A- A A+
Last Updated : Sep 30 2020 10:29PM     Screen Reader Access
News Highlights
All 32 accused in Babri Masjid demolition case acquitted            India, China decide to implement five point agreement to ensure disengagement at all friction points along LAC            India successfully test-fires BrahMos supersonic cruise missile            UP govt constitutes three member SIT to probe Hathras rape case            Govt extends ITR filing date for Assessment Year 2019-20 till Nov 30           

Text Bulletins Details


दोपहर समाचार

1430 HRS
15.09.2020
मुख्य समाचार:

  • प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार में शहरी बुनियादी ढांचे और स्‍वच्‍छ जलापूर्ति के लिए 541 करोड रूपये लागत की सात परियोजनाओं की आधारशिला रखी।

  • बिहार में गंगा नदी को स्‍वच्‍छ बनाने के लिए छह हजार करोड रूपये लागत की 50 से अधिक परियोजनाओं को मंजूरी।

  • रक्षामंत्री राजनाथ सिंह पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर भारत और चीन के बीच गतिरोध पर लोकसभा में वक्तव्य देंगे।

  • देश में कोविड-19 से स्‍वस्‍थ होने की दर 78 दशमलव दो आठ प्रतिशत हुई। अब तक 38 लाख 59 हजार से अधिक लोग ठीक हुए।

  • संसद ने वायुयान संशोधन विधेयक-2020 पारित किया। नागर विमानन मंत्रालय के अंतर्गत मौजूदा प्राधिकरणों को वैधानिक दर्जा मिला।

  • देश में आज अभियन्‍ता दिवस मनाया जा रहा है।

-----

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने आज वीडि़यो कांफ्रेंस के जरिये बिहार में शहरी बुनियादी ढ़ांचे से संबंधित सात परियोजनाओं की आधारशिला रखी और शुभारंभ किया। इनमें से चार परियोजनाएं जलापूर्ति से संबंधित हैं जबकि दो, मलजल उपचार और एक, नदी क्षेत्र के विकास से जुडी है। इन परियोजनाओं की कुल लागत पांच सौ 41 करोड़ रुपये है। केन्‍द्र सरकार की इस योजना का कार्यान्‍वयन राज्‍य सरकार के शहरी विकास और आवासन विभाग के अंतर्गत बिहार शहरी बुनियादी ढांचा विकास निगम-बुडको द्वारा किया जा रहा है।

 

प्रधानमंत्री ने पटना के बेउर और कमलीचक में नमामि‍ गंगे परियोजना के अंतर्गत बनाये गये मलजल उपचार संयंत्रों का उद्घाटन किया। श्री मोदी ने सीवान नगर पालिका परिषद और छपरा नगर निगम क्षेत्र में अटल नवीकरण और शहरी परिवर्तन मिशन-अमृत मिशन के तहत निर्मित जलापूर्ति परियोजनाओं का भी शुभारंभ किया। इन परियोजनाओं से स्‍थानीय निवासियों को चौबीसों घंटे स्‍वच्‍छ पेयजल उपलब्‍ध होगा।

 

प्रधानमंत्री मोदी ने अमृत मिशन के अंतर्गत मुंगेर जलापूर्ति परियोजना की आधारशिला रखी। इससे मुंगेर नगर निगम क्षेत्र के निवासियों को पाइपलाइन के जरिये साफ पानी की आपूर्ति होगी। प्रधानमंत्री ने जमालपुर नगर पालिका परिषद क्षेत्र में जलापूर्ति परियोजना की भी आधारशिला रखी।

 

श्री मोदी ने नमामि गंगे के अंतर्गत निर्मित मुजफ्फरपुर नदी क्षेत्र विकास परियोजना की आधारशिला रखी। इसके तहत मुजफ्फरपुर के तीन घाटों- पूर्वी अखाड़ा घाट, सीधी घाट और चन्‍द्रवाड़ा घाट का विकास किया जायेगा। नदी क्षेत्र में शौचालय, सूचना केन्‍द्र और सुविधा केन्‍द्र जैसी बुनियादी सुविधाएं उपलब्‍ध करायी जायेंगी। इन सभी घाटों पर रोशनी का प्रबंध और समुचित सुरक्षा व्‍यवस्‍था भी की जायेगी। इस अवसर पर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार भी उपस्थित थे।

-----

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने कहा कि इन परियोजनाओं की आधारशिला, अभियंता दिवस के अवसर पर रखी जा रही है, जो देश के महान अभियंता एम विश्‍वेश्‍वरय्या की जयंती के उपलक्ष्‍य में मनाया जाता है। उन्‍होंने कहा कि देश के इंजीनियरों ने राष्‍ट्र और विश्‍व के निर्माण में अभूतपूर्व योगदान दिया है।


हमारे भारतीय इंजीनियरों ने हमारे देश के निर्माण में और दुनिया में भी अभूतपूर्व योगदान किया है। चाहे काम को लेकर समपर्ण हो या उनकी बारीक नजर भारतीय इंजीनियरों की दुनिया में एक अलग ही पहचान है। ये एक सच्चाई है और हमें गर्व है कि हमारे इंजीनियर देश के विकास को मजबूती से आगे बढ़ा रहे हैं। 130 करोड़ देशवासियों के जीवन को बेहतर कर रहे हैं। 

 

श्री मोदी ने कहा कि बिहार में गंगा नदी को स्‍वच्‍छ रखने के लिए छह हजार करोड़ रुपये की पचास से अधिक परियोजनाओं को मंजूरी दी गई है। उन्‍होंने कहा कि नमामि गंगे परियोजना लोगों की जीवनशैली में बदलाव लायेगी। गंगा नदी में प्रदूषित जल के प्रवाह को रोकने के लिए मलजल शोधन संयंत्र की स्‍थापना की गई है। प्रधानमंत्री ने कहा कि नमामि गंगे कार्यक्रम से डॉलफिन परियोजना और गंगा में जैवविविधता बनाये रखने में भी बहुत मदद मिलेगी।


नमामि गंगे मिशन के तहत बिहार सहित पूरे देश में 180 से अधिक घाटों के निर्माण का काम चल रहा है। इसमें से 130 घाट पूरे भी हो चुके हैं। देश में गंगा के किनारे कई जगहों पर आधुनिक सुविधाओं से युक्त रिवरफ्रंट पर भी काम तेजी से चल रहा है। पटना में तो रिवर फ्रंट का प्रोजेक्ट पूरा हो चुका है। मुजफ्फरपुर में भी ऐसा ही रिवर फ्रंट बनाने की परियोजना का शिलान्यास किया गया है।

   

प्रधानमंत्री ने कहा कि केन्‍द्र और बिहार सरकार के संयुक्‍त प्रयासों से राज्‍य में पेयजल और सीवर जैसी मूलभूत सुविधाओं में लगातार सुधार हो रहा है। पिछले चार से पांच वर्ष में अमृत मिशन के अंतर्गत केन्‍द्र और राज्‍य सरकार की योजनाओं के जरिये बिहार के शहरी क्षेत्रों में लाखों परिवारों तक जलापूर्ति की सुविधा दी गई। उन्‍होंने कहा कि जल जीवन मिशन के तहत पिछले एक साल में देशभर में दो करोड़ से अधिक पानी के कनेक्‍शन दिये गये। श्री मोदी ने कहा कि आज देश में एक लाख से अधिक परिवारों तक पाइप लाइन के जरिये जलापूर्ति हो रही है। 


बीते एक साल में जल-जीवन मिशन के तहत पूरे देश में दो करोड़ से ज्यादा पानी के कनेक्शन दिए जा चुके हैं, आज देश में हर दिन एक लाख से ज्यादा घरों को पाईप से पानी के नए कनेक्शन से जोड़ा जा रहा है। स्वच्छ पानी मध्यम वर्ग का गरीब का न सिर्फ जीवन बेहतर बनाता है बल्कि उन्हें अनेक गंभीर बीमारियों से भी बचाता है।

-----

इस अवसर पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतिश कुमार ने कहा कि राज्य में जो भी योजनाएं शुरु की जा रही है उन्हें समयसीमा के भीतर लागू किया जाएगा।


बिहार में जो योजनाएं हैं उन योजनाओं को स-समय पूरे तौर पर यहां क्रियान्वित किया जाएगा और जो कुछ भी अमृत योजना के अंतर्गत और जो योजनाओं का काम होना है  हाल ही में हम लोगों ने इसकी समीक्षा बैठक भी की है, ताकि तेजी से बाकी योजनाओं का भी काम हो जाए।

-----

केन्‍द्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने कहा कि डिजिटल आधारभूत संरचना का बिहार में बडे पैमाने पर विस्‍तार किया गया है और भारत नेट के माध्‍यम से आठ हजार सात सौ 43 पंचायतों को जोडा गया है। उन्‍होंने कहा कि इस समय राज्‍य में लगभग चार करोड लोग इंटरनेट का इस्‍तेमाल कर रहे हैं।


बिहार में टोटल 8743 ग्राम पंचायत है और लगभग 10-12 को छोड़कर जहां कुछ फोरेस्ट की समस्या है सारे जगह भारत नेट पहुंच गया है और जो इंटरनेट यूजर्स हैं आज उनकी संख्या बढ़कर 3.93 करोड़ हो गई है। यहां पर लगभग 35 हजार कॉमन सर्विस सेंटर भी हैं और पोस्टल ने या कॉमन सर्विस सेंटर ने इस कोविड में सैकड़ों करोड़ रूपए गरीबों के पास पहुंचाए हैं। 

----

निर्वाचन आयोग का दो सदस्‍यीय दल आज बिहार में आगामी विधानसभा चुनाव के सिलसिले में समीक्षा बैठक कर रहा है। इस दल में उपनिर्वाचन आयुक्‍त सुदीप जैन और चंद्रभूषण कुमार शामिल हैं।

 

इस दल ने आज भागलपुर में समीक्षा बैठक की, जिसमें कटिहार, किशनगंज तथा पूर्णिया सहित 12 जिलों के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक शामिल हुए।

-----

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा-एलएसी पर भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच चल रहे गतिरोध पर आज लोकसभा में वक्तव्य देंगे। इस मुद्दे पर बहस करने की विपक्ष की मांग के संदर्भ में रक्षामंत्री का बयान काफी महत्वपूर्ण होगा।

 

लोकसभा में आज सांसदों के वेतन, भत्ते और पेंशन संशोधन विधेयक 2020, आवश्यक वस्तु संशोधन विधेयक, 2020 और बैंकिंग विनियम संशोधन विधेयक, 2020 भी पेश किए जाएंगे।

 

वहीं, राज्यसभा में दिवालिया और दिवाला संहिता द्वितीय संशोधन विधेयक 2020 प्रस्तुत किये जाने की संभावना है।

-----

केन्द्र सरकार ने मीडिया में आई इन खबरों को खारिज कर दिया है कि नई भर्तियों की प्रक्रिया पर रोक लगा दी गई है। पत्र सूचना कार्यालय ने एक ट्वीट में बताया है कि यह खबर गुमराह करने वाली है। कार्यालय ने स्पष्ट किया है कि कर्मचारी चयन आयोग और संघ लोक सेवा आयोग जैसे सरकारी संगठनों के माध्यम से सरकारी भर्तियां सामान्य रूप से चल रही हैं।

----

राज्‍यसभा ने वायुयान संशोधन विधेयक-2020 पारित कर दिया है। यह विधेयक लोकसभा में पहले ही पारित हो चुका है। इस विधेयक के जरिये वायुयान अधिनियम, 1934 में संशोधन करने का प्रस्‍ताव है। इसमें नागर विमानन मंत्रालय के अंतर्गत तीन मौजूदा प्राधिकरणों को वैधानिक दर्जा दिये जाने का भी प्रावधान है। यह प्राधिकरण हैं- नागरिक विमानन महानिदेशालय, नागर विमानन सुरक्षा ब्‍यूरो और वायुयान दुर्घटना जांच ब्‍यूरो। प्रत्‍येक संस्‍था की अध्‍यक्षता महानिदेशक स्‍तर के अधिकारी करेंगे, जिनकी नियुक्ति केन्‍द्र सरकार करेगी। विधेयक में इन प्राधिकरणों को नये सिरे से परिभाषित किया गया है। विधेयक में जुर्माने की मौजूदा राशि अधिकतम दस लाख रुपये से बढ़ाकर एक करोड़ रुपये किया गया है। ये जुर्माना विमान में हथियार, विस्‍फोटक और अन्‍य घातक सामग्री ले जाने तथा हवाई अड्डे के एक चिन्हि्त विशेष स्‍थान के आसपास के दायरे के भीतर निर्माण या कोई ढांचा खड़ा करने पर लगाया जायेगा।

 

विधेयक पर चर्चा का जवाब देते हुए नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि निजीकरण से देश के हवाई अड्डों के विकास में मदद मिलेगी। श्री पुरी ने कहा कि दिल्‍ली और मुंबई हवाई अड्डों के निजीकरण से प्राप्‍त हुई 29 हजार करोड़ रुपये की राशि का इस्‍तेमाल देश के अन्‍य हवाई अड्डों के विकास में किया गया। विमान सुरक्षा मुद्दे पर श्री पुरी ने कहा कि सरकार इस मुद्दे पर कोई समझौता नहीं करेगी और भारत हवाई सुरक्षा नियामकों की ओर से तय विभिन्‍न कसौटियों पर अच्‍छे ढंग से काम कर रहा है। उड़ान और वंदे भारत योजना की प्रशंसा करते हुए उन्‍होंने कहा कि अन्‍य देशों से 16 लाख लोगों को स्‍वदेश लाया गया।

------

भारत, कोविड-19 के फैलाव को रोकने में सफल रहा है और दुनिया के अन्‍य देशों की तुलना में यहां प्रत्‍येक दस लाख की आबादी पर मरीजों और मृतकों का प्रतिशत बहुत कम है। भारत में प्रति दस लाख की आबादी पर तीन हजार तीन सौ बीस मामले दर्ज किए गए हैं, जबकि प्रति दस लाख पर 55 संक्रमितों की मौत हुई है। राज्‍यसभा में कोविड-19 महामारी और सरकार द्वारा किए गए उपायों पर अपना वक्‍तव्‍य देते हुए स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि भारत ने इस महामारी के फैलाव को रोकने के लिए कई कदम उठाए हैं।


डॉ. हर्षवर्धन ने बताया कि देश में संक्रमण से स्‍वस्‍थ होने की दर 78 प्रतिशत से भी अधिक है। उन्‍होंने कहा कि देश में तीस वैक्‍सीन निर्माता विकास के विभिन्‍न चरणों में है, जबकि पहला, दूसरा और तीसरा नैदानिक परीक्षण उन्‍नत चरणों में है। उन्‍होंने कहा कि भारत प्रति दिन दस लाख से अधिक नमूनों की जांच कर रहा है और अब तक पांच करोड से अधिक नमूनों की जांच की जा चुकी है।

-----

राज्‍यसभा में आज ये मांग उठाई गई कि कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए सामाजिक दूरी के स्‍थान पर शारीरिक दूरी शब्‍द का इस्‍तेमाल किया जाए। सदन में इस बात पर तर्क दिया गया कि सामाजिक दूरी कोरोना वायरस के मरीजों और उनके परिवारों को समाज के अन्‍य लोगों से दूर कर देती है इसलिए इस शब्‍द के प्रयोग को रोका जाना चाहिए।

 

शून्‍य काल के दौरान तृणमूल कांग्रेस के शांतनु सेन ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि कोरोना संक्रमण के संदर्भ में सामाजिक दूरी शब्‍द का इस्‍तेमाल किया जाता है, जिसके कारण कोविड-19 के मरीजों का सामाजिक बहिष्‍कार कर दिया जाता है। इस सलाह पर सहमति व्‍यक्‍त करते हुए सभापति एम. वेंकैया नायडू ने कहा कि इस मामले में सुरक्षित दूरी जैसे उपयुक्‍त शब्‍द का इस्‍तेमाल किया जाना चाहिए जिस पर ज्‍यादातर सदस्‍यों ने सहमति व्‍यक्‍त की।

---- 

राज्‍यसभा में आज आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्‍थान विधेयक 2020 विचार और पारित कराने के लिए रखा गया। इस विधेयक में आयुर्वेद शिक्षण और अनुसंधान संस्‍थान की स्‍थापना और इसे राष्‍ट्रीय महत्‍व के संस्‍थान का दर्जा देने का प्रस्‍ताव है। इसमें आयुर्वेद के तीन संस्‍थानों का एक ही संस्‍थान में विलय करने का भी प्रावधान है।

-----

वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारामन ने कहा है कि केन्‍द्र सरकार पोलावरम परियोजना पर खर्च होने वाली राशि जल्‍द ही आंध्र प्रदेश सरकार को जारी करेगी।

 

राज्‍यसभा में शून्‍यकाल के दौरान श्रीमती सीतारामन ने कहा कि इस मामले में राज्‍य के वित्‍त मंत्री के साथ बातचीत हो रही है। श्रीमती सीतारामन ने कहा कि बकाया राशि को मंजूरी देने के लिए वे केन्‍द्रीय जल संसाधन मंत्रालय के संपर्क में हैं। उन्‍होंने कहा कि केन्‍द्र सरकार को परियोजना से जुडी सी.ए.जी. की लेखा रिपोर्ट मिल गई है।

 

इससे पहले, वाई.एस.आर. कांग्रेस के विजयसाई रेड्डी ने सदन में ये मुद्दा उठाते हुए कहा कि परियोजना के लिए तीन हजार आठ सौ पांच करोड रुपये की राशि अभी जारी नही हुई है, जिससे इस परियोजना के कार्यान्‍वयन पर असर पड़ रहा है। उन्‍होंने केन्‍द्र सरकार से तत्‍काल राशि जारी करने को कहा, ताकि दिसंबर, 2021 की समय-सीमा के भीतर इसे पूरा किया जा सके।

----

देश में कोविड-19 से स्‍वस्‍थ होने की दर 78 दशमलव दो आठ प्रतिशत हो गई है। पिछले 24 घंटों के दौरान 79 हजार दो सौ 92 मरीज़ों को स्‍वस्‍थ होने के बाद अस्‍पताल से छुट्टी दे दी गई है। स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने बताया  कि अब तक 38 लाख 59 हजार तीन सौ 99 लोग ठीक हो चुके हैं। स्‍वस्‍थ होने वालों की संख्‍या में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और वर्तमान में संक्रमित लोगों की कुल संख्‍या 20 दशमलव तीन छह प्रतिशत रह गई हैं। मंत्रालय के अनुसार सरकार की टेस्ट, ट्रैक और ट्रीट रणनीति के प्रभावी क्रियान्वयन से मृत्‍युदर में कमी आई है और स्‍वस्‍थ होने की दर में बढोतरी हुई है। इस समय देश में इस संक्रमण से मरने वालों की दर एक दशमलव छह चार प्रतिशत रह गई  है। 

 

वर्तमान में देश में सक्रिय मामलों की संख्‍या नौ लाख 90 हजार 61 है। पिछले 24 घंटों के दौरान एक हजार 54 लोगों की इस वायरस से मौत हुई है। मृतकों का आंकड़ा 80 हजार 776 पर पहुंच गया है। पिछले 24 घंटों के दौरान 10 लाख 72 हजार 845 नमूनों की जांच की गई। देश में अब तक पांच करोड़ 83 लाख से अधिक नमूनों की जांच हो चुकी है। 

-----

राजस्थान में पिछले 24 घंटो के दौरान कोविड-19 के लगभग आठ सौ नए मामले सामने आने के बाद राज्‍य में संक्रमितों की संख्‍या 17 हजार चार सौ 68 हो गई है। हमारे संवाददाता ने खबर दी है कि राज्‍य में अब तक कुल एक लाख चार हजार नौ सौ 37 लोग इससे संक्रमित हुए हैं।


कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या के मामले में जोधपुर को पिछे छोड़ जयपुर पहले पायदान पर आ गया है। जयपुर में कुल संक्रमितों का आंकड़ा 15 हजार चार सौ 73 पर पहुंच गया है। राज्य में कोरोना संक्रमण के कारण 1257 लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है, जिनमें से 24 प्रतिशत लोग अकेले जयपुर के हैं। कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए जयपुर में कई व्यापारिक संगठनों ने बाजार शाम को जल्द बंद करने का निर्णय किया है, ताकि संक्रमण  के फैलाव को रोका जा सके।  इस बीच जयपुर हवाई अड्डे से अब घरेलू उड़ान धीरे-धीरे सामान्य होती जा रही है और उड़ानों की संख्या बढ़कर 26 हो गई है।  जितेन्द्र द्विवेदी, आकाशवाणी समाचार, जयपुर।

-----

कनार्टक में कोविड से प्रभावित लोगों के स्‍वस्‍थ होने की दर बढ़ी है। राज्‍य में कल आठ हजार 244 नये मामले सामने आए जबकि आठ हजार 865 मरीज़ों को इलाज के बाद छुट्टी दे दी गई।


देश में नगरों की श्रृंखला में बेंगलुरु का स्थान पहले नंबर पर आता है, जहां कोविड के सबसे ज्यादा प्रकरण दाखिल हुए हैं। बेंगलुरु का रिकवरी रेट 75.23 प्रतिशत है और मृत्यु प्रमाण 1.42 प्रतिशत। नगर में कोविड पॉजिटिविटी रेट 14.05 प्रतिशत है और एक्टीव प्रकरण प्रमाण 23.34 प्रतिशत है। नगर में अभी तक 15 हजार आठ सौ छह एक्टीव कंटेनमेंट जोन हैं, यहां अभी तक 12 लाख 35 हजार 880 कोविड टेस्ट किए गए हैं, जिसमें  एक लाख 73 हजार 628 पॉजिटिव पाए गए। एक लाख तीस हजार छह सौ 27 स्वस्थ हुए हैं और 2 हजार चार सौ 74 की मृत्यु हुई है। सुधीन्द्रा आकाशवाणी समाचार, बेंगलुरु।

----

महाराष्‍ट्र में कोविड को नियंत्रित करने के लिए राज्‍यव्‍यापी अभियान आज से शुरू हुआ। मेरा परिवार-मेरी जिम्‍मेदारी कार्यक्रम के तहत स्‍थानीय जनप्रतिनिधियों की सहाय‍ता से स्‍वास्‍थ्‍य दल प्रत्‍येक घर में जाकर परिवार के सदस्‍यों की स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी जानकारी लेगा और उनकी समस्‍याओं का वर्गीकरण किया गया।


मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा है कि राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के बीच जनजीवन धीरे-धीरे सामान्य होने की ओर बढ़ रहा है, ऐसे में वायरस की श्रृंखला को तोड़ना महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए एक नई जीवन शैली को अपनाकर इस वायरस के साथ जीना सीखना होगा। उन्होंने प्रशासन और जनप्रतिनिधियों से अपील की कि वे अपनी कोशि‍शे जारी रखे और मिशन माय फैमिली- माई रिस्पॉन्सिबिलिटी के तहत समाज के हर व्यक्ति तक पहुंचने की कोशिश करें। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर नागरिक को अपनी जिम्मेदारी को समझना होगा और अपने परिवार का ध्यान रखना होगा। इसी बीच, पड़ोसी ठाणे जिले में भिवंडी शहर के नागरिकों ने मिशन जीरो डेथ के तहत स्वास्थ्य परीक्षण शुरू किया है। मरीजों की संख्या पर रोक लगाने हेतू भिवंडी निजामपुर सिटी म्युनिसिपल कॉर्पोरेशन ने सभी हाउसिंग सोसाइटियों में परीक्षण शुरू कर दिया है। कुणाल शिंदे के साथ माधुरी पांगे, आकाशवाणी समाचार, मुंबई।

-----

आकाशवाणी से विशेषज्ञों की सलाह श्रृंखला में हम कोविड-19 पर वरिष्‍ठ चिकित्‍सकों की राय प्रसारित करते हैं।

 

मेदांता अस्‍पताल के मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के डॉ. सौरभ मेहरोत्रा ने कहा कि कोविड-19 से संबंधित अधिकतर समाचार से अपने को दूर रखना चाहिए, ताकि मानसिक रूप से परेशानी न बढ़े।


हम अपने आपको पॉजिटीव एडिक्शन में एंगेज करें जैसे राइटिंग, रीडिंग, क्रिएटिव आर्ट, सच एज ड्राईंग, पेंटिंग, गार्डनिंग, इस तरीके की चीजें, दीज आर  क्वालीफाईड, पॉजिटीव  एडिक्शन, म्यूजिक ये सब पॉजिटीव एडिक्शन है। ये स्ट्रैच रिड्यूज करने में हमारा बहुत मदद करते हैं। हम सोशली कनेक्टेड रहें एक-दूसरे से टेलीफोन कनर्वसेशन करें, बात करें लोगों से। 

----

आकाशवाणी का समाचार सेवा प्रभाग आज अपने फोन इन कार्यक्रम में कोविड-19 पर विशेष परिचर्चा प्रसारित करेगा। यह कार्यक्रम रात साढे नौ बजे से .एम. गोल्‍ड और अतिरिक्‍त मीटरों पर सुना जा सकता है।


इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के पूर्व महासचिव डॉ. नरेंद्र सैनी इस परिचर्चा में भाग लेंगे।

 

श्रोता, टोल‍-फ्री नम्‍बर 1 8 0 0 1 1 5 7 6 7  पर फोन करके विशेषज्ञ से सवाल पूछ सकते हैं। 0 1 1 2 3 3 1 4 4 4 4 पर भी सवाल पूछे जा सकते हैं। 

 

आप हमारे ट्वीटर हैंडल @airnews s पर हैशटैग Askair के जरिए से भी सवाल पूछ सकते हैं।

----

आत्‍मनिर्भर भारत श्रृंखला के अंतर्गत हम आज आपको ऐसे गैजेट के बारे में जानकारी दे रहे हैं जिसे पहनने से सुरक्षित दूरी के नियमों का पालन करने में मदद मिलेगी।

 

भारतीय प्रबंधन संस्‍थान, कोझिकोड के एक स्‍टार्टअप ने अनोखा यंत्र- वेली बैंड बनाया है, जो सुरक्षित दूरी का पालन नहीं किये जाने पर अलार्म बजाता है और बैंड पहनने वाले व्‍यक्ति को सतर्क करता है। यह यंत्र क्‍वाल-5 इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने विकसित किया है। इस स्‍टार्टअप की सहसंस्‍थापक एक महिला उद्यमी किरणमयी हैं।

 

वेली बैंड सुरक्षित दूरी के नियमों का पालन करने तथा स्‍थान और संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आये लोगों का पता लगाने में मदद करता है। वेली बैंड में दोबारा इस्‍तेमाल की जा सकने वाली बैटरी लगी है।

-----

देश आज अभियन्‍ता दिवस मना रहा है। यह दिन विख्‍यात इंजीनियर मोक्षगुंडम विश्‍वेश्वरय्या की जयंती पर मनाया जाता है।

 

सर एम. वी. के नाम से विख्यात विश्‍वेश्वरय्या मैसूरु शहर के उत्तर-पश्चिम उपनगर में कृष्ण राजा सागरा बांध के मुख्य इंजीनियर थे।

-----

इस अवसर पर उपराष्‍ट्रपति एम. वेकैंया नायडू ने आज भारत रत्‍न से सम्‍मानित अभियंता एम. विश्‍वेश्‍वरैया को श्रद्धांजलि अर्पित की। श्री नायडू ने देश के निर्माण में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाने वाले इंजीनियरों को बधाई देते हुए उनसे देश को नई ऊंचाईयों पर ले जाने का आह्वान किया। गृहमंत्री अमितशाह ने भी एम विश्‍वेश्‍वरैया को श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर श्री शाह ने कहा कि वे प्रतिभाशाली और कुशल इंजीनियरों को सलाम करते हैं जिन्होंने राष्ट्र के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

 

सूचना तथा प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने अपने संदेश में एम. विश्‍वेश्‍वरैया को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि इंजीनियर किसी भी समाज के मजबूत स्‍तम्‍भ होते हैं। 

-----

आज अंतर्राष्‍ट्रीय लोकतंत्र दिवस भी है। इस अवसर पर उपराष्‍ट्रपति एम. वेंकैया नायडू ने शुभकामनाएं देते हुए कहा कि लोकतंत्र आम आदमी को बोलने की ताकत देता है और यह सुनिश्चित करता है कि कानून की नजर में सभी बराबर हैं। उन्होंने देशवासियों से भारतीय लोकतंत्र की नींव को मजबूत करने तथा इसे और अधिक जीवंत बनाने की अपील की।

 

इस अवसर पर सूचना और प्रसारण मंत्री ने कहा कि लोकतंत्र सुशासन, जवाबदेही, नियंत्रण और संतुलन की सबसे बेहतर प्रणाली है।

-----

आकाशवाणी के समाचार सेवा प्रभाग से गांधी दर्शन श्रृंखला में विभिन्‍न विषयों पर महात्‍मा गांधी के विचारों पर रिपोर्ट प्रसारित की जा रही है।

 

महात्‍मा गांधी पर्यावरण के संरक्षण के प्रति बहुत ही सजग थे। 1909 में अपनी पुस्‍तक हिन्‍द स्‍वराज में उन्‍होंने भारतीयों को अनियंत्रित औद्योगिकरण और भौतिकवाद के खिलाफ सतर्क किया था। उन्‍होंने कहा था पृथ्‍वी, वायु, भूमि और जल की संपदा हमारे पूर्वजों से मिली विरासत नहीं है बल्कि ये हम पर हमारे बच्‍चों का ऋण है, जिसे हमें उसी रूप में वापस सौंपना है जिस रूप में ये हमें मिले हैं। महात्‍मा गांधी ने लालच और लोभ से प्रकृति के दोहन के खिलाफ आगाह किया था और इसके विवेकपूर्ण सदुपयोग के लिए कहा था।


लगभग 100 साल पहले महात्‍मा गांधी ने नदियों और अन्‍य जल निकायों को प्रदूषित करने पर लोगों की आलोचना की थी। उन्‍होंने कारखानाओं को धुएं और शोर से हवा को प्रदूषित करने के लिए भी आलोचना की। उनका मानना था कि भारत अपनी बड़ी आबादी और पश्चिम विकास मॉडल से पृथ्‍वी के संसाधनों को समाप्‍त कर सकता है। उन्‍होंने कहा था कि पृ‍थ्‍वी सभी मनुष्‍यों की जरूरत पूरी करने के लिए पर्याप्‍त संसाधन प्रदान करती है, लेकिन लालच पूरा करने के लिए नहीं। उनकी इस सलाह का पालन करना तभी संभव है जब व्‍यक्ति अपनी वास्‍तविक जरूरतों कृत्रिम चाहतों के बीच अन्‍तर कर सके। गांधी जी ने कहा था कि मनुष्‍य को खुद में वो बदलाव लाना चाहिए जो वो दुनिया में देखना चाहता है। महात्‍मा गांधी ने जो उपदेश दिया खुद उसका पालन और अभ्‍यास किया। सुपर्णा सैकिया के साथ अनुपम मिश्र आकाशवाणी समाचार दिल्‍ली। 

-----

जम्मू- कश्मीर में सूचना और प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत पत्र सूचना कार्यालय और क्षेत्रीय लोक संपर्क ब्यूरो ने संयुक्‍त रूप से एक भारत श्रेष्‍ठ भारत पहल पर एक वेबिनार का आयोजन किया। वेबिनार के दौरान तमिलनाडु तथा केन्‍द्र शासित प्रदेश जम्‍मू कश्‍मीर और लद्दाख के महत्‍वपूर्ण ऐतिहासिक पक्षों के साथ विशेष रूप से पर्यटन पर ध्‍यान केन्‍द्रि‍त किया गया। इस पहल का उद्देश्‍य विविध संस्‍कृति और परम्‍परा वाले दो राज्‍यों या केन्‍द्र शासित प्रदेशों को साथ लेकर वहां के लोगों को एक दूसरे की सांस्‍कृतिक विविधता से परिचित कराना और आपसी संपर्क को बढ़ावा देना है। एक भारत श्रेष्‍ठ भारत पहल देश की एकता और अखंडता को मजबूत करने का सार्थक प्रयास है।

----

पद्म पुरस्‍कारों के लिए ऑनलाइन नामांकन और सिफारिश का आज अंतिम दिन है। अगले वर्ष गणतंत्र दिवस पर इन पुरस्‍कारों की घोषणा की जाएगी। पुरस्कारों के लिए नामांकन केवल पद्म अवार्डस पोर्टल पर ऑनलाइन स्‍वीकार किए जाएंगे।

-----

भारत के सीमा सुरक्षा बल- बी एस एफ और बांग्‍लादेश के बॉर्डर गार्ड बांग्‍लादेश- बी जी बी के बीच कल से ढाका में महानिदेशक स्‍तर की वार्ता होगी। सीमा सुरक्षा बल के चार सदस्‍यों का शिष्‍टमंडल कल ढाका पहुंचेगा। ये बैठक 18 सितम्‍बर को संपन्‍न होगी।


हालांकि, यह वार्ता 13 सितंबर से शुरू होनी थी, लेकिन उडान में तकनीकी खराबी के कारण इसे स्‍थगित कर दिया गया।

 

य‍ह अर्द्धवार्षिक वार्ता ढाका में बॉर्डर गार्ड्स बांग्‍लादेश के पिलखाना स्थित मुख्‍यालय में होगी।

 

बी एस एफ और बी जी बी के बीच होने वाली यह बैठक नियमित वार्ता का हिस्‍सा है। बैठक में सीमा प्रबंधन, सीमा पर बाड़ लगाने और विकास कार्यों पर चर्चा हो सकती है। पिछली बैठक दिसंबर 2019 में दिल्‍ली में हुई थी।

-----

छत्‍तीसगढ़ के बस्‍तर क्षेत्र में माओवादी समस्‍या के समाधान के लिए विशेष बल का गठन किया जाएगा।

मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल ने पुलिस विभाग को बस्‍तर विशेष बल गठित करने के निर्देश दिए हैं। रायपुर में कल एक बैठक में उन्‍होंने कहा कि बस्‍तर के संवेदनशील इलाकों के युवाओं को इस बल में भर्ती करना चाहिए। इससे न केवल रोज़गार सुनिश्चित होगा, बल्कि स्‍थानीय भाषा और इलाके के संबंध में पुलिस को मदद मिलेगी।

-----

भारत, संयुक्‍त राष्‍ट्र आर्थिक और सामाजिक परिषद के महिला स्थिति आयोग का सदस्‍य चुन लिया गया है। भारत 2021 से 2025 तक चार वर्ष के लिए इस प्रतिष्‍ठित संस्‍था का सदस्‍य रहेगा।

 

संयुक्‍त राष्‍ट्र में भारत के स्‍थायी प्रतिनिधि टीएस तिरूमूर्ति ने कहा कि यह चयन स्‍त्री-पुरूष समानता और महिला सशक्तीकरण के प्रति भारत की प्रतिबद्धता की पुष्टि है।

 

महिला स्थिति आयोग के सदस्‍यों के लिए हुए चुनाव में भारत, अफगानिस्‍तान और चीन ने भाग लिया था। 54 सदस्‍यों के बीच भारत और अफगानिस्‍तान को जीत हासिल हुई जबकि चीन को आधे से भी कम मत मिले।

-----

मौसम:

राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्ली में आंशिक रूप से बादल छाये रहने की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा।

 

मुम्‍बई में आसमान बादलों से घिरा रहेगा और सामान्‍य वर्षा हो सकती है। तापमान 25 से 32 डिग्री सेलसियस के बीच रहेगा।

 

चेन्‍नई में भी हल्‍की वर्षा हो सकती है। न्‍यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जबकि अधिकतम तापमान 32 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है।

 

कोलकाता में भी आंशिक रूप से बादल छाए रहने और गरज के साथ आंधी -वर्षा की संभावना है। न्‍यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ, जबकि अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।

 

केन्‍द्र शासित प्रदेश जम्‍मू-कश्‍मीर के जम्‍मू में न्‍यूनतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस रहा, अधिकतम 35 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहेगा। आसमान साफ रहेगा।

 

गिलगित और मुजफ्फराबाद में भी आसमान साफ रहने का अनुमान व्‍यक्‍त किया गया है। गिलगित में न्‍यूनतम तापमान 15 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया और अधिकतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है।

 

मुजफ्फराबाद में न्‍यूनतम तापमान 24 डिग्री सेल्सियस रहा, जबकि अधिकतम 37 डिग्री सेल्सियस रहने का अनुमान है। समाचार कक्ष से प्रियंका अरोड़ा।

----

बंगलादेश के वाणिज्‍य मंत्रालय ने आगामी दुर्गा पूजा के मद्देनज़र भारत को सीमित मात्रा में हिल्‍सा मछली निर्यात करने की विशेष अनुमति दी है।

 

वाणिज्‍य मंत्रालय ने नौ व्‍यापारियों को लगभग डेढ़ हज़ार टन हिल्‍सा मछली भारत को भेजने की अनुमति दी है। निर्यात की अनुमति दस अक्‍टूबर तक होगी।

-----


Live Twitter Feed

Listen News

Morning News 30 (Sep) Midday News 30 (Sep) Evening News 30 (Sep) Hourly 30 (Sep) (1910hrs)
समाचार प्रभात 30 (Sep) दोपहर समाचार 30 (Sep) समाचार संध्या 30 (Sep) प्रति घंटा समाचार 30 (Sep) (2200hrs)
Khabarnama (Mor) 30 (Sep) Khabrein(Day) 30 (Sep) Khabrein(Eve) 29 (Sep)
Aaj Savere 30 (Sep) Parikrama 30 (Sep)

Listen Programs

Market Mantra 30 (Sep) Samayki 9 (Aug) Sports Scan 30 (Sep) Spotlight/News Analysis 30 (Sep) Employment News 30 (Sep) World News 30 (Sep) Samachar Darshan 22 (Mar) Radio Newsreel 21 (Mar)
    Public Speak

    Country wide 12 (Mar) Surkhiyon Mein 30 (Sep) Charcha Ka Vishai Ha 11 (Mar) Vaad-Samvaad 17 (Mar) Money Talk 17 (Mar) Current Affairs 6 (Mar) Sanskrit Saptahiki 26 (Sep) North East Diary 26 (Sep)