સમાચાર ઊડતી નજરે
ચૂંટણીપંચે ચૂંટણી વચનો આપે ત્યારે નાણાકીય બાબતનું મૂલ્યાંકન કરવા રાજકીય પક્ષોને અનુરોધ કર્યો            કેન્દ્ર સરકાર ૨૨ વર્ષ જૂના ઇન્ફોર્મેશન ટેકનોલોજી એક્ટને બદલીને નવો ડિજિટલ ઈન્ડિયા એક્ટ લાવશે            આગામી 14 ઓકટોબરથી રાજયભરમાં ગરીબ કલ્યાણ મેળા યોજાશે. મુખ્યમંત્રી તાપીથી આરંભ કરશે.            રાષ્ટ્રપતિ દ્રોપદી મુર્મુએ જણાવ્યું કે, વિજ્ઞાન, સંશોધન અને નવીનતાના ક્ષેત્રમાં શાળાકીય શિક્ષણ મૂળભૂત પાયો છે. ગુજરાત યુનિવર્સિટીના હર સ્ટાર્ટ અપ પ્લેટફોર્મનો આરંભ કર્યો.            વડોદરાના દરજીપુરા નજીક અકસ્માતમાં છ ના મોત           


दोपहर समाचार

1430 HRS
23.09.2022

मुख्य समाचार


  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के पर्यावरण मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित किया। कहा-भारत जलवायु परिवर्तन के स्थायी समाधान के लिए नेतृत्‍व प्रदान करने की भूमिका में तेजी से उभर रहा है।

  • श्री मोदी ने राज्यों से पर्यावरण संरक्षण के सर्वोत्तम तरीकों को सीखने और पूरे देश में इसे सफलतापूर्वक लागू करने का आह्वान किया।

  • गृह मंत्री अमित शाह ने कहा-भारतीय जनता पार्टी लोगों की सेवा और विकास के लिए काम करती है। श्री शाह आज से दो दिन के बिहार दौरे पर।

  • प्रधानमंत्री के चुनिंदा भाषणों की पुस्‍तक का आज नई दिल्ली के आकाशवाणी भवन परिसर में विमोचन किया गया।

  • भारत ने रूस-यूक्रेन संघर्ष में आपसी द्वेष को तत्काल समाप्त करने का आह्वान किया।

  • केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा-भारत स्वच्छ ऊर्जा के परिदृश्य को बदलने की दिशा में लगातार काम कर रहा है।

  • राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में तेज वर्षा हुई। मौसम विभाग ने आज के लिए येलो अलर्ट जारी किया।

  • और, क्रिकेट में भारत तथा ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा अंतर्राष्‍ट्रीय टी-20 मैच आज शाम नागपुर में खेला जाएगा।


--------------------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि नया भारत, तेजी से समस्‍याओं के स्थायी समाधान निकालने में एक नेता के रूप में उभर रहा है। गुजरात के एकता नगर में वचुर्अल माध्‍यम से राज्यों के पर्यावरण मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने यह बात कही।


हमने दुनिया को दिखाया है कि रिन्‍यूबल एनर्जी के मामले में हमारी स्‍पीड और हमारा स्‍केल शायद ही उसको कोई मैच कर सकता है। इंटरनेशनल सोलर एलायंस हो, कोलिशन फॉर डिजास्‍टर रिजिलिएंट इन्‍फ्रास्‍ट्रक्‍चर हो या फिर लाइव मूवमेंट, बड़ी चुनौतियों से निपटने के लिए भारत आज दुनिया को नेतृत्‍व दे रहा है। अपने कमिटमेंट को पूरा करने के हमारे ट्रैक रिकॉर्ड के कारण ही दुनिया आज भारत के साथ जुड़ भी रही है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि नया भारत नए दृष्टिकोण और नई सोच के साथ आगे बढ़ रहा है।


जब भारत अगले 25 वर्षों के अमृतकाल के लिए नए लक्ष्‍य तय कर रहा है। मुझे विश्‍वास है आपके प्रयासों से पर्यावरण की रक्षा में भी मदद मिलेगी और भारत का विकास भी उतनी ही तेज गति से होगा। आज भारत तेजी से विकसित होती इकोनॉमी भी है और निरंतर अपनी इकोलॉजी को भी मजबूत कर रहा है। हमारे फॉरेस्‍ट कवर में वृद्धि हुई है और वेटलैंड्स का दायरा भी तेजी से बढ़ रहा है।


प्रधानमंत्री ने राज्‍यों से आग्रह किया कि वे वर्ष 2070 तक कार्बन उत्‍सर्जन को पूरी तरह से समाप्‍त करने के लिए एकजुट होकर काम करें।


भारत ने 2070, 2017 तक नेट जीरों का टारगेट रखा है। अब देश का फोकस ग्रीन-ग्रोथ ग्रोथ पर है। और जब ग्रीन ग्रोथ की बात करते हैं तो ग्रीन जॉब के लिए भी बहुत अवसर पैदा होते हैं, और इन सभी लक्ष्‍यों की प्राप्ति के लिए हर राज्‍यों के पर्यावरण मंत्रालय की भूमिका बहुत बड़ी है।


श्री मोदी ने सर्कुलर इकोनॉमी को बढावा देने और अगली पीढी के लिए पर्यावरण संरक्षण में जनभागीदारी को बढाने का भी आहवान‍ किया।


हमारे जो पर्यावरण मंत्री आज आए हैं मैं उनको आग्रह करूंगा कि आप भी अपने राज्‍यों में सर्कुलर इक्‍नॉमी को ज्‍यादा से ज्‍यादा बढ़ावा दें। सोलिड वेस्‍ट मैनेजमेंट और सिंगल यूज प्‍लास्टिक से मुक्ति के हमारे अभियान को भी ताकत मिलेगी। इसके लिए हमें पंचायतों, स्‍थानीय निकायों, स्‍वयं सहायता समूहों वहां से लेकर एमएसएमइस तक को हर किसी को प्रोत्‍साहित करना चाहिए।


प्रधानमंत्री ने राज्यों से पर्यावरण संरक्षण में सर्वोत्तम कार्यप्रणाली को सीखने और उन्‍हें पूरे देश में सफलता पूर्वक लागू करने का आग्रह किया।


प्रधानमंत्री ने पर्यावरण संबंधी केंद्र सरकार की योजनाओं को लागू करने में राज्‍यों के बीच स्‍वस्‍थ स्‍पर्धा पर जोर दिया। इनमें जैव ईंधन नीति, वाहन स्‍क्रेप नीति और पर्यावरण संरक्षण के लिए भविष्‍य की रूपरेखा बनाना शामिल है।


प्रधानमंत्री ने कहा कि आधुनिक बुनियादी ढांचे के बिना देश का विकास और नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार नहीं हो सकता। उन्होंने राज्यों से कहा कि वे 'परिवेश पोर्टल' का उपयोग करके पर्यावरण मंजूरी की प्रक्रिया में तेजी लाएं।


इससे पहले, केंद्रीय पर्यावरण मंत्री भूपेंद्र यादव ने कहा कि जीवन को आसान बनाने, जलवायु परिवर्तन संबंधी चुनौतियों से निपटने, वानिकी प्रबंधन, प्रदूषण रोकथाम और नियंत्रण, वन्यजीव प्रबंधन, प्लास्टिक और कचरा प्रबंधन आदि पर ध्यान दिया जाएगा।


गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्र पटेल और पर्यावरण राज्य मंत्री अश्विनी कुमार चौबे भी इस अवसर पर मौजूद थे। दो दिन के सम्मेलन में सभी राज्यों के पर्यावरण मंत्री और सचिव भाग ले रहे हैं। 


--------------------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के चुनिन्‍दा भाषणों पर पुस्‍तक का विमोचन आज नई दिल्‍ली में आकाशवाणी भवन परिसर में किया गया। इस पुस्‍तक का नाम है-सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्‍वास-प्राइम मिनिस्‍टर नरेन्‍द्र मोदी स्‍पीक्‍स। पुस्‍तक में नये भारत के बारे में प्रधानमंत्री का दृष्टिकोण प्रस्‍तुत किया गया है। पूर्व उपराष्‍ट्रपति एम वेंकैया नायडू, केरल के राज्‍यपाल आरिफ मोहम्‍मद खान तथा सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने इस पुस्‍तक का विमोचन किया।


इस अवसर पर श्री नायडू ने कहा कि मई 2019 से मई 2020 तक के प्रधानमंत्री के चुनिन्‍दा भाषणों पर आधारित इस पुस्‍तक में मोदी सरकार के विचार संकल्‍प और निर्णय लेने की प्रतिबद्धता प्रस्‍तुत की गई है। उन्‍होंने कहा कि सुधार, कार्य प्रदर्शन और सुशासन इस सरकार के मंत्र हैं जिन्‍होंने लोगों के जीवन का कायाकल्‍प कर दिया। श्री नायडू ने इस प्रयास के लिए प्रकाशन विभाग की सराहना की।


मैं मन में बहुत प्रसन्‍न हूं इस पुस्‍तक के विमोचन का कार्यक्रम में भाग लेने का सौभाग्‍य मुझे मिला। कि जो मेरे भाषण के शुरूआत में ही मैं सूचना और प्रसारण मंत्रालय का हार्दिक बधाई और अभिनंदन करना चाहता हूं। उन्‍होंने एक अच्‍छा काम की तरफ अच्‍छे रूप में उन्‍होंने प्रस्‍तुत किया है।


श्री नायडू ने कोविड महामारी के दौरान प्रधानमंत्री के नेतृत्‍व की सराहना करते हुए कहा कि अल्‍प समय में ही अपेक्षित क्षमताएं बढाई गई।


सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्‍व में भारत विश्‍व की पांचवीं बडी अर्थव्‍यवस्‍था बन गया है। उन्‍होंने कहा कि इस पुस्‍तक में अर्थव्‍यवस्‍था, संस्‍कृति के संरक्षण, स्‍वच्‍छ और हरित भारत, विज्ञान और प्रौदयोगिकी तथा खेल सहित विभिन्‍न विषयों पर प्रधानमंत्री का दृष्टिकोण प्रस्‍तुत किया गया है। श्री ठाकुर ने कहा कि यह पुस्‍तक इतिहासकारों, बुद्धिजीवियों और आम लोगों को सरकार के विभिन्‍न उपायों की जानकारी देने का अनूठा अवसर उपलब्‍ध कराती है।


केरल के राज्‍यपाल आरिफ मोहम्‍मद खान ने कहा कि पुस्‍तक में महिलाओं और सीमांत वर्गों के प्रति चिन्‍ता दिखाई गई है। उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने तुरन्‍त तीन तलाक की प्रथा को समाप्‍त करने के लिए ऐतिहासिक कदम उठाया।


समारोह में सूचना और प्रसारण सचिव अपूर्व चन्‍द्र, प्रसार भारती के मुख्‍य कार्यकारी अधिकारी मयंक अग्रवाल, आकाशवाणी समाचार की महानिदेशक डॉक्‍टर वसुधा गुप्‍ता, प्रकाशन विभाग की महानिदेशक मोनी दीपा मुखर्जी और मंत्रालय के अन्‍य वरिष्‍ठ अधिकारी उपस्थित थे।


यह पुस्‍तक नए भारत के निर्माण के लिए लोगों की आशाओं और आकांक्षाओं को प्रतिबिम्बित करती है। यह लक्ष्‍य जन-भागीदारी से प्राप्‍त किया जा सकता है। नया भारत आत्‍मनिर्भर और चुनौतियों को अवसरों में बदलने में सक्षम होगा। पुस्‍तक में प्रधानमंत्री के मई 2019 से मई 2020 के बीच दिए गए 86 भाषणों का संकलन है।


हिन्‍दी और अंग्रेजी में प्रकाशित यह पुस्‍तक प्रकाशन विभाग के बिक्री काउंटर और सूचना भवन की पुस्‍तक दीर्घा में उपलबध रहेगी। इसे प्रकाशन विभाग की वेबसाइट और भारत कोष प्‍लेटफार्म से भी ऑनलाइन खरीदा जा सकता है। एमेजॉन और गूगल प्‍ले स्‍टोर पर भी यह पुस्‍तक उपलब्‍ध रहेगी।


--------------------

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा है कि श्री नितीश कुमार ने श्री लालू यादव के नेतृत्‍व वाली आर जे डी और कांग्रेस के साथ गठबंधन सरकार बनाकर बिहार के लोगों के साथ धोखा किया है। पूर्णिया में आज जनभावना सभा में गृहमंत्री ने श्री नितीश कुमार पर कुर्सी की खातिर राज्‍य के लोगों को धोखा देने का आरोप लगाया। श्री नितीश कुमार और श्री लालू यादव की आलोचना करते हुए श्री शाह ने कहा कि वे दोनों स्‍वार्थ और सत्‍ता की राजनीति कर रहे हैं जबकि भारतीय जनता पार्टी लोगों की सेवा और विकास के लिए कार्य करती है।


मैं आज सीमावर्ती जिलों के चार जिलों के मेरे भाईयों और बहनों को यह जरूर कहने आया हूं कि जब लालू जी सरकार में जुड गए हैं तब यहां जो डर का माहौल खड़ा हुआ है मैं आपको कहने आया हूं ये सीमावर्ती जिले हिंदुस्‍तान का हिस्‍सा हैं। किसी को डरने की जरूरत नहीं है। नरेन्‍द्र मोदी सरकार है यहां पर।  


गृहमंत्री ने लोगों से 2024 के लोकसभा चुनाव में भाजपा को वोट देने का आग्रह किया। श्री शाह ने राष्‍ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर की जयंती पर उन्‍हें याद किया है।


सबसे पहले आज राष्‍ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर का जयंती है। मैं बड़े मन से उनको प्रणाम कर-कर श्रद्धा सुमन देकर मेरी बात की शुरूआत करना चाहता हूं। दिनकर जी की कविताओं ने ना केवल आजादी के आंदोलन को धार दी उनकी लेखनी ने भारतीय संस्‍कृति को भी मजबूती प्रदान करने का काम किया।


श्री शाह बिहार के दो दिन के दौरे पर हैं।


--------------------

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर मनसुख मांडविया ने कहा है कि सरकार लोगों के स्वास्थ्य के लिए मजबूत स्वास्थ्य प्रणाली विकसित कर रही है। नई दिल्ली में पब्लिक अफेयर्स फोरम ऑफ इंडिया के कार्यक्रम में श्री मांडविया ने कहा कि एक लाख 20 हजार से अधिक आयुष्मान भारत - स्वास्थ्य और कल्याण केंद्रों के संचालन में उल्लेखनीय प्रगति हुई है। उन्होंने कहा कि सरकार लोगों तक पीएम जन आरोग्य योजना, पीएम भारतीय जनऔषधि परियोजना, आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन, सस्ती और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचा रही हैं।


--------------------

राष्‍ट्रव्‍यापी टीकाकरण अभियान के अंतर्गत अब तक 217 करोड 26 लाख से अधिक कोविड टीके लगाये जा चुके है। कल 14 लाख 91 हजार से अधिक टीके लगाये गये। इस दौरान पांच हजार से अधिक नये मामलों की पुष्टि हुई और छह हजार लोग ठीक हुए। स्‍वस्‍थ होने की दर 98 दशमलव सात-एक प्रतिशत है। वर्तमान में 45 हजार 281 रोगियों का इलाज चल रहा है।  


--------------------

भारत ने रूस-यूक्रेन संघर्ष में आपसी द्वेष को तत्काल समाप्त करने का आह्वान किया है। विदेश मंत्री सुब्रह्मण्‍यम जयशंकर ने कहा है कि यूक्रेन संघर्ष पूरे अंतरराष्‍ट्रीय समुदाय के लिए गम्‍भीर चिंता का विषय है। संयुक्‍त राष्‍ट्र सुरक्षा परिषद में यूक्रेन के मुद्दे पर श्री जयशंकर ने कहा कि दूरदराज के क्षेत्रों पर भी इसका असर पड़ रहा है। विदेश मंत्री ने कहा कि यह दौर युद्ध के लिए नहीं है और भारत तत्‍काल युद्ध रोके जाने और राजनयिक माध्‍यम से बातचीत पर जोर देता है।


विदेश मंत्री ने कहा कि शांति और सुरक्षा बनाए रखने के लिए अन्‍याय के खिलाफ संघर्ष जरूरी है। उन्‍होंने कहा कि सुरक्षा परिषद को इस बारे में सशक्‍त और सर्वसम्मत संदेश देना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि राजनीति को किसी भी हाल में जवाबदेही से बचना नहीं चाहिए।


--------------------

मैक्सिको ने रूस और यूक्रेन के बीच स्‍थायी शांति के लिए समिति बनाये जाने का प्रस्‍ताव दिया है। मैक्सिको के विदेश मंत्री मार्सेलो लुईस एब्रॉर्ड ने संयुक्त राष्ट्र परिषद में प्रस्‍ताव पेश करते हुए सुझाव दिया है कि भारत के प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी, पॉप फ्रांसिस और संयुक्‍त राष्‍ट्र महासचिव एंटोनियो गुतरेस और अन्‍य नेताओं को समिति में शामिल किया जाना चाहिए।


स्‍थानीय मीडिया की खबरों में कहा गया है कि समिति बनाने का सुझाव शंघाई सहयोग संगठन की 22वीं बैठक के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रूस के राष्‍ट्रपति के साथ हुई बैठक के बाद आया है। दोनों नेताओं की बैठक में श्री मोदी ने रूस के राष्‍ट्रपति से कहा था कि 'यह समय युद्ध का नहीं है।' प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस कथन का अमरीका, फ्रांस और ब्रिटेन सहित विश्‍व के कई देशों ने स्‍वागत किया था।


--------------------

विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री डॉ जितेंद्र सिंह ने समेकित जैव परिशोधन संयंत्रों  के नवाचार मिशन की रूपरेखा की शुरूआत करने की घोषणा की है। डॉ. सिंह ने अमरीका में वैश्विक स्‍वच्‍छ ऊर्जा कार्रवाई मंच में सतत जैव ऊर्जा और जैव परिशोधन संयंत्रों पर आयोजित पहले गोलमेज सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि मिशन का उद्देश्य अगले पांच वर्षों में अधिक से अधिक वैश्विक सहयोग और ऊर्जा अनुसंधान, विकास और कार्य क्षमता के लिए वित्त पोषण में बढोतरी करना है। उन्‍होंने कहा कि भारत महत्वपूर्ण स्वच्छ ऊर्जा हिस्सेदारी के साथ-साथ देश में ऊर्जा परिदृश्य को बदलने की दिशा में लगातार काम कर रहा है। श्री सिंह ने कहा कि भारत ने वर्ष 2030 तक पांच सौ गीगावाट गैर-जीवाश्म ऊर्जा क्षमता तक पहुंचने के लिए सहमति व्‍यक्‍त की है।


--------------------

भारत और ऑस्‍ट्रेलिया के बीच दूसरा टी-20 अंतरराष्‍ट्रीय क्रिकेट मैच आज नागपुर में खेला जाएगा। मैच शाम सात बजे शुरू होगा। आस्‍ट्रेलिया की टीम तीन मैचों की श्रृंखला में एक-शून्य की बढ़त ले चुकी है।


--------------------

भारत का सबसे बड़ा लोक सेवा प्रसारक, आकाशवाणी देश की स्‍वतंत्रता के बाद पिछले 75 वर्षों से करोड़ो लोगों तक सूचना और समाचार पहुंचा रहा है। आकाशवाणी समाचार आज़ाद भारत की बात-आकाशवाणी के साथ श्रृंखला में स्‍वतंत्रता के 75 वर्ष पूरे होने का उत्‍सव मना रहा है। यह कार्यक्रम आकाशवाणी के माध्यम से जीवन के विभिन्न क्षेत्रों में स्वतंत्रता के बाद भारत की विकास यात्रा के बारे में जानकारी प्रदान करता है।


आज की कड़ी में हम आपको सरकार के उन प्रयासों के बारे में बताएंगे, जिन्‍होंने आम जीवन को सुगम और सरल बना दिया है। 


नया भारत हमारी बढ़ती आकांक्षाओं के अनुरूप जीवन को सुगम बना रहा है। वर्ष 2014 से, सरकार ने जीवन की सुगमता और व्यापार करने दोनों को बेहतर बनाने पर जोर दिया है। नई पीढ़ी का बुनियादी ढांचा जीवन को सरल बना रहा है। वर्ष 2002 से 2014 तक, मेट्रो निर्माण प्रति वर्ष 20 किलोमीटर था, जो वर्ष 2014 से 2022 तक 63 किलोमीटर तक चला गया। डिजिटल पेमेंट से रोजमर्रा की जिंदगी को काफी आसान बना दिया गया है। भीम जैसे पेमेंट एप ने छोटे दुकानदारों को फायदा दिया है।  शहरी जीवन में देखा जाए तो अटल मिशन, अमृत के अंतर्गत, 118 लाख घरों में नल से जल पहुंचाया गया और 97 लाख घरों में सीवर की व्यवस्था की गई। आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना लोगों के लिए बड़ी राहत लेकर आई है। योजना के अंतर्गत अब तक 3 करोड़ 26 लाख से अधिक लोगों का मुफ्त चिकित्सा उपलब्ध कराई जा चुकी है। 87 हजार से अधिक जन औषधि केंद्रों में सस्ती दवाओं से लोगों को 50 से 90 प्रतिशत से अधिक की बचत हुई है। एलपीजी कनेक्शन ने लीकेज और बिचौलियों को दूर किया है। इस योजना में 29 करोड़ से अधिक लाभार्थी हैं।


पिछले आठ वर्षों के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू की गई योजनाओं का उद्देश्य आम आदमी के लिए 'जीवन की सुगमता' हासिल करना है।


मई, 2014 में, प्रधानमंत्री मोदी ने स्व-सत्यापन को बढ़ावा देने के बजाय राजपत्रित अधिकारियों द्वारा प्रमाण पत्र के सत्यापन को समाप्त करने का निर्णय लिया, जो भारत के युवाओं में विश्वास को बढ़ाता है। ईज ऑफ लिविंग और ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को बढ़ावा देने के लिए केंद्र ने अब तक 25 हजार से अधिक अनुपालन कम किए हैं।


बैंकों या अन्य संस्थानों से ऋण को आसान बनाने के लिए, सरकार ने वर्ष 2018 में एक मंच तैयार किया जिसने एमएसएमई, गृह, ऑटो और व्यक्तिगत ऋण सहित विभिन्न प्रकार के क्रेडिट उत्पादों की पेशकश की। पेंशनभोगियों और पारिवारिक पेंशनभोगियों के "ईज ऑफ लिविंग" को बढ़ाने के लिए, सरकार ने पेंशन नीति के साथ-साथ पेंशन संबंधी प्रक्रियाओं के डिजिटलीकरण में कई कल्याणकारी कदम उठाए हैं। न्यूनतम सरकार और अधिकतम शासन का अर्थ है नागरिकों की अधिक भागीदारी, नवाचार, नवीनतम तकनीकों का उपयोग और पारदर्शिता। इसके अंतर्गत प्रक्रियाओं को और अधिक सरल बनाने पर ध्यान केंद्रित किया गया है। एक फरवरी, 2022 को संसद में केंद्रीय बजट 2022-23 पेश करते हुए, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा था कि आम जीवन को सुगम बनाने में राज्यों की सक्रिय भागीदारी, मैनुअल प्रक्रियाओं के डिजिटलीकरण और केंद्र और राज्य के एकीकरण से निर्देशित होगा। यह सभी नागरिक-केंद्रित सेवाओं के लिए एकल बिंदु पहुंच बनाने में मदद करेगा और मानकीकरण और अतिव्यापी अनुपालनों को हटाने में मदद करेगा।


मुकेश कुमार आकाशवाणी समाचार, दिल्‍ली।


आज़ाद भारत की बात-आकाशवाणी के साथ कार्यक्रम को ट्वीटर @Air news alerts पर यू ट्यूब चैनल न्यूज़ ऑन ए.आई.आर. ऑफिशियल पर, न्यूज़ ऑन ए. आई. आर. ऐप, फेसबुक और इंस्टाग्राम पर सुना जा सकता है।


--------------------

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार को दिन में 11 बजे आकाशवाणी से मन की बात कार्यक्रम में देश-विदेश के लोगों के साथ अपने विचार साझा करेंगे। यह कार्यक्रम आकाशवाणी और दूरदर्शन के समूचे नेटवर्क पर प्रसारित होगा। आकाशवाणी समाचार की वेबसाइट और न्यूज़ ऑन ए.आई.आर. मोबाइल ऐप पर भी यह कार्यक्रम उपलब्ध रहेगा। आकाशवाणी समाचार, दूरदर्शन समाचार, प्रधानमंत्री कार्यालय तथा सूचना और प्रसारण मंत्रालय के यू-ट्यूब चैनलों पर भी कार्यक्रम का सीधा प्रसारण किया जाएगा।


--------------------

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली और आसपास के क्षेत्रों में तेज वर्षा से जनजीवन पर असर पड़ा है। दिल्‍ली एनसीआर में कई स्‍थानों में जलभराव के कारण लोगों को बहुत परेशानी हुई। मौसम विभाग ने आज राजधानी दिल्ली के लिए येलो अलर्ट जारी किया है और अधिकतर स्‍थानों पर वर्षा का अनुमान व्यक्त किया है।


--------------------

आज संकेत भाषा दिवस है। संयुक्‍त राष्‍ट्र ने 23 सितम्‍बर को अंतरराष्‍ट्रीय संकेत भाषा दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की थी। इस दिवस के आयोजन का उद्देश्‍य सुनने की समस्‍या से ग्रस्‍त लोगों तक सूचना और संचार की पहुंच सुनिश्चित करना और संकेत भाषा के महत्‍व के प्रति आम जनता को संवेदनशील बनाना है। इस वर्ष संकेत भाषा दिवस का विषय है-"संकेत भाषाएं हमें जोड़ती हैं"।


--------------------

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेंट किए गए उपहारों की ई-नीलामी चल रही है और यह 2 अक्टूबर तक चलेगी। इसमें एक हजार 222 स्मृति चिन्हों को शामिल किया गया है। उपहार का न्यूनतम आधार मूल्य एक सौ रुपये और अधिकतम मूल्य पांच लाख रुपये रखा गया है।


आज दिव्‍यांग बच्‍चों सहित तीन सौ पचास से अधिक बच्‍चे राष्‍ट्रीय आधुनिक कला संग्रहालय देखने के लिए पहुंचे। इन उपहारों को संग्रहालय में प्रदर्शित किया गया है। आकाशवाणी से बातचीत में संग्रहालय के निदेशक तेमसुनारो जमीर ने कहा क‍ि आज अंतर्राष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस पर, विविध पृष्ठभूमि के बच्चों को इन उपहारों को देखने के लिए आमंत्रित किया गया। 


नई दिल्ली में अटल आदर्श विद्यालय में शिक्षक ए एच खान ने बताया कि बच्चे प्रधानमंत्री को मिले उपहारों और स्मृति चिन्हों को देखकर बहुत खुश हुए।


मैं ए एच खान अटल आदर्श विद्यालय लोधी रोड से हूं।आज प्रदर्शनी में हमारे स्‍कूल के बच्‍चे आए हुए हैं और बहुत ही उत्‍सुकता के साथ इस प्रदर्शनी को देखा। इसमें मोदी जी को इंटरनेशनल लेवल पे जो कुछ भी मिला है गिफ्ट के तौर में वो यहां ला कर के वो जमा करते हैं और इसका जो भी बिकता है इसकी जो प्राइस होती है ये सारा जो है नमामि गंगे में जाता है। बच्‍चे बहुत खुश हैं और उनको नई-नई जानकारियां मिल रही हैं। फिर उनको एक पैकेट भी मिला हुआ है खाने के लिए। बच्‍चे बहुत खुश हैं।


--------------------

भारत ने अमरीका में कैलिफोर्निया के लिए गुजरात के खेड़ा जिले के नाडियाड से पादप-आधारित मांस उत्‍पादों की पहली खेप भेजी है। अनूठे कृषि प्रसंस्‍कृत खाद्य उत्‍पादों के निर्यात को बढावा देने के लिए कृषि और प्रसंस्‍कृत खाद्य उत्‍पाद निर्यात प्राधिकरण-एपीडा ने विगन फूड श्रेणी के तहत पादप-आधारित मांस उत्‍पादों की पहली खेप का निर्यात सुगम बनाया है।


--------------------

अंत में मुख्य समाचार एक बार फिर :


  • प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्यों के पर्यावरण मंत्रियों के राष्ट्रीय सम्मेलन को संबोधित किया। कहा-भारत जलवायु परिवर्तन के स्थायी समाधान के लिए नेतृत्‍व प्रदान करने की भूमिका में तेजी से उभर रहा है।

  • श्री मोदी ने राज्यों से पर्यावरण संरक्षण के सर्वोत्तम तरीकों को सीखने और पूरे देश में इसे सफलतापूर्वक लागू करने का आह्वान किया।

  • गृह मंत्री अमित शाह ने कहा-भारतीय जनता पार्टी लोगों की सेवा और विकास के लिए काम करती है। श्री शाह आज से दो दिन के बिहार दौरे पर।

  • प्रधानमंत्री के चुनिंदा भाषणों की पुस्‍तक का आज नई दिल्ली के आकाशवाणी भवन परिसर में विमोचन किया गया।

  • भारत ने रूस-यूक्रेन संघर्ष में आपसी द्वेष को तत्काल समाप्त करने का आह्वान किया।

  • केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा-भारत स्वच्छ ऊर्जा के परिदृश्य को बदलने की दिशा में लगातार काम कर रहा है।

  • राष्‍ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली में तेज वर्षा हुई। मौसम विभाग ने आज के लिए येलो अलर्ट जारी किया।

  • और, क्रिकेट में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच दूसरा अंतर्राष्‍ट्रीय टी-20 मैच आज शाम नागपुर में खेला जाएगा।


--------------------

લાઈવ ટ્વીટર ફીડ