A- A A+
Last Updated : Jan 25 2021 10:23PM     Screen Reader Access
News Highlights
President Ram Nath Kovid asserts government remains singularly devoted to farmers' welfare            A self-reliant India manufactured its own COVID vaccine and added a glorious chapter to well being of humanity says the President            72nd Republic Day will be celebrated tomorrow with grandeur and enthusiasm            Prime Minister on occasion of Rashtriya Bal Puraskar awards ceremony asks children to commit to three pledges of consistency, country and humility            National Voters' Day observed across the country           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
30.11.2020
मुख्य समाचार:-

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा- कृषि सुधारों से किसानों को नये विकल्‍प और कानूनी सुरक्षा उपलब्‍ध होगी। उन्‍होंने आश्‍वासन दिया कि अगर कुछ लोग पुरानी व्‍यवस्‍था का चयन करते हैं, तो वह भी जारी रहेगी।

  • प्रधानमंत्री ने कोविड-19 से निपटने के लिए टीका तैयार करने वाले वैज्ञानिकों के प्रयासों की सराहना की।

  • देश में कोविड-19 से स्‍वस्‍थ होने की दर 93 दशमलव आठ-एक प्रतिशत हुई।

  • जम्‍मू-कश्‍मीर में कल होने वाले जिला विकास परिषद के दूसरे चरण के चुनाव की सभी तैयारियां पूरी।

  • उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने शंघाई सहयोग संगठन के सदस्‍य देशों से आतंकवाद को पनाह और वित्‍तीय सहायता देने वाले नेटवर्क को समाप्‍त करने का कानून लागू करने का आग्रह किया।

-----------

कोविड-19 महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।


मास्‍क पहने

दो गज दूरी, है जरूरी-सुरक्षित दूरी बनाए रखें

हाथ और मुंह साफ रखें।

------------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के किसानों को आश्वासन दिया है कि नए कृषि संबंधी सुधार उनके विकास के लिए लाए गए हैं। उत्तर प्रदेश में अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी में आज एक सभा में उन्होंने कहा कि सरकार न केवल किसानों को नए बाजार के अवसर प्रदान करना चाहती है बल्कि मंडी व्यवस्था को भी मजबूत करना चाहती है। प्रधानमंत्री ने जोर देकर कहा कि नए कृषि सुधारों ने किसानों को नए विकल्प और नई कानूनी सुरक्षा दी है और अगर कोई पुरानी प्रणाली जारी रखना चाहता है, तो वह भी उपलब्‍ध है।


नए कृषि सुधारों से किसानों को नए विकल्प और नए कानूनी संरक्षण ही तो दिए गए हैं। पहले तो मंडी के बाहर हुए लेनदेन ही गैरकानूनी माने जाते थे। ऐसे में छोटे किसानों के साथ अक्सर धोखा होता था, विवाद होते थे। क्योंकि छोटा किसान तो मंडी पहुंच ही नहीं पाता था। अब ऐसा नहीं है। अब छोटे से छोटा किसान भी, मंडी से बाहर हुए हर सौदे को लेकर कानूनी कार्यवाही कर सकता है। यानि किसान को अब नए विकल्प ही नहीं मिले हैं और छल से, धोखे से, उसे बचाने के लिए कानूनी संरक्षण भी मिला है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि एनडीए सरकार नेक इरादों से साथ काम कर रही है और अब देश के किसान आत्‍मनिर्भर भारत अभियान का नेतृत्व करेंगे।


प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि कृषि सुधारों के बारे में विपक्ष द्वारा गलत सूचना फैलाई जा रही है। उन्होंने आरोप लगाया कि किसानों के नाम पर पहले भी कई पैकेज और योजनाओं की घोषणा की गई थी लेकिन उनका लाभ गरीब किसानों तक कभी नहीं पहुंचा। प्रधानमंत्री ने विश्वास व्यक्त किया कि जिन किसानों को कृषि सुधारों पर कुछ संदेह है, वे अवश्‍य ही भविष्य में इन कृषि सुधारों का लाभ भी लेंगे और अपनी आय में वृद्धि करेंगे।


श्री मोदी ने कहा कि अब सरकार किसानों की सहायता कर रही है और उन्हें बीज, सिंचाई सुविधा, बाजार और बीमा कवर प्रदान करके उनकी आय बढ़ाने की कोशिश कर रही है।


बीते सालों में फसल बीमा हो या सिंचाई, बीज हो या बाज़ार, हर स्तर पर काम किया गया है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से देश के लगभग 4 करोड़ किसान परिवारों की मदद हुई है। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना से लगभग 47 लाख हेक्टर ज़मीन माइक्रो इरिगेशन के दायरे में आ चुकी है। लगभग 77 हज़ार करोड़ रुपए के इरिगेशन प्रोजेक्ट्स पर तेज़ी से काम चल रहा है।


श्री मोदी ने कहा कि सरकार ने यूपीए टू के पांच वर्ष के कार्यकाल की तुलना में किसानों के उत्पादों की खरीद कई गुना अधिक की है। श्री मोदी ने कहा की लॉकडाउन अवधि के दौरान भी, सरकार ने किसानों को उर्वरक उपलब्ध कराया है। उन्होंने जोर देकर कहा कि सरकार मंडियों को आधुनिक बनाने के लिए करोड़ों रुपये खर्च कर रही है।


प्रधानमंत्री ने आरोप लगाया कि विपक्ष के पास सरकार की नीतियों के बारे में गलत सूचना फैलाने की प्रवृत्ति है और उन्होंने पीएम किसान निधि योजना के साथ भी ऐसा ही किया।


प्रधानमंत्री ने अपने संसदीय निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्‍या-19 के प्रयागराज के हंडिया से वाराणसी के राजा तालाब खंड की छह-लेन चौड़ीकरण परियोजना राष्ट्र को समर्पित की।


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि प्रयागराज और वाराणसी के बीच उन्नत राजमार्ग से श्रद्धालुओं और पर्यटकों को सुविधा मिलेगी और इससे विकास को और बढ़ावा मिलेगा। श्री मोदी ने कहा कि राज्य में भाजपा सरकार आने के बाद उत्तर प्रदेश की छवि में बदलाव आ रहा है।


आज उत्तर प्रदेश की पहचान एक्सप्रेस प्रदेश के रूप में सशक्त हो रही है। यूपी में कनेक्टिविटी के हजारों करोड़ के 5 मेगा प्रोजेक्ट्स पर एक साथ काम चल रहा है। आज पूर्वांचल हो, बुंदेलखंड हो, पश्चिमी उत्तर प्रदेश हो, हर कोने को एक्सप्रेसवे से जोड़ा जा रहा है। देश के 2 बड़े और आधुनिक डिफेंस कॉरिडोर में से एक हमारे उत्तर प्रदेश में ही बन रहा है।


श्री मोदी ने कहा कि वाराणसी का अभी जो विकास हो रहा है, उतना आजादी के बाद कभी नहीं हुआ।


पिछले 6 वर्षों में बनारस में हज़ारों करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट्स तेजी से पूरे किए गए हैं और बहुत सारी परियोजनाओं पर काम चल रहा है। एयरपोर्ट से शहर को जोड़ने वाली सड़क आज बनारस में विकास कार्यों की पहचान बन गई है। रेलवे स्टेशन की कनेक्टिविटी भी बेहतर हुई है। यहां से कुछ दूरी पर ही रिंग रोड फेज-2 का भी कार्य तेजी से चल रहा है। इसके पूरा होने से सुल्तानपुर, आजमगढ़ और गाजीपुर से आने-जाने वाले भारी वाहन शहर में एंट्री लिए बिना, सीधे इस नए सिक्स लेन हाईवे से निकल सकेंगे।


प्रधानमंत्री ने कहा कि वाराणसी से अब विदेशी बाजारों में सब्जियों और फलों का निर्यात किया जा रहा है।


प्रधानमंत्री ने वाराणसी में कई आयोजनों में भाग लिया और काशी विश्वनाथ मंदिर गलियारा परियोजना की कार्य प्रगति की समीक्षा के बाद, उन्होंने मंदिर में भगवान शिव की प्रार्थना की।


गंगा नदी पर एक क्रूज में यात्रा करते हुए, प्रधानमंत्री राजघाट पहुंचे और देव दीपावली उत्सव में भाग लिया। उन्होंने सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित करने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि अब भारत उन ताकतों को करारा जवाब दे रहा है जो इसकी आंतरिक और बाहरी सुरक्षा को चुनौती देती हैं। उन्होंने वाराणसी में आकाशदीप की परंपरा का स्वागत किया, जिसमें लोग देश के बहादुरों को सम्‍मान और श्रद्धांजलि देने के लिए दीप जलाते हैं।


कहा जाता है कि कार्तिक पूर्णिमा की रात को देवता स्वयं स्वर्ग से उतरकर काशी में दीपावली मनाने आते हैं और देव दीपावली के उत्सव पर पहली बार लाखों दीयों की जगमगाहट में देश के प्रधानमंत्री की उपस्थिति की आभा भी मौजूद थी। राजघाट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दिया जलाने के साथ ही औपचारिक रूप से देव दीपावली उत्सव की शुरुआत हुई । सांस्कृतिक समूहों ने शिव और मां गंगा की आराधना प्रस्तुत की और लगभग 15 लाख दीप गंगा के दोनों तरफ 84 घाटों पर जगमगा उठे। दियों की सुनहरी रोशनी से नहाती गंगा की लहरों पर सवार होकर प्रधानमंत्री ने इस विहंगम दृश्य वली को निहारा और लेजर शो का भी आनंद लिया। कोविड-19 दिशा निर्देशों का पालन करते हुए हज़ारों की भीड़ इस अद्भुत नजारे को देखने और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का स्वागत करने के लिए मौजूद रही। सुशील चंद्र तिवारी, आकाशवाणी समाचार, वाराणसी।

-----------

सरकार ने किसानों के कल्याण के लिए कई सुधार किए हैं। किसान अब राज्य के बाहर भी अपनी उपज बेच सकते हैं। परिणामस्वरूप, किसान अब राज्य सरकारों द्वारा निर्धारित मंडियों या बाजारों में बिक्री पर लागू अतिरिक्त बाजार शुल्क, उपकर या लेवी का भुगतान करने के लिए बाध्य नहीं हैं।


किसानों को अपनी उपज को स्‍थानीय मंडियों में बेचने की बाध्‍यता से मुक्‍त करने से बडे बिचौलियों और उनके साथियों में बेचैनी पैदा हुई है। ये लोग किसानों और ग्रामीण समुदाय का लगातार शोषण करने के लिए अब भी बेचैन हैं। किसानों को बिचौलियों, खरीदारों और विपणा समितियों के बीच के गठजोड के कारण मजबूरी और जल्‍दबाजी में अपनी उपज को बेचना पडता था, परंतु अब उन्‍हें अपनी कृषि उपज को बेचने के लिए कई अन्‍य विकल्‍प उपलब्‍ध हुए हैं। किसानों को अपने उपज मूल्‍य का साढे 16 प्रतिशत तक का हिस्‍सा मंडी समितियों को देना पडता था, परंतु अब उन्‍हें बडा फायदा होगा और वे मंडियों के बाहर भी अपनी कृषि उपज को बेचने के लिए स्‍वतंत्र हैं। सुपर्णा सेकिया की रिपोर्ट के साथ समाचार कक्ष से अतहर सईद।

-----------

केंद्र सरकार ने कृषि सुधारों के लिए एक लाख करोड़ रुपये के कृषि अवसंरचना कोष की शुरूआत की है। यह कोष कृषि के लिए एक ऐसा बुनियादी ढाचां कोष है जो फसल कटाई के बाद के आवश्‍यक खर्च और सामुदायिक खेती के लिए विभिन्‍न परियोजनाओं में निवेश के लिए दीर्घकालिक ऋण वित्तपोषण की सुविधा प्रदान करता है। इस योजना की अवधि वित्त वर्ष 2020 से 2029 तक होगी। इसके अंतर्गत किसान इस कोष के इस्‍तेमाल से बेहतर उत्पादन के साथ ही विपणन सुविधाओं का लाभ उठा सकते हैं।


इस योजना के तहत सरकार द्वारा दो करोड रुपये तक के ऋण की गारंटी दी जाती है। सरकार सात साल की अधिकतम अवधि के लिए दो करोड प्रति ऋण पर ब्‍याज में तीन प्रतिशत की छूट भी प्रदान करती है। इस सुविधा के तहत ऋण चुकोती के लिए अधियस्‍तागण छह से 24 महीने के लिए होगा। इस निधि के जरिए कृषि उद्यमियों, स्‍टार्टअप और किसान समूहों को गोदामों के निर्माण, ग्रेडिंग यूनिट, आपूर्ति श्रृंखला और कोल्‍ड चेन की सुविधा के लिए ऋण की उपलब्‍धता होगी। इसके अलावा यह निधि प्राथमिक प्रसंस्‍करण केन्‍द्रों की स्‍थापना और बीज से बाजार तक के लक्ष्‍य को भी मजबूती प्रदान करेगा। आनंद कुमार आकाशवाणी समाचार दिल्‍ली।

-----------

केन्द्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा है कि लोग संसद से पारित कृषि सुधारों से संबंधित कानूनों के बारे में कोई गलतफहमी न रखें। एक ट्वीट में उन्होंने कहा कि पंजाब के किसानों ने पिछले साल के मुकाबले इस साल बाजार में ज्यादा और ऊंची दरों पर अपनी फसलें बेची हैं। श्री जावडेकर ने स्पष्ट किया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य - एम एस पी अभी जारी है और मंडियां काम कर रही हैं तथा फसलों की सरकारी खरीद भी चल रही है।

------------

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने अर्थव्‍यवस्‍था पर कोविड-19 महामारी के विपरीत प्रभाव का अनुमान लगा लिया था और उन्‍होंने इस मुश्किल समय का इस्‍तेमाल नीति निर्माण के लिए फैसले करने में किया। श्री शाह ने आज गुजरात के अहमदाबाद में दो फ्लाईओवर का वर्चुअली उद्घाटन किया। इस अवसर पर उन्‍होंने कहा कि सरकार ने कृषि, बिजली और कर सुधार सहित विभिन्‍न क्षेत्रों में दीर्घकालिक नीति आधारित कदम उठाए हैं। उन्‍होंने कहा कि सकल घरेलू उत्‍पाद के ताजा आंकड़े उत्‍साहवर्धक है और आने वाले दिनों में इसके सकारात्‍मक बने रहने की आशा है।

------------

छत्तीसगढ़ में कल से न्यूनतम समर्थन मूल्य पर धान की खरीद आरंभ होगी। यह अगले वर्ष 31 जनवरी तक जारी रहेगी। धान खरीद के लिए सभी आवश्यक तैयारियां पूरी कर ली गई हैं।

------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कोविड-19 टीके विकसित करने वाली तीन टीमों के साथ वर्चुअल बैठक की है। ये टीमें - पुणे की जिनोवा बायो फार्मास्‍यूटिकल्स लिमिटेड और हैदराबाद की बॉयोलोजिकल ई लिमिटेड तथा डॉक्‍टर रैडिस लेबोरेट्री की हैं।


श्री मोदी ने कोविड-19 महामारी से निपटने का टीका बनाने के लिए इन कपंनियों के वैज्ञानिकों के प्रयासों की सराहना की। टीके के विकास के लिए विभिन्‍न प्‍लेटफार्मों के सामर्थ्‍य पर भी चर्चा की गई।


प्रधानमंत्री ने इन कंपनियों से कहा कि वे विनियामक प्रक्रियाओं और संबंद्ध मुद्दों के बारे में अपने सुझाव तथा विचार दें। उन्‍होंने कंपनियों को परामर्श दिया कि उन्‍हें टीके और इससे संबंधित मुद्दों के बारे में सरल भाषा में आम लोगों को जानकारी देने के अतिरिक्‍त प्रयास भी करने चाहिए।


जिन टीकों के बारे में चर्चा की गई वे सभी परीक्षण के विभिन्‍न चरणों में हैं। इनका विस्‍तृत डेटा और नतीजे अगले वर्ष की शुरूआत से मिलने की आशा है।

------------

आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में कल प्रधानमंत्री ने जल्द से जल्द कोविड का टीका विकसित करने की आवश्यकता पर जोर दिया और कोरोना वायरस से लड़ने में किसी भी तरह की लापरवाही न बरतने की अपील की।


करीब-करीब 1 साल हो रहे हैं जब दुनिया को कोरोना के पहले केस के बारे में पता चला था। तब से लेकर अब तक पूरे विश्व ने अनेक उतार-चढ़ाव देखे हैं। लॉकडाउन के दौर से बाहर निकलकर अब वैक्सीन पर चर्चा होने लगी है। लेकिन कोरोना को लेकर किसी भी तरह की लापरवाही अब भी बहुत घातक है हमें अपनी लड़ाई को मजबूती से जारी रखना है।

------------

केंद्र सरकार ने देश के कोविड वैक्‍सीन विकास मिशन - कोविड सुरक्षा के लिए तीसरी किस्‍त के रूप में नौ अरब रुपये के पैकेज की घोषणा की है। यह राशि कोरोना के टीके पर शोध और विकास के लिए उपलब्‍ध कराई जाएगी। विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने कहा है कि इससे देश में पांच-छह जगह टीके के विकास के काम में तेजी लाने में मदद मिलेगी। इस प्रयास से कोविड के टीके के विकास, प्रमाणीकरण और उसे जन-स्‍वास्‍थ्‍य व्‍यवस्‍था में लाकर संक्रमण के फैलाव को रोकने में मदद मिलेगी।

-------------

कोविड-19 के खिलाफ भारत, विश्‍व के अधिकांश देशों की तुलना में बेहतर काम कर रहा है। अमरीका, इंग्‍लैंड, फ्रांस, ब्राजील और इटली जैसे देशों में प्रति दस लाख आबादी पर भारत की तुलना में अब तक संक्रमण के चार से पांच गुणा अधिक मामले सामने आये हैं।


प्रति दस लाख जनसंख्‍या में भारत में कोरोना से होने वाली मृत्‍यु दर 28 नवम्‍बर को 98 दर्ज की गई, जबकि अमरीका में प्रति दस लाख जंसख्‍या के आधार पर 813 लोगों की मृत्‍यु हुई। जबकि ब्राजील में यह संख्‍या 805, यू.के. में 846 और फ्रांस में 780 दर्ज की गई। इस प्रकार इन सभी देशों में मृत्‍यु दर भारत की तुलना में आठ से नौ गुना ज्‍यादा रही। वहीं भारत में प्रति दिन दर्ज होने वाले मामलों में भी कमी आ रही है। जहां सितम्‍बर के मध्‍य में कोरोना के लगभग 97 हजार आठ सौ 94 मामले आए। वहीं यह संख्‍या 26 को घटकर 43 हजार एक सौ 74 रह गई। आनंद कुमार, आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।

------------

देश में कोविड-19 से ठीक होने वालों की दर 93 दशमलव आठ-एक प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान कुल 45 हजार तीन सौ 33 मरीज ठीक हुए हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार स्‍वस्‍थ होने वालों की कुल संख्या 88 लाख 47 हजार से अधिक हो गई है। इस समय देश में कोविड के कुल चार लाख 46 हजार नौ सौ 52 मरीज है।


पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड संक्रमित लोगों की कुल संख्या 94 लाख 31 हजार से अधिक हो गई है। भारत में मृत्‍युदर एक दशमलव चार-पांच प्रतिशत है, जो वैश्विक स्तर पर सबसे कम है। पिछले 24 घंटों के दौरान चार सौ 43 लोगों की मौत होने से कोविड से मरने वालों की कुल संख्‍या एक लाख 37 हजार एक सौ 39 हो गई है।


भारतीय आयुवर्ज्ञिान अनुसंधान परिषद के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान 8 लाख 76 हजार से अधिक नमूनों जांच की गई। अब तक कुल संख्या 14 करोड़ 3 लाख से अधिक जांच हो चुकी है।

----------

मुम्‍बई में कोविड संक्रमण को रोकने के लिए बृहन मुम्‍बई महानगर निगम ने सार्वजनिक स्‍थलों पर मास्‍क न पहनने वालों पर दो सौ रुपये जुर्माना लगाने के लिए प्रशासन से अनुरोध किया। दीपावली के बाद निगम ने शहर में मास्‍क पहनने के लिए जागरूकता अभियान चलाया है। 


मुंबई में बीएमसी कोरोना पर लगाम कसने के लिए बिना मास्क लगाए घूमने वाले लोगों पर दंडात्मक कार्रवाई के साथ उन्हें मुफ्त मास्क भी देगी। ताकि वे लोग हर हाल में मास्क पहनें। बीएमसी ने यह फैसला तब लिया जब उसे लगा कि 200 रुपये का जुर्माना भरने के बाद भी लोग बिना मास्क के ही आगे बढ़ जाते हैं। बीएमसी के मुताबिक, 28 अप्रैल से 28 नवंबर तक, के-वेस्ट वार्ड में बिना मास्क के अधिकतम 32 हजार नागरिकों पर जुर्माना लगाया गया था। इनमें जुहू और वर्सोवा जैसे इलाके शामिल हैं और नगर निगम ने 63 लाख रुपये जुर्माना वसूल किया है। निवेदिता, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

----------

कर्नाटक के मुख्‍यमंत्री बी एस येडियूरप्‍पा ने सरकारी कॉलेजों के लिए डिजिटल तकनीक पर आधारित शिक्षा प्रबन्‍धन व्‍यवस्‍था शुरू की है। हमारे संवाददाता ने बताया है कि इसे 430 सरकारी कॉलेजों, 87 पॉलिटेक्निक और 14 सरकारी इंजीनियरिंग कॉलेजों में इसी शै‍क्षणिक सत्र से शुरू किया जाएगा।


आधुनिक डि‍जिटल शिक्षा पद्धति के कारण 24,000 प्राध्‍यापक और साढ़े चार लाख विद्यार्थि‍यों को मदद मिलेगी। सरकारी कॉलजों में पढ रहे पिछड़े समुदाय से आए विद्यार्थि‍यों को विषय का ज्ञान अर्जित करने में सुविधा प्राप्‍त होगी। कन्‍नड़ और अंग्रेजी भाषा में समझाने के लिए पॉवर प्वांइट प्रेजेनटेशन, वीडियो और क्‍वीज के द्वारा प्राध्‍यापक पढ़ा सकेंगे। डिपार्टमेंट ऑफ कोलिजिएट एंड टेक्‍निकल एजुकेशन द्वारा सलेब्‍स के अनुसार ई-स्टडी मेटिरियल तैयार किया गया है। इस डिजिटल प्‍लेटफॉर्म में विद्यार्थी, प्राध्‍यापक और कॉलजेस की योग्‍यता का स्‍तर नापा जा सकता है। विद्यार्थी अपनी प्रतिक्रिया दे सकते हैं। प्रशिक्षण की सभी प्रक्रिया पर नजर रखी जा सकती है और इस संक्रमण के वक्‍त विद्यार्थी कहीं से भी इस शिक्षा पद्धति से जुड़ सकते हैं। सुधीन्‍द्र, आकाशवाणी समाचार, बेंगलुरू।

------------

ओडिसा सरकार ने कोविड-19 के टीके के उपलब्‍ध होने पर इसके लिए राज्‍य के तीस हजार स्‍थानों को चिंहित किया है। मंत्रिमंडल सचिव राजीव गाबा के साथ राष्‍ट्रीय स्‍तर पर हुई बैठक में राज्‍य के मुख्‍य सचिव ने यह जानकारी दी।

----------

केरल में कोविड-19 के नए मामलों की तुलना में स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या अधिक रही। राज्‍य में आज तीन हजार 382 नए मामले सामने आये और छह हजार 55 लोग संक्रमण से मुक्‍त हुए। इस समय केरल में सक्रिय मामलों की संख्‍या घटकर 61 हजार 894 हो गई है।

-----------

नगालैंड में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या धीरे-धीरे घट रही है। वहां आज कोविड-19 के एक सौ 88 रोगियों के स्वस्थ हुए। राज्य में इस समय सक्रिय मामले घट कर नौ सौ 25 हो गए हैं। स्वस्थ होने वाले लोगों की कुल संख्या दस हजार 86 है।

-----------

कोरोना से बचाव के उपायों पर वर्धमान महावीर मेडिकल कॉलेज और सफदरगंज अस्‍पताल के डॉक्‍टर नीरज गुप्‍ता ने बताया कि शादी समारोहों में शामिल होने के दौरान ऐहति‍याती उपाय किया जाना काफी महत्‍वपूर्ण है। आकाशवाणी से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि हमें सार्वजनिक तौर पर इस्तेमाल की जाने वाली चीजों से बचना चाहिए।


इसमें डेफिनेटली शेयरिंग इज नॉट केयरिंग। इसमें खतरा होता है, क्योंकि ये उसी इस प्रकार का खतरा है जैसे कि आप अपना मास्‍क किसी और व्यक्ति को दे दें। सपोज आपने तौलिया यूज़ किया है, आपने उसकी इस्‍तेमाल की हुई कोई चीज उसके संपर्क में आप आ जाते हैं। या एक ही रजाई-बिस्‍तरे में जहां सभी लोग बैठे थे, आप अन्‍दर बैठ जाते हैं तो चांस है कि आपको संक्रमण हो सकता है।

------------

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज अपने फोन इन कार्यक्रम में हिंदी और अंग्रेजी में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा।

नई दिल्‍ली स्थित गंगाराम अस्पताल में गठिया रोग विभाग के डॉक्टर वेद चतुर्वेदी इस चर्चा में भाग लेंगे।

श्रोता, हमारे टोल‍-फ्री नम्‍बर 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7 पर फोन करके विशेषज्ञ से सीधे सवाल पूछ सकते हैं। इसके अलावा लैंडलाइन नम्‍बर 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 पर भी सवाल पूछे जा सकते हैं।

यह कार्यक्रम आज रात साढे नौ बजे से एफ.एमगोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है।

यह कार्यक्रम हमारी वेबसाइट NEWS ON AIR DOT COM और हमारे यूट्यूब चैनल NEWS ON AIR OFFICIAL पर भी उपलब्ध रहेगा। मोबाइल ऐप NEWS ON AIR से भी अपडेट लिये जा सकते हैं।

-------------

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में जिला विकास परिषद के चुनाव और पंच-सरपंचों के उपचुनाव सुचारू और शांतिपूर्ण संपन्न कराने के लिए सभी इंतजाम किए गए हैं। यह जानकारी आज राज्य निर्वाचन आयुक्त के के शर्मा ने दी।


केंद्र शासित प्रदेश में कुल दो सौ अस्सी निर्वाचन क्षेत्रों में से कश्मीर की 25 और जम्मू संभाग की 18 सीटों सहित 43 निर्वाचन क्षेत्रों में कल दूसरे चरण में वोट डाले जाएंगे। मतदान सुबह सात बजे से दोपहर दो बजे तक होगा। दूसरे चरण में डीडीसी के लिए कश्मीर से एक सौ 96 और जम्मू संभाग से एक सौ 25 समेत कुल तीन सौ 21 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं।


दूसरे चरण में सरपंचों के उपचुनाव के लिए 83 निर्वाचन क्षेत्रों में वोट डाले जाएंगे। इन 83 सीटों के लिए एक सौ 51 पुरूष और 72 महिलाओं सहित कुल दो सौ 23 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं। इसी तरह पंचों के उपचुनाव तीन सौ 31 निर्वाचन क्षेत्रों में होंगे। इस चरण में पांच सौ 52 पुरूषों और एक सौ 57 महिलाओं सहित कुल सात सौ नौ प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं।


आठ चरणों में होने वाले डीडीसी के चुनाव और पंचायतों के उपचुनाव 19 दिसम्बर को संपन्न होंगे। पहले चरण में 28 नवम्बर को वोट डाले गए थे। वोटों की गिनती 22 दिसम्बर को होगी।

-------------

उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शंघाई सहयोग संगठन के सदस्य देशों से आतंकवाद को आश्रय और वित्तीय सहायता देने वाले नेटवर्क को समाप्‍त करने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त क़ानून लागू करने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि भारत सभी स्‍तरों पर आतंकवाद की निंदा करता है। भारत की अध्‍यक्षता में आज शंघाई सहयोग संगठन परिषद के 19 वें सत्र को संबोधित करते हुए उपराष्ट्रपति ने उन देशों के बारे में चिंता व्यक्त की जो राष्‍ट्रनीति के साधन के रूप में आतंकवाद का लाभ उठाते हैं। श्री नायडू ने कहा कि ऐसा दृष्टिकोण पूरी तरह से आत्मा और आदर्शों तथा शंघाई सहयोग संगठन के चार्टर के खिलाफ है। आतंकवाद को मानवता का दुश्मन बताते हुए उपराष्‍ट्रपति ने जोर देकर कहा कि इस संकट का हमें सामूहिक रूप से मुकाबला करने की आवश्यकता है।


कोविड -19 महामारी के अर्थव्‍यवस्‍था पर प्रभाव के संदर्भ में श्री नायडू ने कहा कि भारत इससे बहादुरी से लड़ा है और आर्थिक स्थिरता सुनिश्चित करने के साथ-साथ वायरस से लड़ने में उल्लेखनीय दक्षता दिखाई है।

----------------

केंद्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर में पुंछ जिले के शाहपुर सेक्टर में नियंत्रण रेखा के समीप पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर संघर्ष विराम का उल्लंघन करते हुए छोटे हथियारों से अकारण गोलीबारी की और मोर्टार दागे। रक्षा विभाग के जनसंपर्क अधिकारी ने बताया कि आज दिन के तीन बजे के बाद की गई इस हरकत का सतर्क भारतीय सैनिकों ने करारा जवाब दिया।

------------

गुरु नानक जयंती और गुरुपर्व आज भारत सहित विश्व भर में धार्मिक श्रद्धा और उल्लास से मनाया जा रहा है।


यह पर्व सिखों के प्रथम गुरु गुरुनाक देव जी जन्मोत्सव के उपलक्ष्य में मनाया जाता है। उन्होंने सिख धर्म की स्थापना की थी। इस वर्ष गुरुनानक देव जी का पांच सौ 51वां प्रकाशोत्सव है। पंजाब, हरियाणा और चण्डीगढ़ में गुरूनानक जयंती धार्मिक उत्साह और श्रद्धा के साथ मनाई जा रही है।

-------------

मौसम -

राष्ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में सुबह कोहरा छाया रहेगा। बाद में आम तौर पर आसमान साफ रहेगा। तापमान 7 डिग्री और 27 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के आसार है।


मुंबई में आमतौर पर आसमान साफ रहेगा। चेन्नई में गरज के साथ बारिश हो सकती है। कोलकाता में आसमान साफ रहेगा। जम्मू और श्रीनगर में आसमान आमतौर पर साफ रहेगा। लेह में आसमान साफ रहेगा, और दोपहर या शाम को बादल छाए रह सकते हैं। गिलगित में आमतौर पर आसमान साफ रहेगा। मुजफ्फराबाद में भी आसमान साफ रहेगा। तापमान 3 से 22 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की संभावना है। गुवाहाटी में सुबह के समय धुंध छाई रहेगी।

--------------

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 25 (Jan) Midday News 25 (Jan) Evening News 25 (Jan) Hourly 25 (Jan) (1800hrs)
समाचार प्रभात 25 (Jan) दोपहर समाचार 25 (Jan) समाचार संध्या 25 (Jan) प्रति घंटा समाचार 25 (Jan) (2200hrs)
Khabarnama (Mor) 25 (Jan) Khabrein(Day) 25 (Jan) Khabrein(Eve) 25 (Jan)
Aaj Savere 25 (Jan) Parikrama 25 (Jan)

Listen Programs

Market Mantra 25 (Jan) Samayki 1 (Jan) Sports Scan 24 (Jan) Spotlight/News Analysis 25 (Jan) Employment News 25 (Jan) रोजगार समाचार 25 (Jan) World News 24 (Jan) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 25 (Jan) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 16 (Jan) North East Diary 24 (Jan)