સમાચાર ઊડતી નજરે
રાજ્યમાં કચ્છ-સૌરાષ્ટ્ર સહિત ઉત્તર, મધ્ય અને દક્ષિણ ગુજરાતમાં વરસાદ થયાના અહેવાલ.            ધોરણ 10 અને 12ના રિપિટર, ખાનગી, પૃથ્થક ઉમેદવારોની પરીક્ષા આગામી 15મી જુલાઇએ યોજાશે.            ગીર સોમનાથ જિલ્લાના ગામોમાં દરિયાઇ ક્ષાર પ્રવેશ નિયંત્રણ માટે 102 કરોડ રૂપિયાની યોજનાને રાજ્ય સરકારે મંજૂરી આપી.            વિશ્વના પ્રથમ નેનો યુરિયા લિક્વિડ ખાતરનો મુખ્યમંત્રી વિજય રૂપાણીએ ગાંધીનગરથી વિડિયો કોન્ફરન્સથી પ્રારંભ કરાવ્યો.            કેન્દ્રિય ગૃહમંત્રાલયે રાજ્યો અને કેન્દ્રશાસિત પ્રદેશોને કહ્યું છે કે કોવિડ પ્રતિબંધોની છૂટછાટમાં બેદરકારી ન રાખે.           


समाचार संध्या

2000 HRS
11.06.2021
मुख्य समाचार :-

  • प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल से शुरू हो रहे दो दिन के जी-7 शिखर सम्‍मेलन में वर्चुअल माध्‍यम से भाग लेंगे।

  • केन्‍द्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने दिल्‍ली सरकार की घर-घर राशन पहुंचाने की योजना की आलोचना की। उन्‍होंने कहा कि यह योजना राष्‍ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 का सीधा उल्‍लंघन है।

  • देश में उपचाराधीन कोविड मरीजों और दैनिक संक्रमित लोगों की संख्‍या में तेजी से गिरावट।

  • कोविड से स्‍वस्‍थ होने की राष्‍ट्रीय दर 94 दशमलव नौ-तीन प्रतिशत हुई।

  • देश में पिछले 24 घंटे में 91 हजार से अधिक लोगों में संक्रमण की पुष्टि।

  • रेलवे ने देश के 15 राज्‍यों में 29 हजार टन से अधिक तरल चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन की आपूर्ति की।

  • सडक परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने मान्‍यता प्राप्‍त चालक प्रशिक्षण केन्‍द्रों के लिए अनिवार्य नियमों की अधिसूचना जारी की।

  • दुनियाभर से सकारात्‍मक संकेतों के बीच सेंसेक्‍स और निफ्टी अब तक के सर्वोच्‍च स्‍तर पर पहुंचे।

  • फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में आज रात नोवाक जोकोविच का सामना मौजूदा चैंपियन राफेल नडाल से।

---------

कई राज्‍यों में कोरोना लॉकडाउन में राहत दी जा रही है। ऐसे में आपसे अपील है कि कोविड महामारी के प्रति कोई भी लापरवाही न बरतें। जब तक आवश्‍यक न हो, घर से बाहर न निकलें और इन आसान उपायों का पालन कर सुरक्षित रहें।

· मास्‍क लगायें।
· दो गज की सुरक्षित दूरी बनाये रखें।
· बार-बार हाथ धोएं, चेहरा साफ रखें।
· और टीका अवश्‍य लगवाएं

कोविड से संबंधित जानकारी और मार्गदर्शन के लिए राष्‍ट्रीय हेल्‍पलाइन काम कर रहीं हैं। इनके नंबर हैं- 011-2 3 9 7 8 0 4 6 और 1075

---------

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी कल 12 जून और 13 जून को जी-7 शिखर सम्‍मेलन में वर्चुअल माध्‍यम से भाग लेंगे। विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता अरिंदम बागची ने नई दिल्‍ली में मीडिया को यह जानकारी दी। इस समय ब्रिटेन जी-7 समूह की अध्‍यक्षता कर रहा है। उसने भारत के साथ दक्षिण अफ्रीका को अतिथि देशों के रूप में इस वर्चुअल सम्‍मेलन में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया है। श्री मोदी दूसरी बार जी 7 शिखर सम्‍मेलन में भाग लेंगे। ब्रिटेन ने जी-7 के अध्‍यक्ष के रूप में प्राथमिकता वाले चार क्षेत्रों की पहचान की है। ये क्षेत्र हैं - कोरोना वायरस से प्रभावित वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था को पटरी पर लाने के प्रयासों की अगुवाई करना तथा भविष्‍य में ऐसी महामारियों से निपटने के लिए सुदृढ़ ढांचा विकसित करना, मुक्‍त और निष्‍पक्ष व्‍यापार के जरिए भावी समृद्धि को प्रोत्‍साहन देना, जलवायु परिवर्तन से निपटना और जैवविविधता का संरक्षण तथा साझा मूल्‍यों और उदार समाज को प्रोत्‍साहन देना। वैश्विक अर्थव्‍यवस्‍था को महामारी से उबारने के साथ स्‍वास्‍थ्‍य और जलवायु परिवर्तन जैसे मुद्दों पर विचार-विमर्श होने की संभावना है।

------------

भारतीय जनता पार्टी के वरिष्‍ठ नेता और केन्‍द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दिल्‍ली सरकार की घर-घर राशन पहुंचाने की प्रस्‍तावित योजना की आलोचना की है। उन्‍होंने कहा कि दिल्‍ली सरकार की यह योजना राष्‍ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम 2013 का खुला उल्‍लंघन है। दिल्‍ली सरकार की मंशा पर प्रश्‍न चिन्‍ह लगाते हुए श्री प्रसाद ने पूछा है कि एक राष्‍ट्र एक राशन कार्ड योजना दिल्‍ली में क्‍यों नहीं लागू की जा रही है।


देश के 34 राज्‍यों और यूटी ने वन नेशन, वन राशन कार्ड को एडॉप्‍ट कर लिया। भारत के सिर्फ तीन प्रदेशों ने अभी तक वन नेशन, वन राशन कार्ड को इम्‍प्‍लीमेंट नहीं किया है, एक असम क्‍योंकि वहां आधार लेट से शुरू हुआ था उनकी स्‍थानीय समस्‍याएं थी, नागरिकता को लेकर और बाकी दो प्रदेश एक का नाम है बंगाल और दूसरे का नाम दिल्‍ली। मेरा सवाल है कि श्रीमान अरविन्‍द केजरीवाल से वन नेशन, वन राशन कार्ड को दिल्‍ली में क्‍यों नहीं लागू किया है।


श्री प्रसाद ने कहा कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम में लाभार्थियों को राशन केवल उचित मूल्य दुकानों से ही दिए जाने का प्रावधान है। यह पारदर्शी प्रावधान है और घर-घर राशन पहुंचाने की योजना से काला बाजारी होने की आशंका है। उन्होंने इन राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से भी आग्रह किया कि वे लाभार्थियों को आसानी से खाद्यान्न और अन्य लाभ उपलब्ध कराने के लिए इस योजना को लागू करें।

----------

केन्‍द्र सरकार ने कहा है कि देश में कोविड मरीजों और संक्रमित लोगों की दैनिक संख्‍या तेजी से कम हो रही है। इसके साथ ही स्‍वस्‍थ होने की दर बढकर 94 दशमलव नौ-तीन प्रतिशत हो गई है। स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय में संयुक्‍त सचिव लव अग्रवाल ने आज नई दिल्‍ली में संवाददाताओं को बताया कि 7 मई को देशभर में अब तक के सर्वाधिक चार लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए थे और इसकी तुलना में अब संक्रमित लोगों की दैनिक संख्‍या लगभग 78 प्रतिशत कम हो गई है।


हम पिछले पांच हफ्ते से ऑब्‍जर्व कर रहे हैं, जहां 7 मई को देश में चार लाख 14 हजार प्रतिदिन औसत के हिसाब से केसेज नोट किए गए थे, वह घटते-घटते दो लाख से कम 25 मई के समय पर, उसके बाद 7 जून को एक लाख से कम होते हुए आज 11 जून में 91 हजार 702 केसेज रिपोर्ट हुए है यानी कि अगर हम पीक से कम्‍प्रे‍जन में ऑब्‍जर्व करें, तो हम पाते है 78 परसेन्‍ट जो रिपोर्टे देश में ऑब्‍जर्व की गई है, उससे केसेज में कमी आई है।


संयुक्‍त सचिव ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान 91 हजार से अधिक लोग संक्रमित हुए। उन्‍होंने कहा कि पिछले सप्‍ताह औसत दैनिक संक्रमित लोगों की संख्‍या 31 प्रतिशत घट गई। श्री अग्रवाल ने कहा कि देश के 335 जिलों में दैनिक संक्रमित लोगों की संख्‍या घट गई है।


जहां वीक एंडिग 4 मई, 2021 में 531 जिले ऐसे थे देश में, जहां पर कि 100 से अधिक केसेज प्रति रोज के बेसिस पर रिकॉर्ड हो रहे थे। वह 9 जून तक घटते-घटते 96 डिस्‍ट्रीक रह गये है यानी कि ऐसे 335 जिले हैं देश में, जहां पर कि ओवरऑल केसेज में ड्रॉस्टिक रिडक्‍शन हमने ऑब्‍जर्व किया है।


इस समय देश में 11 लाख से अधिक कोविड मरीजों का उपचार चल रहा है। श्री अग्रवाल ने बताया कि पिछले एक महीने में उपचाराधीन कोविड मरीजों की संख्‍या लगभग 70 प्रतिशत कम हो गई।


जहां एक स्‍थायी पर ओवरऑल हमारे डेली केसेज रिपोर्ट जो हो रहे है वह कमी हम नोट कर रहे है। दूसरे स्‍थायी पर एक्टिव केसेज यानी कि वह केसेज जोकि हमारे आइदर होम आइसोलेशन और हॉस्पिटल में हमको मॉनिटर करना पड़ता है। हमने उसमें भी काफी कमी नोट की है, जो ओवरऑल हाई पीक इन टर्म्स ऑफ 37.45 लाख केसेज देश में 10 मई को नोट किया गया, वह अब घटते-घटते 11.21 लाख 11 जून को हम नोट कर रहे हैं।


श्री अग्रवाल ने कहा कि स्‍वस्‍थ होने की दर निरंतर बढ रही है। तीन मई को संक्रमण से स्‍वस्‍थ होने की दर 81 प्रतिशत से अधिक थी, जो अब 95 प्रतिशत के करीब पहुंच गई है। श्री अग्रवाल ने कहा कि 29 राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों में पिछले कुछ दिनों से दैनिक संक्रमित लोगों की तुलना में स्‍वस्‍थ होने वाले लोगों की संख्‍या अधिक बनी हुई है। श्री अग्रवाल ने बताया कि देश में विश्‍व का सबसे बडा कोविड टीकाकरण अभियान तेजी से चल रहा है और अब तक 24 करोड 61 लाख से अधिक कोविड टीके लगाए जा चुके हैं।


वैक्‍सीनेशन पर भी हम काम कर रहे हैं, जिसके तहत प्रॉयटी ऐज ग्रुप यानी कि हैल्‍थ केयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स एंड पीपुल अबव 45 ईयर्स उनको वैक्‍सीनेशन प्रोवाइड की जा रही है। साथ ही लिबलाइज पॉलिसी के तहत 18 टू 44 ईयर्स के ऐज ग्रुप को भी वैक्‍सीनेशन प्रोवाइड किया जा रहा है। हमने अब तक फस्‍ट डोज 19.85 करोड़ लोगों को देश में दी जा चुकी है। सेकेंड डोज 4.676 करोड़ देश में दी जा चुकी है। टोटल कवरेज ऑफ वैक्‍सीनेशन विच इज सेकेंड हार्इेस्‍ट इन द वर्ल्‍ड इवन टूडे इज अराउंड 24.61 करोड़ जोकि भारत में हम अब तक दे चुके हैं।

--------

केंद्र सरकार ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को अब तक 25 करोड़ 60 लाख से अधिक कोविड टीकों की आपूर्ति की है। इनमें केंद्र सरकार द्वारा निशुल्‍क उपलब्‍ध कराए गए और राज्य सरकारों द्वारा सीधे खरीदे गए टीके शामिल हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय ने जानकारी दी है कि अब तक 24 करोड़ 44 लाख से अधिक टीकों का इस्तेमाल किया जा चुका है। इसमें बर्बाद हुए टीके भी शामिल हैं। राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के पास एक करोड़ 17 लाख से अधिक टीके अब भी उपलब्ध हैं। 38 लाख 21 हजार से अधिक वैक्‍सीन अगले तीन दिन में उपलब्ध कराई जाएगी।

---------

नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ वी. के. पॉल ने कहा कि राष्‍ट्रीय सीरो सर्वेक्षण शुरू करने के लिए सभी प्रबन्‍ध कर लिए गए हैं। उन्‍होंने कहा कि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद-आईसीएमआर सर्वेक्षण का अगला दौर इसी महीने शुरू करेगा। उन्‍होंने कहा कि इससे देश में कोरोना वायरस के प्रभाव और इसकी वर्तमान स्थिति की पहचान करने में मदद मिलेगी। डॉ. पॉल ने आज संवाददाताओं से कहा कि राज्‍यों को भी कोरोना वायरस के प्रभाव को बेहतर ढंग से समझने के लिए अपने-अपने क्षेत्रों में सीरो सर्वेक्षण करना चाहिए। डॉ. पॉल ने कहा कि सीरो सर्वेक्षण के अलावा निगरानी, वायरस के म्‍यूटेशन और इसकी जीनोम सीक्‍वेंसिंग पर भी जोर दिया जाना चाहिए।


हमें एक नेशनल सीरो सर्वे को ही डिपेन्‍ड होकर ही नहीं करना होगा। हमें राज्‍यों को भी सीरो सर्वे करने के लिए प्रोत्‍साहित करना होगा। ये वक्‍त है उस काम को करने का और सर्विलेंस जो है हर ज्‍योग्राफी में हो, क्‍योंकि फैसले जो है वो स्‍टेट एंड सब-स्‍टेट एंड डिस्‍ट्रीक लेवल पर होने चाहिए इन चीजों के, उसी पर ही कंट्रोल करें।


कोविड टीकाकरण के बारे में डॉक्‍टर पॉल ने कहा कि देश में टीकाकरण की कुल संख्‍या जल्‍द ही 25 करोड के पार पहुंच जायेगी। डॉ. पॉल ने कहा कि कोविड टीकों की उपलब्‍धता बढाई गई है और लोगों से समय पर दूसरा टीका लगवाने की अपील की गई ।


वैक्‍सीन की तरफ आप देख रहे है कि एक्‍सप्‍लोरेशन हो रहा है। 25 करोड़ का आंकड़ा एक-दो दिन में पूरा होने की पूरी उम्‍मीद है। सेन्‍टर और स्‍टेट का जो तालमेल है वह और भी बढ़ेगा, प्रीक्‍योरमेंट और आसान होगी, जिनको एक डोज मिली है वो प्लीज दूसरी डोज लीजिए। हर डोज का हमने इस्तेमाल करना है। डोज की वेस्‍टेज का कोई मतलब नहीं है जहां भी वैक्‍सीन के सेन्‍टर बनेंगे, वहां जितना वैक्‍सीन जाता है वो यूज होना चाहिए। वैक्‍सीन हेजीटेंसी को पीछे हटाना है।


म्‍युकोर माइकोसिस फंगस के उपचार के लिए दवाओं की उपलब्‍धता के मुद्दे पर डॉक्‍टर पॉल ने कहा कि इस बीमारी के उपचार के लिए इस्‍तेमाल होने वाली दवा की उपलब्‍धता और आपूर्ति कई गुणा बढा दी गई है। उन्‍होंने फंगस रोधी दवा एम्‍फोटेरिसन-बी के तर्कसंगत उपयोग का भी आग्रह किया।

---------

देश में उपचाराधीन कोविड मरीजों की संख्‍या और घटकर 11 लाख 21 हजार 671 रह गई है। कल लगातार चौथे दिन एक लाख से कम लोगों में संक्रमण की पुष्टि हुई। इस दौरान 91 हजार 702 लोग संक्रमित हुए, जबकि एक लाख 34 हजार से अधिक मरीज ठीक हुए। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार देश में लगातार 29वें दिन नये मरीजों की दैनिक संख्‍या की तुलना में ठीक होने वालों की संख्या अधिक रही। संक्रमण से स्‍वस्‍थ होने की दर बढकर 94 दशमलव नौ-तीन प्रतिशत हो गई है। देश में अब तक 2 करोड़ 77 लाख 90 हजार से अधिक लोग कोरोना संक्रमण से स्वस्थ हो चुके हैं। पिछले 24 घंटों में कोविड से तीन हजार 403 मरीजों की मौत हुई है। इसके साथ ही मृतकों की संख्या 3 लाख 63 हजार 79 हो गई है।


भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद ने कहा है कि कोविड नमूनों की जांच क्षमता में काफी वृद्धि हुई है। अब तक 37 करोड 42 लाख कोविड जांच की जा चुकी है।

-----------

केन्‍द्र, कोविड महामारी के दौरान लोगों की सुविधा के लिए बनाई गई राष्‍ट्रीय स्‍तर की हेल्पलाइन नम्बर के बारे में लोगों को जागरूक कर रहा है। सूचना और प्रसारण मंत्रालय अपने विभिन्‍न विभागों के माध्‍यम से इन हेल्‍पलाइन के बारे में जागरूकता बढा रहा है।

विभिन्‍न हेल्‍पलाइन नंबर इस प्रकार हैं -
· कोविड संबंधी सवालों के जवाब देने के लिए स्‍वास्‍थ्‍य और परिवार कल्‍याण मंत्रालय की हेल्‍पलाइन है - 
1075
· महिला और बाल विकास मंत्रालय की चाइल्‍ड हेल्‍पलाइन - 1098 है।
· वरिष्‍ठ नागरिकों के लिए सामाजिक न्‍याय और आधिकारिता मंत्रालय का हेल्‍पलाइन नंबर है - 14567.
· मनोवैज्ञानिक सहायता के लिए राष्‍ट्रीय मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य और तंत्रिका विज्ञान संस्‍थान-निमहांस का नंबर है - 08 04 61 10 007
· आयुष कोविड परामर्श हेल्‍पलाइन नंबर है -1 4 4 4 3 और
· माई गाव व्‍हाट्स ऐप हेल्‍पडेस्‍क नंबर है- 
90 13 15 15 15.

---------

रेलवे ने देश के 15 राज्‍यों में 29 हजार टन से अधिक तरल चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन की आपूर्ति की है। आक्सीजन एक्सप्रेस ने अपना सफर 24 अप्रैल को महाराष्ट्र में ऑक्सीजन की आपूर्ति के साथ शुरू किया था। रेल मंत्रालय ने बताया कि चार सौ नौ ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस के माध्‍यम से देशभर में तरल चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन पहुंचाने का काम किया गया।

इनके जरिये 15 राज्‍यों - उत्तराखंड, कर्नाटक, महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु, हरियाणा, तेलंगाना, पंजाब, केरल, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, झारखंड और असम में चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन पहुंचाई जा रही है। ऑक्‍सीजन एक्‍सप्रेस ने देश के दक्षिणी राज्‍यों में 14 हजार आठ सौ टन से अधिक तरल चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन पहुंचाई है।

-----------

असम में कोविड संक्रमण की दर घटकर 2 दशमलव एक-छह प्रतिशत हो गई है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि राज्य में आज करीब एक लाख 70 हजार लोगों की कोविड जांच की गई, जिनमें से कुल तीन हजार छह सौ 66 लोग संक्रमित पाए गए।

---------

मेघालय में पिछले 24 घंटों के दौरान कोविड के 514 नए मामलों की पुष्टि होने के साथ ही राज्‍य में संक्रमित लोगों की संख्‍या बढकर चार हजार 993 हो गई है। राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य सेवा निदेशालय के अनुसार इस दौरान दस लोगों की मौत भी हुई है। इसके साथ ही मरने वालों की संख्‍या बढकर 714 हो गई है। हालांकि इस दौरान 526 मरीज ठीक हुए हैं। इसके साथ ही ठीक होने वाले कोविड रोगियों की संख्‍या बढकर 35 हजार 393 हो गई है।

----------

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर के दौरान कई ऐसे व्‍यक्ति और संगठन नायक बनकर सामने आए जो कोरोना रोगियों और उनके परिजनों के संकट के समय मददगार साबित हुए हैं। ऐसा ही एक संगठन है महाराष्ट्र के धुले जिले का पूर्णवाद युवा मंच


कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के दौरान विश्रामगृह तथा भोजनालयों के बंद होने के कारण, धुले के श्री भाऊसाहेब हीरे अस्पताल में उपचार ले रहे रोगियों के परिवार वालों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। इसे देखते हुए पूर्णवाड़ युवा फोरम ने इन रोगियों के परिजनों के लिए खाने के पैकेट्स बनाने की शुरुआत की. पिछले एक महीने से, करीब 200 खाने के पैकेट प्रतिदिन इन परिवारों तक पहुँचाए जा रहे हैं, जिनके परिजन कोविड या अन्य बीमारियों के कारण, धुले में अपना इलाज करवा रहे है.


श्री शुक्ल यजुर्वेद ब्राह्मण मंडल द्वारा प्रदान किए गए मणिकर्णिका भवन में हर रोज़ ताज़ा भोजन बनाने की व्यवस्था की गयी है, जिससे इन परिवारों को उनकी जरूरत के समय में मदद मिल रही है। धुले से नितिन जाधव के साथ, मैं निशा रानी, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

----------


जाने-माने फिल्म और थिएटर अभिनेता राजेंद्र गुप्ता ने कहा है कि किसी को भी कोविड टीकों के बारे में संदेह नहीं करना चाहिए। आकाशवाणी समाचार को एक विशेष संदेश में श्री गुप्ता ने बताया है कि उन्होंने दोनों टीके की डोज ली हैं और वे इसके बाद अच्छा महसूस कर रहे हैं।


मैंने कोविड वैक्‍सीन की दोनों डोज ले ली हैं और मैं बहुत-बहुत अच्‍छा और सुरक्षित महसूस कर रहा हूं। इस महामारी से लड़ने का एकमात्र इलाज है। कोविड की वैक्‍सीनेशन, वैक्‍सीनेशन की दोनों डोज और इसमें जरा भी संदेह, आनाकानी या कोताही नहीं बरतनी है। अपनी सुरक्षा के लिए अपने परिवार के लोगों की सुरक्षा के लिए, अपने दोस्‍तों और परिजनों की सुरक्षा के लिए यानी की हमारे पूरे समाज की सुरक्षा के लिए अपनी खुशी के लिए जरूरी है कि हम जल्‍द से जल्‍द वैक्‍सीनेशन की टीका लगवाएं। जिन्‍होंने अभी तक यह वैक्‍सीन नहीं ली वो प्‍लीज यह टीका लगवाएं।

----------

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने मान्यता प्राप्त चालक प्रशिक्षण केंद्रों के लिए अनिवार्य नियम अधिसूचित कर दिये हैं। ये नियम पहली जुलाई से लागू होंगे। मंत्रालय ने कहा है कि इससे ऐसे केंद्रों पर पंजीकृत उम्मीदवारों को उचित प्रशिक्षण और जानकारी प्रदान करने में मदद मिलेगी। मान्‍यता प्राप्‍त चालक प्रशिक्षण केंद्र उम्मीदवारों को गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए उपयोगी और समर्पित ड्राइविंग टेस्ट ट्रैक से लैस होंगे। इन केंद्रों पर सफलतापूर्वक परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन करते समय ड्राइविंग टेस्ट की आवश्यकता से छूट दी जाएगी, जो वर्तमान में क्षेत्रीय परिवहन कार्यालय में लिया जा रहा है। इससे चालकों को ऐसे मान्यता प्राप्त चालक प्रशिक्षण केंद्रों से प्रशिक्षण पूरा करने के बाद ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त करने में मदद मिलेगी। मंत्रालय ने कहा है कि देश में कुशल चालकों की कमी सड़क मार्ग क्षेत्र में प्रमुख मुद्दों में से एक है और सड़क नियमों की जानकारी की कमी के कारण बड़ी संख्या में सड़क दुर्घटनाएं होती हैं।

-------------

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारामन कल दिन में 11 बजे नई दिल्‍ली में वर्चुअल माध्‍यम से वस्‍तु और सेवा कर परिषद की 44वीं बैठक की अध्‍यक्षता करेंगी। इस बैठक में वित्‍त राज्‍य मंत्री अनुराग ठाकुर तथा राज्‍यों और केन्‍द्रशासित प्रदेशों के वित्‍त मंत्री तथा केन्‍द्र और राज्‍य सरकार के वरिष्‍ठ अधिकारी शामिल होंगे।

----------


आर्थिक जगत ----------

बम्‍बई शेयर बाजार का सेंसेक्‍स आज 174 अंक बढ़कर 52 हजार 475 के अब तक के सबसे ऊंचे स्‍तर पर बंद हुआ। नेशनल स्‍टॉक एक्‍सचेंज का निफ्टी भी 62 अंक बढ़कर 15 हजार सात सौ 99 अंक के स्‍तर पर बंद हुआ। अंतर-बैंकिंग मुद्रा बाजार में डॉलर के मुकाबले रुपया आज दो पैसे की मामूली गिरावट से 73 रुपये 8 पैसे प्रति डॉलर के स्‍तर पर रहा। मल्‍टी कमोडिटी एक्‍सचेंज में सोने का वादा भाव लगभग पूर्ण स्‍तर पर बने रहे। सोना 49 हजार 200 रुपये प्रति दस ग्राम के स्‍तर पर दर्ज हुआ। हालांकि चांदी का वादा भाव 580 रुपये की बढ़त से 72 हजार 580 रुपये प्रति किलोग्राम के स्‍तर पर रहे और अंतर्राष्‍ट्रीय बाजार में ब्रेंट क्रूड के वादा भाव बढ़त से 72 डॉलर 80 सेंट प्रति बैरल के स्‍तर पर दर्ज हुए।

-------

खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग-केवीआईसी ने उसके नाम का दुरूपयोग करने और खादी के नाम से उत्‍पाद बेचने के लिए अब तक एक हजार से अधिक निजी प्रतिष्‍ठान को नोटिस जारी किया है। सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्रालय ने आज कहा कि दिल्‍ली उच्‍च न्‍यायालय ने खादी प्राकृतिक पेंट के नाम से उत्‍पादन करने और बेचने के आरोपी गाजियाबाद के एक व्‍यवसायी को ऐसी गतिविधियों को तत्‍काल प्रभाव से रोकने का निर्देश दिया है। मंत्रालय ने कहा है कि खादी प्राकृतिक पेंट एक अनूठे प्रकार का पेंट है, जिसका उत्‍पादन गाय के गोबर से किया जाता है। इसे केवीआईसी ने विकसित किया है। फंगस और जीवाणु रोधी इस पेंट का शुभारंभ सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्री नितिन गडकरी ने इस वर्ष 12 जनवरी को किया था। मंत्रालय ने कहा कि यह पेंट तेजी से लोकप्रिय हुआ और देश के विभिन्‍न भागों से बडे पैमाने पर इसके लिए आर्डर प्राप्‍त हो रहे हैं। केवीआईसी के अध्‍यक्ष विनय कुमार सक्‍सेना ने कहा कि केवीआईसी ने खादी प्राकृतिक पेंट के उत्‍पादन या विपणन के लिए किसी भी बाहरी एजेंसी की सेवाएं नहीं ली हैं।

----------

भारतीय अक्षय ऊर्जा विकास संस्थान-आई.आर.ई.डी.ए. ने केन्‍द्र सरकार की उत्‍पादन से जुडी प्रोत्‍साहन योजना-पीएलआईएस के अन्‍तर्गत सौर ऊर्जा उत्‍पादन ईकाइयों की स्‍थापना के लिए निविदाएं आमंत्रित की हैं। इससे पहले केन्‍द्रीय मंत्रि‍परिषद ने देश में सोलर फोटो वोल्टिक मॉड्यूल के उत्‍पादन को बढावा देने के लिए चार हजार पांच सौ करोड़ रुपये की राशि मंजूर की थी। नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा मंत्रालय ने योजना के क्रियान्‍वयन के लिए आई.आर.ई.डी.ए. को मुख्‍य एजेंसी नियुक्‍त किया है। आवेदन जमा करने की अंतिम तिथि 30 जून है। सफल बोलीकर्ताओं के चयन की प्रक्रिया तीस जुलाई तक पूरी हो जाएगी।

-----------

खेल जगत की खबरों का, जिसमें देश और दुनियाभर में चल रहे खेल और खिलाड़ियों का लेखा-जोखा है।


फ्रेंच ओपन टेनिस टूर्नामेंट के पुरुष सिंगल्‍स के पहले सेमीफाइनल में जर्मनी के एलेक्‍जेंडर ज्‍वेरेव का मुकाबला ग्रीस के स्टेफानोस सितसिपास से हो रहा है। वहीं एक अन्‍य सेमीफाइनल में आज ही स्‍पेन के राफेल नडाल का मुकाबला विश्‍व के नंबर एक खिलाडी सर्बिया के नोवाक जोकोविच से होगा। जबकि कल महिला सिंगल्‍स फाइनल में विश्व की 31वें नंबर की खिलाड़ी रूस की अनासतासिया पावलिउचेंकोवा और चेक गणराज्य की बारबोरा क्रेजकिकोवा आमने-सामने होंगी।भारतीय पहलवान विनेश फोगाट 53 किलोग्राम वर्ग में पोलैंड रैंकिंग सीरीज के फाइनल में पहुंच गई हैं। इस मुकाबले में फोगाट ने 2019 की विश्व चैम्पियनशिप की कांस्य पदक विजेता एकातेरिना पोलेशचुक को 6-2 से पराजित किया। ग्रीको रोमन वर्ग में भारत के किसी पहलवान के ओलंपिक में क्वालीफाई न होने पर विदेशी विशेषज्ञ तेमो कासाराशविली को हटाया दिया है। हालांकि भारत की ओर से चार महिला सहित कुल आठ फ्रीस्टाइल पहलवानों ने ओलंपिक के लिए क्वालीफाई किया है। क्रिकेट में भारत की शैफाली वर्मा, हरमनप्रीत कौर, जेमिमा रॉड्रिग्स, स्मृति मंधाना और दीप्ति शर्मा द 100 महिला क्रिकेट टूर्नामेंट में हिस्सा लेंगी। शैफाली बर्मिघम फोएनिक्स से जुड़ेंगी जबकि हरमनप्रीत मैनचेस्टर ओरिजिनल्स के लिए खेलेंगी। इस टूर्नामेंट का आयोजन इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) द्वारा कराया जाएगा और इसे 100 गेंद के प्रारूप में खेला जाएगा। इंग्‍लैंड और न्‍यूजीलैंड के बीच बर्मिघम में दूसरे क्रिकेट टेस्‍ट मैच में इंग्लैंड ने आज सात विकेट पर 258 रन से आगे खेलना शुरू किया और और उसकी पूरी पारी 303 रन पर सिमट गई। सलामी बल्लेबाज रोरी बर्न्‍स ने 81, जबकि डेनियल लॉरेंस ने नाबाद 81 रन बनाए। नवीन सक्‍सेना स्‍पोट्स डेस्‍क।

---------

प्रसिद्ध पर्यावरणविद् और शिक्षाविद् प्रोफेसर राधामोहन का आज ओडिसा की राजधानी भुवनेश्वर में निधन हो गया। पेशे से शिक्षाविद् राधामोहन जी की गहरी रूचि पर्यावरण में थी और वे ओडिसा में जैविक खेती के क्षेत्र में मार्गदर्शक कार्यों के लिए जाने जाते हैं।


राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू और प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी सहित अन्य गणमान्य लोगों ने उनके निधन पर दुख व्यक्त किया।


राष्‍ट्रपति ने कहा है कि प्रोफेसर राधामोहन पर्यावरणविद् होने के साथ प्रेरक अर्थशास्‍त्री भी थे।

उपराष्‍ट्रपति ने कहा कि टिकाऊ जैविक खेती की विधियों के उपयोग से कृषि और जैव संरक्षण के क्षेत्र में प्रोफेसर राधामोहन का महत्‍वपूर्ण योगदान हमेशा याद किया जाएगा।


प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि श्री राधामोहन कृषि, विशेषकर सतत और जैविक खेती के प्रति समर्पित थे।

----------

राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद ने जानेमाने न्‍यूरोलॉजिस्‍ट डॉक्‍टर अशोक पनगढिया के निधन पर शोक व्‍यक्‍त किया है। एक ट्वीट में उन्‍होंने कहा कि देश ने एक श्रेष्‍ठ न्‍यूरोलॉजिस्‍ट खो दिया है जिनका चिकित्‍सा के क्षेत्र में महत्‍वपूर्ण योगदान रहा है।


प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भी डॉक्‍टर अशोक पनगढिया के निधन पर दु:ख व्‍यक्‍त किया है। श्री मोदी ने ट्वीटर पर कहा कि डॉक्‍टर अशोक पनगढिया ने असाधारण न्‍यूरोलॉजिस्‍ट के रूप में अपनी पहचान बनाई।

--------

संस्‍कृ‍ति संदेश में स्‍वतंत्रता सेनानी रामप्रसाद बिस्मिल को श्रद्धाजंलि -


11 जून,1897 को उत्तर प्रदेश के शाहजहॉपुर में जन्मे पं. रामप्रसाद ‘बिस्मिल‘ केवल क्रांतिकारी ही नहीं, बल्कि उच्चकोटि के कवि, शायर, साहित्यकार, इतिहासकार, अनुवादक और भाषाविद् भी थे। 11 वर्ष के क्रांतिकारी जीवन में रामप्रसाद ने कई पुस्तकें लिखीं और उन पुस्तकों को बेचकर मिले पैसों से हथियार खरीदकर क्रांति की मशाल जलाई। आज़ादी के बाद डॉ. मदनलाल ‘क्रांत‘ ने पं.रामप्रसाद बिस्मिल की लिखी पुस्तकों का संकलन कर उन्हें चार खण्डों में प्रकाशित किया है। बहुत कम लोगों को पता होगा, कि वो शक्ति दो हमें दयानिधि की रचना भी रामप्रसाद बिस्मिल ने की थी। डॉ. मदनलाल ‘क्रांत‘ ने बताया कि रामप्रसाद बिस्मिल ने ही वसंत पंचमी के दिन उस गीत की रचना की थी, जो बाद में क्रांतिकारियों के लिए प्रेरणा का स्रोत बना।


रामप्रसाद बिस्मिल की एक रचना को आजकल बहुत गुनगुनाया जाता। अंग्रेजी हुकूमत ने काकोरी काण्ड के लिए जब राम प्रसाद को फांसी की सज़ा सुनाई तो ‘बिस्मिल‘ ने कहा था-

मिट गया जब मिटने वाला, फिर सलाम आया तो क्या?
दिल की बर्बादी के बाद, उनका पयाम आया तो क्या?
ए दिले नादां मिटा, शय तू भी कूं ए यार में,
फिर तेरी नाकामियों के बाद, काम आया तो क्या?

19 दिसम्बर, 1927 को 30 साल की उम्र में क्रांतिकारी रामप्रसाद बिस्मिल हंसते हंसते फांसी चढ़ गये, लेकिन अपने पीछे छोड़ गये क्रांति का एक ऐसा संदेश, जिसे सुनकर आज भी नौजवानों के दिलों में देशभक्ति की ज्वाला धधक उठती है।

-----------

લાઈવ ટ્વીટર ફીડ