय करने को कहा है। श्री जावड़ेकर ने कहा कि पराली जलाने का समय गुजर जाने के बावजूद दिल्‍ली में वायु प्रदूषण गंभीर चिंता का विषय बना हुआ है।


दिल्‍ली का प्रदूषण वेरी पूअर कैटेगिरी में है और तीन सौ से लेकर चार सौ से भी ऊपर कही गई है। ये स्थिति की गंभीरता दिखाता है। सीपीसीबी की पचास टीमें रोज पूरे एनसीआर क्षेत्र में जाती है और वहां जो ऑबजर्ववेशन्स होते हैं और शिकायत मिलती है वो संबंधित एजेंसियों को देती है। फिर भी कुछ काम होता है कुछ नहीं होता है। इसलिए केन्‍द्रीय प्रदूषण नियंत्रण मंडल ने दिल्‍ली सरकार को एक नोटिस जारी किया है जो प्रदूषण के कारण है उस पर तुरंत कार्रवाई करें और जो कमप्‍लेंट्स आ रहे हैं, जो हम दिल्‍ली सरकार को फॉरवर्ड कर रहे हैं उसका भी संज्ञान और एक्‍शन तुरंत लें।


-----------

उपराष्‍ट्रपति एम.वेंकैया नायडु ने पूर्व प्रधानमंत्री स्‍वर्गीय इन्‍द्र कुमार गुजराल की जयंती पर उन्‍हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी है।


-----------

आज नौसेना दिवस है। यह दिन भारतीय नौसेना की उपलब्धियों और महत्‍वपूर्ण भूमिका की ओर ध्‍यान आकर्षित करने के लिए हर साल चार दिसंबर को बनाया है। 1971 में आज ही के दिन भारतीय नौसेना ने ऑपरेशन ट्राइडेंट के दौरान पीएनएस खैबर सहित पाकिस्‍तानी नौसेना के चार पोतों को डुबा दिया था, जिससे सैकड़ों पाकिस्‍तानी नौसैनिक मारे गए थे।


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने नौसेना दिवस के अवसर पर सभी नौसैनिकों और उनके परिवारों को शुभकामनाएं दी हैं।


गृह मंत्री अमित शाह तथा सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने भी सभी नौसैनिकों और उनके परिवारों को नौसेना दिवस के अवसर पर शुभकामनाएं दी हैं।


-----------

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच तीन ट्वेंटी-ट्वेंटी मैचों की श्रृंखला का पहला मैच आज कैनबरा में खेला जा रहा है। ताजा समाचार मिलने तक भारत ने 17वें ओवर में 5 विकेट पर 110 रन बना लिए हैं। ट्वंटी-ट्वंटी श्रृंखला का दूसरा मैच 6 दिसंबर को और तीसरा 8 दिसंबर को सिडनी में खेला जाएगा। ऑस्‍ट्रेलिया ने तीन एकदिवसीय क्रिकेट मैचों की श्रृंखला दो-एक से जीती। दोनों देश चार टैस्‍ट मैच भी खेलेंगे। पहला टैस्‍ट मैच 17 दिसम्‍बर से एडिलेड में शुरू होगा।  


-----------

राजस्व आसूचना निदेशालय आज अपना 63 वां स्थापना दिवस मना रहा है। कोविड महामारी के कारण इस बार समारोह वर्चुअल माध्‍यम से आयोजित किया जायेगा जिसमें  वित्‍त मंत्री निर्मला सीता रामन और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर भाग लेंगे।


-----------

 

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 25 (Jan) Midday News 25 (Jan) Evening News 25 (Jan) Hourly 26 (Jan) (0610hrs)
समाचार प्रभात 25 (Jan) दोपहर समाचार 25 (Jan) समाचार संध्या 25 (Jan) प्रति घंटा समाचार 26 (Jan) (0600hrs)
Khabarnama (Mor) 25 (Jan) Khabrein(Day) 25 (Jan) Khabrein(Eve) 25 (Jan)
Aaj Savere 25 (Jan) Parikrama 25 (Jan)

Listen Programs

Market Mantra 25 (Jan) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 24 (Jan) Spotlight/News Analysis 25 (Jan) Employment News 25 (Jan) रोजगार समाचार 25 (Jan) World News 24 (Jan) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 25 (Jan) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 16 (Jan) North East Diary 24 (Jan)