A- A A+
Last Updated : Dec 4 2020 10:36PM     Screen Reader Access
News Highlights
Country will have a COVID19 vaccine in the next few weeks: PM Modi            Covid-19 recovery rate in country improves to 94.20 pct            Polling for the third phase of District Development Council elections concludes            Counting underway for Greater Hyderabad Municipal Corporation elections            Reserve Bank keeps repo rate unchanged at 4 %           

Text Bulletins Details


समाचार संध्या

2000 HRS
27.10.2020
मुख्य समाचार:-

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने देशवासियों से भ्रष्‍टाचार के खिलाफ लडाई में भारत को मजबूत करने की अपील की।

  • भारत और अमरीका ने आज नई दिल्‍ली में तीसरी द्विपक्षीय टू-प्‍लस-टू मंत्रिस्‍तरीय वार्ता की। ऐतिहासिक बुनियादी आदान-प्रदान और सहयोग समझौते-बी.ई.सी.ए. पर हस्‍ताक्षर किए।

  • प्रधानमंत्री ने उत्‍तर प्रदेश के पीएम स्‍वनिधि योजना के लाभार्थियों से बातचीत की। कहा--सरकारी योजनाओं का तेजी से डिजिटल कार्यान्‍वयन अर्थव्‍यवस्‍था को बढाने में महत्‍वपूर्ण भूमिका अदा कर रहा है।

  • बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण में कल 71 सीटों पर कडी सुरक्षा के बीच मतदान होगा।

  • कोविड-19 से स्‍वस्‍थ होने की दर 90 दशमलव छह-दो प्रतिशत हुई।

  • आई.पी.एल. क्रिकेट में दुबई में, सनराइजर्स हैदराबाद का मुकाबला दिल्‍ली कैपिटल्स से हो रहा है।

------

कोविड-19 महामारी के खिलाफ देश एकजुट होकर लड़ रहा है। आप भी हमारे साथ सुरक्षा और बचाव के तीन आसान एहतियाती उपायों का संकल्‍प लें।


मास्‍क पहने


दो गज दूरी, है जरूरी-सुरक्षित दूरी बनाए रखें


हाथ और मुंह साफ रखें।

-----

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा है कि प्रशासनिक प्रक्रियाओं को पारदर्शी, जिम्‍मेदार, जवाबदेह और विकास के लिए लोगों के प्रति उत्‍तरदायी होना चाहिए। सतर्कता और भ्रष्‍टाचार की रोकथाम पर आज से शुरू हुए तीन दिन के राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन का उद्घाटन करते हुए श्री मोदी ने कहा कि बीते वर्षों से भारत, भ्रष्‍टाचार को कतई बर्दाश्‍त न करने की नीति पर अमल कर रहा है। उन्‍होंने कहा कि चाहे भ्रष्‍टाचार का मामला हो, आर्थिक अपराध हों, मादक पदार्थों का अवैध व्‍यापार हो, मनी लॉन्ड्रिंग हो या आतंकियों को धन मुहैया करना हो, ये सभी एक-दूसरे से जुड़े हुए अपराध हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि हमें भ्रष्‍टाचार के विरूद्ध व्‍यवस्‍थित जांच, प्रभावी लेखा परीक्षा, क्षमता-निर्माण और प्रशिक्षण जैसे उपायों को अपनाकर भ्रष्‍टाचार के खिलाफ संयुक्‍त रूप से संघर्ष छेड़ना होगा। उन्‍होंने कहा कि भ्रष्‍टाचार से लडना केवल एक एजेंसी का काम नहीं है, बल्कि यह सामूहिक जिम्‍मेदारी है।


भ्रष्‍टाचार केवल कुछ रुपयों की ही बात नहीं होती। एक तरफ भ्रष्‍टाचार से देश के विकास को ठेस पहुंचती है, तो साथ ही भ्रष्‍टाचार सामाजिक संतुलन को तहस-नहस कर देता है और सबसे अहम देश की व्‍यवस्‍था पर जो भरोसा होना चाहिए, एक अपनेपन का जो भाव होना चाहिए, भ्रष्‍टाचार उस भरोसे पर हमला करता है और इसलिए भ्रष्‍टाचार का डटकर मुकाबला करना, सिर्फ एक समस्‍या का दायित्‍व नहीं, बल्कि इससे निपटना एक कलेक्टिव रिस्‍पांसिबिलिटी है।


श्री मोदी ने यह भी कहा कि सभी एजेंसियों के बीच पूरा तालमेल होना चाहिए, क्‍योंकि तालमेल और सहकारिता की भावना समय की जरूरत है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि आज गर्व से कहा जा सकता है कि देश ने घोटाले के युग को पीछे छोड़ दिया है। उन्‍होंने कहा कि आज गरीबों को प्रत्‍यक्ष लाभ अंतरण प्रणाली के ज़रिए शत-प्रतिशत सहायता राशि उनके बैंक खातों कें ज़रिए भेजी जा रही है। उन्‍होंने कहा कि सरकार अब नागरिकों के जीवन को सुगम बनाने के लिए प्रयत्‍नशील है।


सरकार की जहां जितनी जरूरत है, उतनी ही होनी चाहिए, लोग सरकार का दबाब भी महसूस न करें और उन्‍हें सरकार का अभाव भी महसूस न हो, इसलिए बीते वर्षों में डेढ़ हजार से ज्‍यादा कानून खत्‍म किये गये है। अनेकों नियमों को सरल किया गया है। अब दूसरों के पास चक्‍कर नहीं लगाना पड़ता। घंटों तक लंबी-लंबी लाइनों में नहीं लगना पड़ता। अब यही काम करने के लिए उसके पास डिजिटल विकल्‍प मौजूद है।


श्री मोदी ने कहा कि पिछले दशकों में भ्रष्‍टाचार में लिप्‍त लोगों को सज़ा दिलाने में एक पूरी पीढ़ी बीत जाती थी और दूसरी पीढ़ी और भी अधिक भ्रष्‍टाचार करने लगती थी। प्रधानमंत्री ने कहा कि इस तरह के अपराध और पीढ़ी दर पीढ़ी होने वाले भ्रष्‍टाचार ने देश को खोखला करके रख दिया था।


कार्मिक और लोक शिकायत तथा पेंशन मंत्री डॉक्‍टर जितेंद्र सिंह ने भी उद्घाटन सत्र को संबोधित किया।


केंद्रीय अन्‍वेषण ब्‍यूरो हर साल 27 अक्‍तूबर से दो नवम्‍बर तक मनाए जाने वाले सतर्कता जागरुकता सप्‍ताह के सिलसिले में इस राष्‍ट्रीय सम्‍मेलन का आयोजन करता है। इस साल के सतर्कता जागरुकता सप्‍ताह में जनता में भ्रष्‍टाचार के बारे में जागरुकता बढ़ाने और जनभागीदारी के ज़रिए सार्वजनिक जीवन में निष्‍ठा और शुचिता को बढ़ावा देने के प्रति भारत की वचनवद्धता की फिर से पुष्टि की जाएगी।

तीन दिन के इस सम्‍मेलन में विदेशी क्षेत्राधिकार में अपराधों के अन्‍वेषण, भ्रष्‍टाचार के खिलाफ व्‍यवस्थित कार्रवाई के लिए निवारणात्‍मक सतर्कता, बैंकों में धोखा-धड़ी की रोकथाम, क्षमता निर्माण और प्रशिक्षण तथा भ्रष्‍टाचार के मामलों को शीघ्रता से निपटाने में विभिनन एजेंसियों के बीच तालमेल पर चर्चा होगी।

इस सम्‍मेलन से नीति निर्माताओं और नीतियों पर अमल करने वालों को एक मंच पर लाने में मदद मिलेगी।

-----

सतर्कता जागरूकता सप्‍ताह आज से मनाया जा रहा है यह दो नवम्बर तक चलेगा। इस वर्ष का विषय है-सतर्क भारतसमृद्ध भारत। केन्द्रीय सतर्कता आयुक्त संजय कोठारी ने इस अवसर पर नई दिल्ली में केन्द्रीय सतर्कता आयोग के कार्यालय में कर्मचारियों को शपथ दिलाई। उन्होने कहा कि हम सबको निष्ठा और ईमानदारी से काम करना चाहिए।


ये सप्‍ताह इसलिए मनाया जा रहा है कि हम लोग सब इंटीग्रिटी से और प्रोबेटी से काम करें और इसके लिए प्रोत्‍साहित करें। इस सप्‍ताह को मनाने का एक और भी ध्‍येय है कि जो भी चीज़ें हैं आम आदमी में सभी स्‍टेक होल्‍डर्स को हाईलाईट करें। एक अन्‍य बात जो मैं कहना चाहूंगा कि अगर कोई गलती होती है इंटीग्रेटी में कोई कमी होती है तो उसके लिए एक सिस्‍टमिक में चेंज किया जाए यानि के ऐसे स्‍टैप्‍स लिए जाएं जिससे कि एक चीज़ दोबारा न हो।


प्रत्‍येक वर्ष सप्‍ताह भर तक चलने वाला यह आयोजन 31 अक्तूबर को सरदार वल्‍लभ भाई पटेल की जयंती के अवसर पर किया जाता है।

-----

भारत और अमरीका के रक्षा और विदेश मंत्रियों की तीसरी टू प्‍लस टू मंत्रिस्‍तरीय वार्ता में आज नई दिल्ली में ऐतिहासिक बुनियादी आदान-प्रदान और सहयोग समझौते-बीईसीए पर हस्‍ताक्षर किए गए। रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस. जयशंकर ने भारतीय शिष्‍टमण्‍डल का नेतृत्‍व किया, जबकि अमरीका की ओर से शिष्‍टमण्‍डल का नेतृत्‍व वहां के विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और रक्षामंत्री मार्क एस्‍पर ने किया।


बैठक के बाद एक प्रेस वक्‍तव्‍य में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि बुनियादी आदान-प्रदान और सहयोग समझौता-बीईसीए पर दस्‍तखत किया जाना एक अत्‍यंत महत्‍वपूर्ण उपलब्धि है। उन्‍होंने कहा कि दोनों देशों ने द्विपक्षी और बहुपक्षीय सहयोग के विभिन्‍न पहलुओं पर विस्‍तृत चर्चा की। उन्‍होंने बताया कि बैठक में क्षमता निर्माण की संभावनाओं का पता लगाने और भारत के पड़ोसी देशों समेत अन्‍य देशों के साथ संयुक्‍त रूप से सहयोग गतिविधियां संचालित करने के बारे में भी चर्चा हुई। रक्षामंत्री ने कहा कि दोनों पक्ष अंतर्राष्‍ट्रीय व्‍यवस्‍था पर आधारित नियमों का पालन करने और सभी देशों की क्षेत्रीय अखण्‍डता तथा सम्‍प्रभुता को बनाए रखने पर सहमत हैं।


श्री राजनाथ सिंह ने कहा कि दोनों पक्षों ने समूचे हिन्‍द प्रशांत क्षेत्र में सुरक्षा स्थिति सम्‍बंधी अपने-अपने आकलन एक-दूसरे से साझा किए और इस क्षेत्र के सभी देशों में शांति, स्थिरता और खुशहाली के प्रति अपनी वचनबद्धता दोहराई।


अपने वक्‍तव्‍य में विदेश मंत्री डॉक्‍टर एस. जयशंकर ने कहा कि चर्चा के दौरान भारत के पड़ोसी देशों के घटनाक्रम पर भी विचार-विमर्श किया गया और यह बात स्‍पष्‍ट कर दी गई कि सीमा पार से आतंक को कतई स्‍वीकार नहीं किया जा सकता।


अमरीकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो ने कहा कि‍ भारत की सम्‍प्रभुता और स्‍वतंत्रता के लिए उत्‍पन्‍न चुनौतियों से निपटने में अमरीका हमेशा भारत का साथ देगा। श्री पोम्पियो ने कहा कि वे रक्षा मंत्री एस्‍पर के साथ राष्‍ट्रीय युद्ध स्‍मारक देखने गए, जहां उन्‍होंने लद्दाख की गलवान घाटी में शहीद हुए भारतीय जवानों सहित देश की रक्षा करते हुए अपना जीवन बलिदान करने वाले सभी भारतीय सैनिकों को श्रद्धां‍जलि अर्पित की। उन्‍होंने कहा कि अमरीका और भारत न सिर्फ चीनी कम्‍युनिस्‍ट पार्टी, बल्कि हर प्रकार के खतरे के खिलाफ सहयोग बढ़ाने के लिए कदम उठा रहे हैं। उन्‍होंने यह भी कहा क‍ि अमरीका संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्‍थायी सदस्‍यता का भी समर्थन करता है।


अमरीका के रक्षा मंत्री मार्क एस्‍पर ने कहा क‍ि आज जब दुनिया कोविड-19 महामारी के दौर से गुजर रही है तो भारत-अमरीका साझेदारी, इस क्षेत्र और समूचे विश्‍व में सुरक्षा, स्थिरता और खुशहाली सुनिश्चित करने के लिए और भी ज़रूरी हो गई है।

-----

अमरीका के विदेश मंत्री माइक आर. पोम्पियो और रक्षा मंत्री डॉक्‍टर मार्क टी. एस्‍पर ने बाद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। उन्‍होंने अमरीकी राष्‍ट्रपति डोनल्‍ड ट्रंप की ओर से प्रधानमंत्री को शुभकामनाएं दीं। राष्‍ट्रपति ट्रंप की इस साल फरवरी में सम्‍पन्‍न सफल भारत यात्रा का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने राष्‍ट्रपति ट्रंप को हार्दिक शुभकामनाएं भेजी।


प्रधानमंत्री ने टू-प्‍लस-टू वार्ता के सफल आयोजन की सराहना की। हाल के वर्षों में भारत-अमरीका समग्र वैश्विक सामरिक साझेदारी के सुदृढ़ होने पर संतोष व्‍यक्‍त करते हुए प्रधानमंत्री ने दोनों देशों के बीच आपसी भरोसे, साझा मूल्‍यों और लोगों के मजबूत होते व्‍यक्तिगत सम्‍बंधों पर भी संतोष व्‍यक्‍त किया।

-----

प्रधानमंत्री ने देशवासियों से अपील की है कि त्‍योहार मनाते समय कोरोना संबंधी सतर्कता में कोई ढिलाई न बरतें। उन्‍होंने कहा कि सुरक्षित दूरी के नियमों का सख्‍ती से पालन करने से इस जानलेवा वायरस को हराया जा सकेगा। श्री मोदी ने प्रधानमंत्री स्‍ट्रीट वेंडर्स आत्‍मनिर्भर निधि-पी एम स्‍वनिधि योजना के उत्‍तर प्रदेश के लाभार्थियों से संवाद के दौरान यह बात कही।


श्री मोदी ने कहा कि जन धनआयुष्‍मानउज्‍ज्‍वला और पी एम स्‍वनिधि जैसी कई सरकारी योजनाओं से लोगों को बेहतर ढंग से कोविड महामारी से लड़ने में मदद मिली है। उन्होंने कहा कि हम लोगों ने दुनिया को ये दिखा दिया है कि हम किसी भी चुनौती का सामना कर सकते हैं और स्थिति को बदल सकते हैं।


आज का ये दिन आत्‍मनिर्भर भारत के लिए एक महत्‍वपूर्ण दिन है। कठिन से कठिन परिस्थिति का भी मुकाबला ये देश कैसे करता है। यूपी के लोग कैसे संकट से लड़ने की ताकत रखते हैं, ये दिन इसका साक्षी है। कोरोना ने जब दुनिया पर हमला किया, तब भारत के गरीब को लेकर तमाम आशंका व्‍यक्‍त करते थे। मेरे गरीब भाई-बहनों को कैसे कम से कम तकलीफ उठानी पड़े, इसी सोच के साथ देश ने एक लाख 70 हजार करोड़ रुपयों की गरीब कल्‍याण योजना शुरू की।


श्री मोदी ने प्रधानमंत्री स्‍वनिधि योजना के बारे में कहा कि स्‍ट्रीट वेंडर्स के लिए ऐसी योजना स्‍वतंत्रता के बाद देश में पहली बार शुरू की गई।


प्रधानमंत्री ने कहा कि इस योजना को तेजी से लागू किया जाना महत्‍वपूर्ण है। इसके तहत न सिर्फ तेजी से और डिजिटल माध्‍यम से काम होता है बल्कि योजना का लाभ लेने के लिए बिचौलियों की भी जरूरत नहीं होती है।


कई लोग इसलिए परेशान थे कि उन्‍होंने लोन लेने के लिए कौन-कौन से कागज लगाने पड़ेंगे। क्‍या गारंटी देनी होगी? इसलिए ये सुनिश्चित किया गया कि गरीबों के लिए बनी अन्‍य योजनाओं की तरह ही इस योजना में भी टैक्‍नॉलोजी का ज्‍यादा से ज्‍यादा इस्‍तेमाल किया जाएगा। कोई कागज नहीं, कोई गारंटर नहीं, कोई दलाल भी नहीं और किसी सरकारी दफ्तर के बार-बार चक्‍कर लगाने की भी जरूरत नहीं। एप्‍लीकेशन आप खुद भी ऑनलाइन अपलोड कर सकते हैं और किसी कॉमन सर्विस सेंटर, नगरपालिका कार्यालय या बैंक ब्रांच में जाकर भी आवेदन अपलोड करा सकते हैं।


श्री मोदी ने कहा कि स्‍ट्रीट वेंडर्स उत्‍तर प्रदेश जैसे बड़े राज्‍यों की अर्थव्‍यवस्‍था में महत्‍वपूर्ण हैं। बेरोजगारी के कारण पलायन की दर को कम करने में भी यह योजना महत्‍वपूर्ण भूमिका निभायेगी।


प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर कुछ लाभार्थियों से बातचीत की। आगरा की प्रीति ने प्रधानमंत्री को बताया कि स्‍वनिधि योजना के तहत मिले दस हजार रुपयों से उन्‍हें फल और सब्जियों का कारोबार फिर से शुरू करने में सहायता मिली।


एक अन्य लाभार्थी वाराणसी के अरविंद ने श्री मोदी को बताया कि वह दुर्गाकुंड में मोमोज और कॉफी बेचते हैं। अरविंद ने कहा कि स्‍वनिधि योजना के तहत मिली राशि से उन्‍हें काफी मदद मिली है।


मुझे ज्‍यादा भागदौड़ नहीं करनी पड़ी। सभी लोगों को फार्म भरवाए नगर-निगम। एक हफ्ते के बाद बैंक में बुलाया गया। मेरा खाता यूनियन बैंक शाखा में है। मेरे को बोला गया सर आपका लोन आया हुआ है दस हजार रुपये का, आप एक आधार कार्ड और जो नगर-निगम का आपका सर्टिेफिकेट है और बैंक का पासबुक दे दीजिए मैं आपका 15 मिनट में लोन सैंशन कर दूंगा। तो मैं भाग के घर गया और लेकर के आया उन्‍हें तुरंत अपना भर दिया और दूसरे दिन मेरे खाते में दस हजार रुपये आ गए।


इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और राज्‍य के कई मंत्री भी मौजूद थे।

-----

बिहार विधानसभा चुनाव के कल होने वाले पहले चरण के स्‍वतंत्र और निष्‍पक्ष मतदान के लिए सुरक्षा के व्‍यापक प्रबन्‍ध किए गए हैं। इस चरण में 16 जिलों में 71 निर्वाचन क्षेत्रों में वोट डाले जायेंगे। दो करोड 14 लाख मतदाता एक हजार 66 उम्‍मीदवारों के चुनावी भाग्‍य का फैसला करेंगे। 114 महिलाएं और 406 निर्द‍लीय चुनाव मैदान में है। मतदान सुबह सात बजे से शाम छह बजे तक चलेगा।


मुख्‍य चुनाव अधिकारी एच आर श्रीनिवास ने बताया कि 71 निर्वाचन क्षेत्रों में से 35 नक्‍सल प्रभावित हैं, जहां रूक-रूक कर मतदान कराया जायेगा। चार नक्‍सल प्रभावित क्षेत्र चैनपुर, नबीनगर, कुतुम्‍बा और रफीगंज में मतदान तीन बजे तक होगा, जबकि पांच अन्‍य नक्‍सल प्रभावित क्षेत्रों में शाम पांच बजे तक वोट डाले जायेंगे। बाकी 26 नक्‍सल प्रभावित निर्वाचन क्षेत्रों में चार बजे तक मतदान जारी रहेगा।


अपर मुख्‍य चुनाव अधिकारी संजय कुमार सिंह ने आकाशवाणी समाचार को बताया कि बिना बाधा के मतदान कराने के लिए नक्‍सल प्रभावित इलाकों में सुरक्षा बल तैनात किए गए हैं।


सभी बूथों की संख्‍या 31 हजार 700 के आसपास है। सभी पर अर्धसैनिक बल तैनात रहेंगे। उनके अलावा स्‍टेट पुलिस भी हैं और तीन लेअर की पेट्रोलिंग है और उन्‍ही बू‍थों पर एक पेट्रोलिंग मजिस्‍ट्रेट की पेट्रोलिंग है, कई लेअर्स की पेट्रोलिंग है, कंट्रोल रूम है, हम लोग एरियाज सर्विलांस भी रखेंगे।


देश में कोविड महामारी के बीच यह पहले चुनाव हैं और अब चलते हैं गया, जहां मौजूद हैं हमारे संवाददाता के के लाल

प्रश्‍न 1 - के.के. लाल कोविड-19 महामारी के मद्देनजर मतदान के क्‍या विशेष प्रबन्‍ध किए हैं।


कोरोना महामारी को देखते हुए चुनाव आयोग ने विशेष दिशा निर्देश जारी किए है। आयोग ने मतदान केन्‍द्रों पर कोरोना से बचाव के लिए सभी प्रोटोकॉल का पालन करने को कहा है। कोरोना संक्रमित मतदाता आखिरी एक घंटे में मतदान कर सकते हैं। प्रत्‍येक मतदाता थर्मल स्‍क्रीनिंग के बाद ही मतदान कर सकेंगे। हर वोटर को एक बार इस्‍तेमाल होने वाला दस्‍ताना पहनकर मतदान करना होगा। सभी मतदान केन्‍द्रों को सैनिटाइज कर दिया गया है। कोरोना को देखते हुए प्रत्‍येक मतदान केन्‍द्र पर डेढ़ हजार की जगह एक हजार मतदाताओं के लिए वोट डालने की व्‍यवस्‍था की गई है। कोरोना के बचाव के लिए सभी विधानसभा क्षेत्रों में नोडल पदाधिकारी नियुक्‍त किये गये हैं।


प्रश्‍न 2 - के.के. लाल यह बताइये कि पहले चरण में कौन-कौन से प्रमुख उम्‍मीदवार चुनाव मैदान में हैं।


पहले चरण में आठ मंत्रियों के राजनीतिक भाग्‍य का फैसला होगा। ये हैं - प्रेम कुमार, राम नारायण मंडल, जय कुमार सिंह, कृष्ण नंदन वर्मा, शैलेश कुमार, संतोष कुमार निराला, विजय कुमार सिन्हा और बृज किशोर बिंद। पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी इमामगंज विधानसभा क्षेत्र से एनडीए उम्मीदवार के रूप में चुनाव मैदान में हैं। श्री मांझी को आरजेडी उम्‍मीदवार ने पूर्व विधानसभा अध्‍यक्ष उदय नारायण चौधरी चुनौती पेश कर रहे हैं।



इस चरण में राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन में भाजपा 29, जेडीयू 35 और हिन्‍दुस्‍तानी अवामी मोर्चा छह सीट पर चुनाव लड रही है। विकासशील इंसान पार्टी ने एक उम्‍मीदवार चुनाव में उतारा है।


महागठबंधन में आरजेडी ने 42, कांग्रेस ने 21 और सीपीआई-एमएल ने आठ उम्‍मीदवार चुनाव में उतारे हैं। इसके अलावा एलजीपी 42,जबकि आर एल एस पी 43, बीएसपी 27 उम्‍मीदवारों के साथ चुनाव मैदान में हैं।


पहले चरण में 71 विधानसभा सीटों के लिए कल, दूसरे चरण में 94 सीटों को तीन नवम्‍बर और तीसरे चरण में 78 सीटों के लिए सात नवम्‍बर को वोट डाले जायेंगे। मतगणना दस नवम्‍बर को होगी।

-----

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और केन्‍द्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर ने कहा है कि एनडीए गठबंधन बिहार के लिए प्रधानमंत्री के सवा करोड लाख रुपये के पैकेज के एक-एक पैसे का हिसाब दे रहा है।


श्री जावडेकर ने आज पटना में एक संवाददाता सम्‍मेलन में कहा कि प्रधानमंत्री के पैकेज के तहत किए गए कार्यों को छिपाने के लिए कुछ भी नहीं है। श्री जावडेकर ने कहा कि राष्‍ट्रीय राजमार्गों और रेलवे पुलों जैसी कई बडी विकास परियोजनाएं पूरी की गई हैं।


श्री जावडेकर ने कहा कि यदि मोदी सरकार एक सौ रुपये भेजती है तो प्रत्‍यक्ष अंतरण लाभ से हुई क्रांति से समूची राशि लाभार्थियों के खाते में पहुंचती है।

-----

कर्नाटक में विधान परिषद की चार सीटों के चुनाव के लिए सभी तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। कोविड संक्रमण की वजह से सभी चुनाव कर्मचारियों को मास्‍क, ग्‍लोव्‍स, सैनिटाइज़र दिया गया। मतदान कल सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक चलेगा। दो नवम्‍बर को मतगणना होगी।

-----

गुजरात में भी आठ विधानसभा सीटों के उपचुनाव के लिए प्रचार तेज हो गया है। इस उपचुनाव में सत्तारूढ़ भाजपा और विपक्षी कांग्रेस पार्टी की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। मतदान तीन नवंबर को होगा जबकि मतगणना 10 नवंबर को होगी।

-----

भारत में कोविड-19 महामारी से ठीक हुए रोगियों की संख्‍या 72 लाख से अधिक हो गई है और स्‍वस्‍थ होने की दर 90 दशमलव छह-दो प्रतिशत हो गई है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि कुल संक्रमित लोगों की दर में भी गिरावट आ रही है।


देश में जो रिकवर्ड केसेज है वो 72 लाख से भी अधिक हो गये हैं, जो विश्‍व की सबसे बड़ी संख्‍या है रिकवर्ड केसज की। साथ ही हमने देश में 10 करोड़ से ज्‍यादा टेस्‍ट कर लिये हैं। हमारा रिकवरी रेट है वो 90 परसेन्‍ट से अधिक हो गया है और जो क्‍युमुलेटिव पॉजिटिविटी रेट है, उसमें जो गिरावट है वो लगातार बनी हुई है और आज देश में क्‍युमुलेटिव पॉजिटिविटी रेट सेवन प्‍वाइंट सिक्‍स-वन परसेन्‍ट है।


श्री भूषण ने कहा कि देश में प्रति दस लाख आबादी पर मरने वालों की संख्‍या 86 है और यह भी दुनिया में सबसे कम है। उन्‍होंने कहा कि स्‍वस्‍थ होने की राष्‍ट्रीय दर में लगातार सुधार हो रहा है। स्‍वास्‍थ्‍य सचिव ने कहा है कि देशभर में अब तक इस महामारी से कुल 72 लाख लोग स्‍वस्‍थ हो चुके हैं। उन्‍होंने कहा कि भारत में कोविड रोगियों की मृत्‍यु दर में लगातार गिरावट आ रही है और आज यह एक दशमलव पांच-शून्‍य प्रतिशत है। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव ने बताया कि अब तक देश में कुल दस करोड से अधिक कोविड जांच की जा चुकी है।


नीति आयोग में स्‍वास्‍थ्‍य सम्‍बंधी मामलों के सदस्‍य डॉक्‍टर वी. के. पॉल ने कहा है कि प्रति व्‍यक्ति आय की ऊंची दर और अच्‍छी स्‍वास्‍थ्‍य प्रणालियों वाले देश भी महामारी की दूसरी लहर की चपेट में आ सकते हैं और इससे हमें सबक लेना चाहिए। डॉक्‍टर पॉल ने देशवासियों से मास्‍क पहनने, बार-बार हाथ धोने और एक-दूसरे के सम्‍पर्क में आते समय पर्याप्‍त दूरी बनाए रखने का भी आग्रह किया। उन्‍होंने कहा कि लोगों को एक स्‍थान पर बड़ी संख्‍या में जमा नहीं होना चाहिए।

-----

सरकार ने 30 अक्‍तूबर से नवम्‍बर के अंत तक विभिन्‍न गतिविधियों को फिर से शुरू करने के बारे में कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देशों का विस्‍तार किया है। केंद्रीय गृह मंत्रालय के आज के आदेश में इसकी जानकारी दी गई है। इसमें कहा गया है कि विभिन्‍न गतिविधियां शुरू करने की इजाजत का मतलब यह नहीं है कि महामारी का प्रकोप समाप्‍त हो गया है। मंत्रालय ने इस संबंध में सभी को चौकस रहने की हिदायत देते हुए जनता से कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देशों का पालन करने को कहा है।


गृह मंत्रालय द्वारा पिछले महीने जारी किए गए दिशानिर्देशों को नवंबर के अंत तक बढ़ाया गया है। इन दिशा-निर्देशों के अंतर्गत सरकार ने सिनेमा हॉल और थियेटर्स को उनकी क्षमता के 50 प्रतिशत पर खोलने की अनुमति दी थी। प्रशिक्षण के उद्देश्य से तरणताल के उपयोग और सीमित स्‍तर पर व्यावसायिक प्रदर्शनियों को भी मंजूरी दी जा चुकी है। अंतर्राष्‍ट्रीय उड़ानें अब भी गृह मंत्रालय के पूर्व निर्देश के अनुसार ही परिचालन करेगी। गृह मंत्रालय ने अपने दिशा-निर्देशों में राज्‍य सरकारों को कोरोना की रोकथाम के लिए उचित व्‍यवहार को जनमानस तक पहुंचाने की कवायद को गंभीरता से पूर्ण करने की सलाह दी है। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने इसी महीने की आठ तारीख को कोरोना के लिए उचित व्‍यवहार के पालन हेतु एक जनांदोलन ने शुरू किया था। इसके अंतर्गत उन्‍होंने नागरिकों से मास्‍क पहनने, साफ हाथ रखने और कम से कम छह फीट की सुरक्षित दूरी बनाए रखने का आग्रह किया था। इन्‍हीं बातों का ध्‍यान रखते हुए कोरोना संबंधी राष्‍ट्रीय दिशा-निर्देश भी लागू रहेंगे। सरकार ने यह भी स्‍पष्‍ट किया है कि कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन को नवंबर के अंत तक सख्ती से लागू किया जाएगा। आनंद चतुर्वेदी, आकाशवाणी समाचार, दिल्ली।

-----

असम के मुख्‍यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने स्‍वास्‍थ्‍य और शिक्षा विभाग को शिक्षा संस्‍थानों में बनाए गए कोविड देखभाल केंद्रों को हटाने के निर्देश दिए हैं। राज्‍य में शिक्षा संस्‍थान अगले महीने की दो तारीख से खुल जाएंगे।

-----

कर्नाटक के स्‍वास्‍थ्‍य और चिकित्‍सा शिक्षा मंत्री डॉक्‍टर के. सुधाकर ने आज राज्‍य में एस्‍ट्राजेनेका कंपनी के अधिकारियों से मुलाकात की और उनसे कोविड वैक्‍सीन के परीक्षण के बारे में प्रगति की जानकारी ली। इसके बाद श्री सुधाकर ने कहा कि पुणे में एस्‍ट्राजेनेका, सिरिम संस्‍थान और ऑक्‍सफोर्ड वि‍श्‍वविद्यालय ने मानव पर पहले चरण के परीक्षण को सफलतापूर्वक पूरा कर लिया है।

-----

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज अपने फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा। यह कार्यक्रम आज रात साढे नौ बजे से एफ.एमगोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है। लेडी हार्डिंग मेडिकल कॉलेज में मेडिसिन के प्रोफेसर डॉक्‍टर घनश्याम पांग्‍टे चर्चा में भाग लेंगे। श्रोता, हमारे टोल‍-फ्री नम्‍बर 1 8 0 0-1 1-5 7 6 7 और लैंडलाइन नम्‍बर 011-2 3 3 1-4 4 4 4 पर फोन करके विशेषज्ञ से सीधे सवाल पूछ सकते हैं।

-----

आईपीएल क्रिकेट में दुबई में सनराइजर्स हैदराबाद ने दिल्‍ली कैपिटल्‍स के साथ ताजा समाचार मिलने तक 13वें ओवर में एक विकेट पर 144 रन बना लिए थे। इससे पहले दिल्‍ली ने टॉस जीतकर गेंदबाजी का फैसला किया है। दिल्‍ली की टीम अंक तालिका में 14 अंकों के साथ दूसरे स्‍थान पर है, जबकि हैदराबाद आठ अंकों के साथ सातवें पायदान पर है। इस मुकाबले को जीतकर दिल्‍ली की टीम प्‍ले ऑफ में अपना स्‍थान सुनिश्चित कर लेगी, वहीं इस मैच में हार हैदरबाद को टूर्नामेंट से बाहर का रास्‍ता दिखाएगी।

-----

मौसम -

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में धुंध छाई रहने की सम्‍भावना है। न्‍यूनतम तापमान 13 डिग्री और अधिकतम 32 डिग्री सेल्सियस के बीच रहेगा। गुवाहाटी में आमतौर पर बादल छाए रहेंगे और धुंध छा सकती है। तापमान 23 और 31 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के अनुमान है। केन्‍द्रशासित प्रदेश जम्मू-कश्‍मीर के जम्‍मू में आमतौर पर आसमान साफ रहेगा। न्यूनतम तापमान 12 डिग्री जबकि अधिकतम तापमान लगभग 31 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहेगा। श्रीनगर में भी आमतौर आसमान साफ रहने की उम्‍मीद है। न्‍यूनतम तापमान शून्‍य डिग्री और अधिकतम तापमान 21 डिग्री सेल्‍सियस के बीच रहने के आसार है। लेह में आसमान आमतौर पर साफ रहने के आसार है। न्यूनतम तापमान शून्य से चार डिग्री नीचे तथा अधिकतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस के आस-पास रहेगा। गिलगित में सामान्‍यत: आसमान साफ रहेगा। दोपहर या शाम को बादल छा सकते हैं। तापमान 3 से 24 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने के आसार है।मुजफ्फराबाद में भी आसमान साफ रहेगा। न्यूनतम 10 डिग्री जबकि अधिकतम 28 डिग्री सेल्सियस के बीच रहने की सम्‍भावना है। समाचार कक्ष से आनंद श्रीवास्‍तव।

-----

सरकार द्वारा इस साल न्‍यूनतम समर्थन मूल्‍य-एमएसपी पर धान की खरीद में 18 दशमलव छह प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई है। सरकार ने कहा है कि पिछले वर्ष के मुकाबले 2020-21 में अब तक खरीफ की फसल में जबरदस्‍त वृद्धि हुई है। अब तक 13 लाख 64 हजार किसान एमएसपी पर धान की खरीद का लाभ उठा चुके हैं और सरकार ने उन्‍हें 30 हजार करोड़ रुपये से अधिक का भुगतान किया है।

-----

Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 4 (Dec) Midday News 4 (Dec) Evening News 4 (Dec) Hourly 4 (Dec) (1910hrs)
समाचार प्रभात 4 (Dec) दोपहर समाचार 4 (Dec) समाचार संध्या 4 (Dec) प्रति घंटा समाचार 4 (Dec) (2200hrs)
Khabarnama (Mor) 4 (Dec) Khabrein(Day) 4 (Dec) Khabrein(Eve) 4 (Dec)
Aaj Savere 4 (Dec) Parikrama 4 (Dec)

Listen Programs

Market Mantra 4 (Dec) Samayki 9 (Aug) Sports Scan 4 (Dec) Spotlight/News Analysis 4 (Dec) Employment News 3 (Dec) World News 4 (Dec) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 4 (Dec) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 28 (Nov) North East Diary 3 (Dec)